Thank you for visiting our website.

For any assistance please call on 1800-209-0144

Claim Assistance
  • दावा सहायता संपर्क

  • स्वास्थ्य निशुल्क संपर्क 1800-103-2529

  • 24x7 रोडसाइड असिस्टेंस 1800-103-5858

  • ग्लोबल ट्रेवल हेल्पलाइन +91-124-6174720

  • विस्तारित वारंटी 1800-209-1021

  • फसल दावा 1800-209-5959

Get In Touch

Thank you for visiting our website.

For any assistance please call on 1800-209-0144

बजाज आलियांज़ इंश्योरेंस पॉलिसी में रुचि दिखाने के लिए धन्यवाद, इस प्रोसेस में आपकी सहायता करने के लिए हमारे ग्राहक सेवा अधिकारी जल्द ही आपको कॉल करेंगे.

कॉल बैक करें

कृपया नाम लिखें
+91
कृपया मान्य मोबाइल नं. दर्ज करें
कृपया मान्य विकल्प का चयन करें
कृपया चेकबॉक्स चुनें

डिस्क्लेमर

मैं बजाज आलियांज़ जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड को एक सुविधाजनक समय पर कॉल बैक करने के विशिष्ट अनुरोध के साथ वेबसाइट पर उपलब्ध कॉन्टैक्ट नंबर पर कॉल करने के लिए अधिकृत करता/करती हूं. मैं आगे घोषणा करता/करती हूं कि, पूरी तरह या आंशिक रूप से ब्लॉक की गई श्रेणी के तहत राष्ट्रीय ग्राहक प्राथमिकता रजिस्टर (एनसीपीआर) पर रजिस्टर किए जाने के बावजूद, मेरे अनुरोध के जवाब में भेजे गए कोई भी कॉल या एसएमएस का अनावश्यक कमर्शियल कम्युनिकेशन नहीं माना जाएगा, भले ही कॉल की सामग्री विभिन्न इंश्योरेंस प्रोडक्ट और सर्विस या इंश्योरेंस बिज़नेस की आग्रह और खरीद के उद्देश्यों के लिए हो सकती है. इसके अलावा, मैं समझता/समझती हूं कि इन कॉल को क्वालिटी और ट्रेनिंग के उद्देश्यों के लिए रिकॉर्ड और मॉनिटर किया जाएगा, और अगर आवश्यकता हो, तो मेरे लिए उपलब्ध कराया जा सकता है.

हेल्थ इंश्योरेंस

कैशलेस ट्रीटमेंट 8,000 + नेटवर्क हॉस्पिटल्स में

इन-हाउस हेल्थ ऐडमिनिस्ट्रेशन टीम

हेल्थ प्राइम राइडर के साथ 09 प्लान/विकल्पों के लिए कवर

*IRDAI द्वारा अप्रूव्ड इंश्योरेंस प्लान के अनुसार, सभी बचत इंश्योरर द्वारा प्रदान की जाती है. मानक नियम व शर्तें लागू

 

What is Health Insurance

हेल्थ इंश्योरेंस क्या है?

हेल्थ इंश्योरेंस या मेडिकल इंश्योरेंस एक इंश्योरेंस प्रॉडक्ट है, जो बीमारी या चोट की स्थिति में खर्चों के लिए कवरेज प्रदान करता है. हेल्थ इंश्योरेंस प्लान हॉस्पिटलाइज़ेशन, दवाओं, कंसल्टेशन आदि से संबंधित खर्चों पर आपकी मेहनत की कमाई को खर्च होने से बचाते हैं. हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को आपके और आपके इंश्योरर के बीच एग्रीमेंट के रूप में भी देखा जा सकता है, जिसके तहत किसी भी मेडिकल एमरजेंसी के मामले में आपको फाइनेंशियल रूप से कवर किया जाता है.

भारत में कई प्रकार की हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी हैं. अपने लिए और अपने परिवार के लिए उपयुक्त पॉलिसी चुनना आवश्यक है, ताकि जब भारी मेडिकल बिल का भुगतान करने की बात आए, तो आपको चिंता न हो. आपको न केवल अपनी पॉलिसी के साथ उपचार की लागत के लिए कवर मिलता है, बल्कि एक लोकप्रिय नेटवर्क हॉस्पिटल में कैशलेस ट्रीटमेंट और क्वालिटी हेल्थकेयर जैसी सुविधाएं भी मिलती हैं.

 

2023 में हेल्थ इंश्योरेंस की क्या आवश्यकता है?

दवाओं और हॉस्पिटल के इलाज की कीमतें दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही हैं, इसलिए प्रभावी मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसी आवश्यक है. अगर आपके साथ कोई दुर्घटना हो जाती है या आप गंभीर बीमारी से ग्रस्त हो जाते हैं, तो इससे आपके और आपके परिवार पर एक बड़ा फाइनेंशियल बोझ पड़ सकता है. आप इस सच से इंकार नहीं कर सकते हैं कि चाहे आप प्लानिंग करके हॉस्पिटल में उपचार कराएं या अप्रत्याशित कारणों से उपचार कराने की स्थिति उत्पन्न हुई हो, यह सुनिश्चित है कि आपको भारी लागत लगेगी. इसलिए, हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी से सुरक्षित होना बेहतर है, जो आपके फाइनेंस की बचत करने के अलावा बहुत ही किफायती प्रीमियम दरों पर कई अन्य लाभ भी प्रदान करती है. आप विभिन्न हेल्थ इंश्योरेंस की कीमतों को ऑनलाइन देख सकते हैं और अपने बजट के अनुसार सबसे उपयुक्त प्राप्त कर सकते हैं.

 

यहां 5 कारण दिए गए हैं, जो आपको सही हेल्थ इंश्योरेंस प्लान लेने के महत्व को बताएंगे:

  • फाइनेंशियल सहायता : आपकी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी, अपनी जेब से भारी मेडिकल बिल का भुगतान करने के आपके बोझ को कम करेगी. आप मेहनत से कमाए गए पैसे की अधिकांश राशि मेडिकल केयर पर खर्च करने के बजाय, इसका उपयोग अपने जीवन को बेहतर तरीके से जीने के लिए कर सकते हैं. अगर आप प्रीमियम दरों के बारे में चिंतित हैं, तो चिंता न करें, क्योंकि आप बहुत किफायती प्रीमियम लागत पर उपयुक्त हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी प्राप्त कर सकते हैं. आपको फैमिली डिस्काउंट जैसी छूट भी मिलती है, जो आपको अपेक्षाकृत कम प्रीमियम का भुगतान करते हुए मेडिकल इंश्योरेंस प्लान के कवरेज को जारी रखने की सुविधा प्रदान करता है.

  • क्वालिटी मेडिकल केयर : अगर आप नेटवर्क हॉस्पिटल में अपना इलाज कराने का निर्णय लेते हैं, तो आप कैशलेस क्लेम और क्वालिटी मेडिकल केयर का लाभ उठा सकते हैं. नेटवर्क हॉस्पिटल, एक ऐसा हॉस्पिटल है, जिसका आपकी हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी के साथ एक एग्रीमेंट होता है और यह आपको अपनी जेब से पैसे खर्च किए बिना बेहतर इलाज पाने में सक्षम बनाता है.

  • टैक्स में बचत : भारत में अगर आप अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के लिए भुगतान करते हैं, तो इनकम टैक्स एक्ट 80D के तहत आपको टैक्स में छूट मिलेगी. अगर आप अपने और अपने प्रियजनों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदते हैं, और अगर आप और आपके माता-पिता सीनियर सिटीज़न हैं, तो आप टैक्स में रु. 1 लाख की अधिकतम राशि का लाभ उठा सकते हैं.

  • व्यापक कवरेज : हेल्थ इंश्योरेंस प्लान्स आपको न केवल हॉस्पिटलाइजेशन के खर्चों के लिए कवर करते हैं, बल्कि गंभीर बीमारियों, दुर्घटना में लगी चोट, गर्भावस्था संबंधी खर्च, परामर्श, चेक-अप और ऐसे ही अन्य मेडिकल खर्चों के लिए कवर प्रदान करते हैं. ये व्यापक कवरेज विभिन्न प्रकार की हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के रेंज के माध्यम से प्रदान किया जाता है.

  • मन की शांति: अगर आप फाइनेंशियल रूप से सुरक्षित हैं, तभी हॉस्पिटल में भर्ती होने पर आपको कम तनाव महसूस होगा. मेडिकल इंश्योरेंस होने से आपको मन की शांति मिलती है, जो आपको तनावपूर्ण स्थिति में आपको शांत रहने में मदद कर सकती है.

देश में विभिन्न कंपनियों द्वारा प्रदान किए जाने वाले हेल्थ इंश्योरेंस में कई विशेषताएं और लाभ शामिल होते हैं. आपको इन पॉलिसी की जानकारी लेनी चाहिए और अपने लिए सबसे बेहतर हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी चुननी चाहिए.

 

भारत में हेल्थ इंश्योरेंस के प्रकार

हेल्थ इंश्योरेंस कवर खरीदना महत्वपूर्ण है. फिर भी, कई बार ऐसा होता है, जब लोग उचित कवर खरीदने से हिचकिचाते हैं. अक्सर, लोग उपलब्ध हेल्थ इंश्योरेंस के प्रकार को लेकर भ्रमित हो जाते हैं.

पॉलिसी खरीदते समय, अपनी ज़रूरतों को पूरा करने वाले हेल्थ कवर को चुनना महत्वपूर्ण है. आइए, इंडिविजुअल और फैमिली फ्लोटर पॉलिसी के बीच मुख्य अंतर को समझने के साथ शुरू करें:

तुलना

व्यक्तिगत हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी

फैमिली फ्लोटर हेल्थ इंश्योरेंस

परिभाषा

इंडिविजुअल हेल्थ इंश्योरेंस वह पॉलिसी है, जिसमें प्रपोज़र और परिवार के सदस्यों को एक ही प्लान में कवर किया जा सकता है. हालांकि, पॉलिसी में प्रत्येक इंश्योर्ड सदस्य के लिए सम इंश्योर्ड अलग-अलग (यानी, शेयर नहीं किया जाता है) होता है.

फैमिली फ्लोटर पॉलिसी एक प्रकार की हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी है, जिसमें एक प्लान के तहत परिवार के कई सदस्यों को कवर किया जा सकता है. यहां, एक प्लान में परिवार के सभी सदस्यों के बीच सम इंश्योर्ड शेयर किया जाता है.

सम इंश्योर्ड

सम इंश्योर्ड प्रत्येक इंश्योर्ड सदस्य के लिए अलग-अलग होगा.

पूरे परिवार को एक ही सम इंश्योर्ड के तहत कवर किया जाता है

कवरेज

The insurance benefit is extended to the primary insured member and dependent family members that include self, spouse, children, parents, parents-in-law, sister, brother, grandchildren, aunt, and uncle. However, each insured member will have a sum insured of their own.

The policy benefit is extended to the primary insured member and dependent family members that include spouse, and dependent children, dependent parents.

प्रीमियम

Since, in an individual policy, the sum insured is separate for each family member and thus, the premium is the determining basis of the sum insured, coverage opted and each member’s age.

This type of plan is cost-effective as it is one premium is paid for all the members of the family. Premium is decided according to the age of the eldest member covered under the plan.

 

  • Individual Health Insurance

    इंडिविजुअल हेल्थ इंश्योरेंस

    इंडिविजुअल हेल्थ पॉलिसी के तहत, प्रपोज़र और परिवार के आश्रित सदस्यों को अलग-अलग सम इंश्योर्ड के साथ प्लान में कवर किया जा सकता है. इसलिए, अगर आप परिवार के सदस्यों के साथ अपनी भी सुरक्षा चाहते हैं और जहां आपको अपना सम इंश्योर्ड शेयर नहीं करना है, तो आप इंडिविजुअल इंश्योरेंस प्लान चुनने पर विचार करें. आप हमारे इंश्योरेंस प्लान के साथ 8000+ नेटवर्क हॉस्पिटल्स में कैशलेस ट्रीटमेंट का लाभ उठा सकते हैं.

    इसकी कुछ प्रमुख विशेषताएं जानें इंडिविजुअल हेल्थ इंश्योरेंस

     

    • एक से अधिक सम इंश्योर्ड विकल्प
    • Cover for pre- and post-hospitalisation
    • Covers day-care procedures, extended family
    • आयुर्वेदिक और होम्योपैथिक उपचार को शामिल करता है
    • रोड एम्बुलेंस कवर
    • डेली कैश बेनिफिट

     

  • Family Health Insurance

    फैमिली हेल्थ इंश्योरेंस

    मेडिकल खर्च की स्थिति हमेशा अप्रत्याशित रूप से सामने आती है. इसलिए, आपके पोर्टफोलियो के हिस्से के रूप में बेहतर हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी लेना महत्वपूर्ण हो जाता है. फैमिली फ्लोटर पॉलिसी, आपको एक ही प्रीमियम भुगतान के साथ एक ही इंश्योरेंस प्लान के भीतर परिवार के कई सदस्यों को शामिल करने की सुविधा देती है. इस प्रकार की पॉलिसी के तहत, प्लान में कवर किए गए सभी सदस्यों द्वारा सम इंश्योर्ड शेयर किया जाता है, जिससे परिवार को एक किफायती इंश्योरेंस प्रीमियम पर सुरक्षित किया जाता है.

    इसकी कुछ प्रमुख विशेषताएं जानें फैमिली हेल्थ इंश्योरेंस

    • आश्रित परिवार के सदस्यों के लिए कवर
    • Day-care procedures cover
    • Pre- and post-hospitalisation
    • कॉन्वॉलसेंस बेनिफिट
    • बेरिएट्रिक सर्जरी कवर
    • सम इंश्योर्ड रीइंस्टेटमेंट
  • Health Insurance for Senior Citizens

    सीनियर सिटीज़न के लिए हेल्थ इंश्योरेंस

    As a person ages, the body starts showing different signs that indicate ailments that may happen because of age-related problems. Hence, it becomes important to be prepared for the golden days. Health insurance for senior citizens acts as a shield in case of any such medical condition during old age and doesn't leave them in financial distress.

    इसकी कुछ प्रमुख विशेषताएं जानें सीनियर सिटीज़न के लिए हेल्थ इंश्योरेंस

    • पहले से मौजूद बीमारियों के लिए कम प्रतीक्षा अवधि
    • को-पेमेंट का अधित्याग
    • प्रवेश की उच्च आयु
    • क्युमुलेटिव बोनस
    • मुफ्त हेल्थ चेक-अप
  •  Critical Illness Insurance

    क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस

    रेगुलर हेल्थ प्लान हमेशा किसी भी गंभीर बीमारी से संबंधित खर्चों को कवर नहीं करता है. क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस प्लान बहुत उपयोगी है, क्योंकि यह जानलेवा बीमारियों की उच्च लागत वाले ट्रीटमेंट के लिए कवर प्रदान करता है. क्रिटिकल इलनेस पॉलिसी का प्रमुख लाभ यह है कि केवल लिस्ट में दर्ज गंभीर बीमारी के डायग्नोसिस पर ही लंपसम लाभ दे दिया जाता है और इसमें हॉस्पिटलाइज़ेशन अनिवार्य नहीं है

    हमारा क्रिटिकल इलनेस प्लान, क्रिटी केयर निम्न सहित 43 जानलेवा बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करता है:

    • एओर्टा की बड़ी सर्जरी
    • कैंसर
    • ओपन चेस्ट CABG
    • गंभीर फस्ट हार्ट अटैक
    • किडनी फेलियर
    • मेजर ऑर्गन ट्रांसप्लांट
    • नियमित लक्षणों के साथ मल्टीपल स्केलेरोसिस
    • स्थायी लकवा
    • स्ट्रोक के कारण स्थायी लक्षण आदि. 

    इसकी कुछ प्रमुख विशेषताएं जानें क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस

    • आपको और आपके परिवार के सदस्यों को कवर करता है.
    • 100% pay-out on diagnosis of listed critical illnesses.
    • एक से अधिक सम इंश्योर्ड विकल्प

     

  • Critical Illness Insurance for Women

    महिलाओं के लिए क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस

    महिलाओं के लिए क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस को विशेष रूप से 8 जानलेवा बीमारियों के जोखिम से बचाने के लिए डिज़ाइन किया गया है, जो किसी महिला को प्रतिकूल रूप से प्रभावित करता है. जानलेवा बीमारी के डायग्नोस होने पर यह लाभ गारंटीड कैश के रूप में लिया जा सकता है.

    महिलाओं के क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस के तहत कवर की जाने वाली 08 जानलेवा बीमारियों की जानकारी नीचे दी गई है:

    • ब्रेस्ट कैंसर 
    • फॉलोपियन ट्यूब कैंसर 
    • सर्वाइकल/गर्भाशय कैंसर 
    • ओवेरियन कैंसर 
    • वजाइनल कैंसर 
    • स्थायी लकवा
    • मल्टी ट्रॉमा
    • जलन

    महिलाओं के क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस की कुछ अतिरिक्त विशेषताएं

    • नौकरी के खोने का कवर
    • जन्मजात विकलांगता लाभ
    • बाल शिक्षा अधिलाभ
  •  Top Up Health Insurance

    टॉप अप हेल्थ इंश्योरेंस

    टॉप-अप हेल्थ पॉलिसी यह सुनिश्चित करती है कि अगर बेस मेडिकल इंश्योरेंस प्लान का सम इंश्योर्ड समाप्त हो जाता है, तो भी आपको कवर किया जाता है. टॉप-अप पॉलिसी मौजूदा इंश्योरेंस पॉलिसी के साथ अतिरिक्त या "टॉप-अप" कवर प्रदान करती है.

    इसकी कुछ प्रमुख विशेषताएं जानें टॉप अप हेल्थ इंश्योरेंस

    • मैटरनिटी कवर
    • हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले और बाद के खर्च
    • पूरे परिवार के लिए फ्लोटर कवर
    • पहले से मौजूद बीमारियों के लिए कम प्रतीक्षा अवधि
    • डे-केयर प्रोसीज़र

     

  • Personal Accident Insurance

    पर्सनल एक्सीडेंट इंश्योरेंस

    पर्सनल एक्सीडेंट पॉलिसी किसी भी मुसीबत के समय आपकी और आपके परिवार के सदस्यों की देखभाल करती है. यह दुर्घटना के समय कम्प्रीहेंसिव कवर प्रदान करता है और मुसीबत के समय में आपकी मदद करता है. इससे आप किसी भी अचानक होने वाली दुर्घटना के खर्चों से खुद को सुरक्षित कर सकते हैं. यह दुर्घटना के कारण होने वाली किसी भी शारीरिक चोट, मृत्यु या विकलांगता से आपको और आपके परिवार को कवर करता है

    इसकी कुछ प्रमुख विशेषताएं जानें पर्सनल एक्सीडेंट इंश्योरेंस

    • रु. 25 करोड़ तक का सम इंश्योर्ड
    • फैमिली कवर
    • बच्चों के लिए एजुकेशन बोनस
    • एडवेंचर स्पोर्ट्स बेनिफिट, एक्सीडेंटल हॉस्पिटलाइज़ेशन, कोमा केयर, फ्रैक्चर केयर आदि जैसे ऐड-ऑन लाभ.
  • Group Health Insurance

    ग्रुप हेल्थ इंश्योरेंस

    बढ़ते मेडिकल खर्चों के इन मुश्किल समय में, ग्रुप इंश्योरेंस पॉलिसी कर्मचारियों और उनके परिवारों की सुरक्षा के लिए सही है. यह दुर्घटना या बीमारी की स्थिति में हॉस्पिटलाइज़ेशन के दौरान किए गए मेडिकल ट्रीटमेंट को कवर करता है.

    ग्रुप हेल्थ इंश्योरेंस की कुछ प्रमुख विशेषताएं इस प्रकार हैं:

    • अस्पताल में भर्ती का खर्च
    • नर्सिंग शुल्क
    • पेसमेकर और इसी तरह के अन्य खर्चों की लागत

     

  • Health Insurance for Vector-borne Diseases

    वेक्टर-जनित रोगों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस

    वेक्टर-जनित बीमारियों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस एक ऐसा प्लान है, जो वेक्टर-जनित बीमारी के कारण हॉस्पिटलाइज़ेशन की वजह से होने वाले फाइनेंशियल खर्चों को कवर करता है. आम भाषा में कहें, तो आप अपनी चिंताओं को हम पर छोड़ सकते हैं क्योंकि यह फैमिली हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी डेंगू, मलेरिया, चिकुनगुनिया, ज़ीका वायरस आदि जैसी वेक्टर-जनित बीमारियों को विशेष रूप से कवर करता है.

    वेक्टर-जनित रोगों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस की कुछ प्रमुख विशेषताएं:

    • स्पाउस, आश्रित बच्चों और माता-पिता के लिए कवर
    • कैशलेस सुविधा
    • इंश्योरेंस राशि के कई विकल्प
    • आजीवन रिन्यूअल विकल्प

 

ऑनलाइन हेल्थ इंश्योरेंस प्लान्स

नीचे दिए गए टेबल में बजाज आलियांज़ जनरल इंश्योरेंस कंपनी के सभी ऑनलाइन मेडिकल इंश्योरेंस प्लान दिए गए हैं, जिसमें उनकी प्रमुख विशेषताएं और महत्वपूर्ण बातों की जानकारी दी गई हैं:

प्लान का प्रकार, और किसके लिए उपयुक्त है

प्लान का नाम

सम इंश्योर्ड

प्रमुख विशेषताएं

इन सभी बातों का ध्यान रखें

वैल्यू-एडेड लाभ

इंडिविजुअल और फैमिली हेल्थ इंश्योरेंस (बीमारी/चोट से संबंधित बड़े खर्चों के लिए लाभों और कवर की कम्प्रीहेंसिव रेंज)

स्वास्थ्य रक्षक

(इंडिविजुअल और फ्लोटर पॉलिसी)

सिल्वर प्लान: ₹1.5/2 लाख

गोल्ड प्लान: ₹ 3/4/5/7.5/10/15/20/25/30/35/40/45/50 लाख

प्लैटिनम प्लान: रु. 5/7.5/10/15/20/25/30/35/40/45/50/75 लाख/1 करोड़

हॉस्पिटल में इन-पेशेंट मरीज़ के रूप में इलाज

हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले और बाद में

रोड एम्बुलेंस

डे-केयर प्रोसीज़र

ऑर्गन डोनर के लिए खर्च

कॉन्वॉलसेंस बेनिफिट

डेली कैश बेनिफिट

सम इंश्योर्ड रीइंस्टेटमेंट लाभ

प्रिवेंटिव हेल्थ चेक अप

बेरिएट्रिक सर्जरी कवर

आयुर्वेदिक/होम्योपैथिक

हॉस्पिटलाइज़ेशन के खर्च केवल गोल्ड और प्लैटिनम प्लान के लिए

मैटरनिटी खर्च केवल गोल्ड और प्लैटिनम प्लान के लिए

न्यूबॉर्न बेबी कवर केवल गोल्ड और प्लैटिनम प्लान के लिए

सुपर संचयी बोनस केवल प्लैटिनम प्लान के लिए

रीचार्ज लाभ केवल प्लैटिनम प्लान के लिए

पहले से मौजूद बीमारियों की प्रतीक्षा अवधि: 36 महीने

विशिष्ट प्रतीक्षा अवधि: 24 महीने

प्रारंभिक प्रतीक्षा अवधि: 30 दिन

मैटरनिटी प्रतीक्षा अवधि: 72 महीने

हेल्थ प्राइम राइडर

नॉन-मेडिकल खर्च राइडर

वेलनेस लाभ

मेडिकल खर्चों को कवर करने के लिए आकर्षक प्रीमियम पर कम्प्रीहेंसिव लाभ और अनलिमिटेड सम इंश्योर्ड

हेल्थ इन्फिनिटी (इंडिविजुअल पॉलिसी)

सम इंश्योर्ड पर कोई लिमिट नहीं

अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीज़ का उपचार

हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले और बाद में 

रोड एम्बुलेंस

डे-केयर प्रोसीज़र

प्रिवेंटिव हेल्थ चेक अप

प्रारंभिक प्रतीक्षा अवधि: 30 दिन

पहले से मौजूद बीमारियां: 36 महीने

विशिष्ट प्रतीक्षा अवधि: 24 महीने

भुगतान, क्षतिपूर्ति के आधार पर किए जाते हैं

आपके द्वारा चुने गए को-पेमेंट विकल्प को तब लागू किया जाएगा जब क्लेम की देय राशि चुनी गई रूम रेंट लिमिट के 100 गुना से अधिक हो जाएगी

को-पेमेंट, रूम रेंट की लिमिट के 100 गुना से ज़्यादा की राशि पर लागू होगा ना कि पूरे क्लेम पर

Arogya Sanjeevani Policy (A plan that protects you from the financial burden during hospitalisation)

आरोग्य संजीवनी

(इंडिविजुअल और फ्लोटर पॉलिसी)

हॉस्पिटलाइज़ेशन: रु. 1 लाख से रु. 25 लाख तक

आयुष ट्रीटमेंट: रु. 1 लाख से रु. 25 लाख तक

मोतियाबिंद के इलाज को प्रत्येक आंख के लिए सम इंश्योर्ड के 25% तक या रु. 40,000, जो भी कम हो, उस राशि तक कवर किया जाएगा

ट्रीटमेंट के नए तरीके: हॉस्पिटलाइज़ेशन सम इंश्योर्ड का 50%

अस्पताल में भर्ती का खर्च

हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले और बाद के खर्च

डे-केयर प्रोसीज़र

आयुष कवरेज

मोतियाबिंद के उपचार के खर्च

एम्बुलेंस खर्च

प्रारंभिक प्रतीक्षा अवधि: 30 दिन

पहले से मौजूद बीमारी: 48 महीने

विशिष्ट प्रतीक्षा अवधि: 24/48 महीने

5% सह-भुगतान सभी क्लेम के लिए

क्युमुलेटिव बोनस

क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस (एक लाभ आधारित पॉलिसी जो जानलेवा बीमारियों को कवर करती है. सूचीबद्ध गंभीर बीमारियों का पता चलने (डायग्नोसिस) पर लंपसम राशि का भुगतान किया जाएगा)

क्रिटिकल इलनेस

06 वर्ष से 60 वर्ष के आयु वर्ग के लिए: रु. 1 लाख से रु. 50 लाख तक

61 वर्ष से 65 वर्ष के आयु वर्ग के लिए: रु. 1 लाख से रु. 10 लाख तक

गंभीर बीमारियों के लिए कवर, जैसे:

पहला दिल का दौरा (मायोकार्डियल इन्फार्क्शन)

विशिष्ट गंभीरता का कैंसर

ओपन चेस्ट सीएबीजी (कोरोनरी आर्टरी रोग जिसमें सर्जरी की आवश्यकता होती है)

स्ट्रोक के परिणामस्वरूप स्थायी लक्षण

नियमित लक्षणों के साथ मल्टीपल स्केलेरोसिस

आओर्टा की सर्जरी

प्राइमरी पल्मोनरी आर्टेरिअल हाइपरटेंशन

स्थायी लकवा

किडनी फेल होने पर नियमित डायलिसिस की आवश्यकता होती है

मेजर ऑर्गन ट्रांसप्लांटेशन

प्रतीक्षा अवधि: पॉलिसी शुरू होने की तिथि से पहले 90 दिनों के भीतर डायग्नोस की गई गंभीर बीमारियां

 

क्रिटि केयर

(इंडिविजुअल सम इंश्योर्ड आधारित)

18 वर्ष से 65 वर्ष के बीच की प्रवेश आयु के लिए: रु. 1 लाख

60 वर्ष तक की प्रवेश आयु के लिए: रु. 50 लाख/सेक्शन

प्रति सदस्य ₹ 2 करोड़ तक

61 वर्ष से 65 वर्ष के बीच की प्रवेश आयु के लिए: रु. 10 लाख/सेक्शन

43 गंभीर बीमारी शामिल हैं

लाइफटाइम रिन्यूअल

कैंसर केयर

कार्डियोवैस्कुलर देखभाल

किडनी संबंधी देखभाल

न्यूरो केयर

ट्रांसप्लांट से संबंधित देखभाल

सेंसरी अंगों की देखभाल

 

डायलिसिस केयर

कैंसर रिकंस्ट्रक्टिव सर्जरी

कार्डियक नर्सिंग

फिजियोथेरेपी केयर

सेंसरी केयर

वेलनेस डिस्काउंट

Personal Accident Insurance (A plan that covers the insured against bodily injury/death/disability due to an accident and offers a high sum insured)

ग्लोबल पर्सनल गार्ड

रु. 50,000 से रु. 25 करोड़ तक

बाल शिक्षा अधिलाभ

अस्पताल परिरोध भत्ता

एक्सीडेंटल अस्पताल में भर्ती का खर्च

अस्पताल नकद पॉलिसी

एयर एम्बुलेंस कवर

बाल शिक्षा अधिलाभ

कोमा कवर

ईएमआई भुगतान कवर

फ्रैक्चर केयर

   

Top-Up Health Insurance (This policy can be taken as an add-on cover to the existing hospitalisation medical expenses policy)

 

एक्सट्रा केयर

(फ्लोटर पॉलिसी)

सम इंश्योर्ड (डिडक्टिबल को छोड़कर)

प्रति हॉस्पिटलाइज़ेशन डिडक्टिबल

₹ 10 लाख

₹ 3 लाख

₹ 12 लाख

₹ 4 लाख

₹ 15 लाख

₹ 5 लाख

अस्पताल में भर्ती का खर्च

हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले और बाद के खर्च

एम्बुलेंस के खर्च

आधुनिक उपचार विधियां और उन्नत टेक्नोलॉजी

प्रारंभिक प्रतीक्षा अवधि: 30 दिन

विशिष्ट प्रतीक्षा अवधि: 48 महीने

पहले से मौजूद बीमारियां: 48 महीने

 

एक्सट्रा केयर प्लस

(फ्लोटर पॉलिसी)

सम इंश्योर्ड

कुल डिडक्टिबल के विकल्प

₹ 3 लाख

₹ 2 लाख

     

₹ 5 लाख

₹ 2 लाख

₹ 3 लाख

   

₹ 10 लाख

₹ 2 लाख

₹ 3 लाख

₹ 5 लाख

 

₹ 15 लाख

 

₹ 3 लाख

₹ 5 लाख

 

₹ 20 लाख

 

₹ 3 लाख

₹ 5 लाख

₹ 10 लाख

₹ 25 लाख

 

₹ 3 लाख

₹ 5 लाख

₹ 10 लाख

₹ 50 लाख

 

₹ 3 लाख

₹ 5 लाख

₹ 10 लाख

इन-पेशेंट हॉस्पिटलाइज़ेशन के खर्च

हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले और बाद के खर्च

डे-केयर ट्रीटमेंट

आधुनिक चिकित्सा की विधियां

मैटरनिटी खर्चें

एम्बुलेंस के खर्च

ऑर्गन डोनर के लिए खर्च

मुफ्त मेडिकल चेक-अप

प्रारंभिक प्रतीक्षा अवधि: 30 दिन

विशिष्ट प्रतीक्षा अवधि: 12 महीने

पहले से मौजूद बीमारियां: 12 महीने

मैटरनिटी प्रतीक्षा अवधि: 12 महीने

वैकल्पिक एयर एम्बुलेंस कवर

वेक्टर जनित सामान्य बीमारियों के लिए एक संपूर्ण समाधान

एम-केयर

(इंडिविजुअल और फ्लोटर पॉलिसी)

₹ 25000

₹ 50000

₹ 75000

इसके लिए लंपसम लाभ:

डेंगू का बुखार

मलेरिया

फाइलेरिया

कालाजार

चिकनगुनिया

जापानी इंसेफेलाइटिस

ज़िका वायरस

पॉलिसी प्रारंभ होने की तिथि से पहले 15 दिनों के भीतर डायग्नोस होने वाली किसी भी सूचीबद्ध वेक्टर जनित रोग को कवर नहीं किया जाएगा.

अगर पॉलिसी लिस्ट में लिखी वेक्टर-जनित बीमारियों में से किसी एक के होने के बाद ली जाती है, तो उस खास बीमारी के लिए पिछले हॉस्पिटलाइज़ेशन की तिथि से 60 दिनों की प्रतीक्षा अवधि लागू होगी

अगर पॉलिसी की अवधि के दौरान पॉलिसी शिड्यूल के तहत लाभ का भुगतान कर दिया गया है और नामित इंश्योर्ड व्यक्ति पॉलिसी को रिन्यू करता है, तो रिन्यू की गई पॉलिसी के ऐसे मामले में, जिस बीमारी के लिए क्लेम का भुगतान किया गया था, उस खास बीमारी के लिए, पिछले हॉस्पिटलाइज़ेशन की तिथि से 60 दिनों की प्रतीक्षा अवधि लागू होगी.

ऑनलाइन खरीदने पर 20% की छूट लागू

 

हेल्थ इंश्योरेंस प्लांस के फायदे

मेडिकल केयर की लागतों में होती बढ़ोत्तरी, हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने के सबसे बड़े कारणों में से एक है. और, एक सही हेल्थ इंश्योरेंस प्लान में इन्वेस्ट करने का यह फायदा है कि भले ही एक आम सा डे केयर प्रोसीज़र हो या फिर एक प्रिवेंटिव हेल्थ चेकअप हो, इससे आपके अस्पताल के बिलों के भुगतान के मामले में आपको सहायता मिलती है.

कुछ प्रमुख लाभ निम्न हैं:

  • Cashless Treatment

    कैशलेस ट्रीटमेंट:

    आप लाभ उठा सकते हैं कैशलेस हेल्थ इंश्योरेंस प्लान का, अगर आप उपचार के लिए किसी नेटवर्क हॉस्पिटल में जाते हैं. इसका मतलब है कि गुणवत्तापूर्ण हेल्थ केयर प्राप्त करते समय आपको अपनी जेब से पैसे खर्च करने की ज़रूरत नहीं पड़ती. आपको बस नेटवर्क हॉस्पिटल में इंश्योरेंस डेस्क पर अपने पॉलिसी नंबर की जानकारी देनी होगी. वे आपकी इंश्योरेंस कंपनी से प्री-ऑथराइज़ेशन लेटर की व्यवस्था करेंगे और हॉस्पिटल के बिल का सेटलमेंट हॉस्पिटल और आपकी हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी के बीच आसानी से हो जाएगा.

     

  • Tax Benefits

    टैक्स बेनिफिट्स:

    आप अपनी इंश्योरेंस पॉलिसी के प्रीमियम के भुगतान पर टैक्स लाभ प्राप्त कर सकते हैं. चाहे आप अपने लिए या अपने परिवार के लिए पॉलिसी खरीदते हैं, आप इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80D के अनुसार टैक्स छूट प्राप्त कर सकते हैं. अगर आपकी आयु 60 वर्ष से कम है, तो आप भुगतान किए गए हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम पर अपने लिए प्रति वर्ष रु. 25,000 तक और अगर आप सीनियर सिटीज़न हैं, तो 50,000 की टैक्स कटौती का क्लेम कर सकते हैं.

  • Daily Hospital Cash

    डेली हॉस्पिटल कैश*:

    अगर आपके पास हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी है, तो आप लाभ के रूप में पा सकते हैं डेली हॉस्पिटल कैश. This means that your insurance company will pay you a certain fixed sum of money daily (up to a limited number of days), which you can use to get reasonable accommodation for your family member/caretaker.

    *यह सुविधा इंडिविजुअल हेल्थ गार्ड, फैमिली फ्लोटर हेल्थ गार्ड और हेल्थ केयर सुप्रीम के तहत उपलब्ध है.

  • Cumulative Bonus

    क्युमुलेटिव बोनस

    If you renew your policy without any break and there has been no claim in the preceding year, then your Sum Insured (SI) increases by 5% for the first year and 10% for every successful claim-free policy renewal. This increment in the sum insured is limited to 50% at max.

    यह सुविधा सभी हेल्थ इंश्योरेंस प्रॉडक्ट के लिए उपलब्ध है.

  • Free Health Check-Ups

    फ्री हेल्थ चेकअप

    बचाव हमेशा उपचार से बेहतर होता है. अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के साथ, आप प्रिवेंटिव केयर का लाभ उठा सकते हैं. आप मेडिकल बिलों के भुगतान के बारे में परेशान हुए बिना नियमित रूप से अपना हेल्थ चेकअप करा सकते हैं.

  • Life Long Renewability

    जीवन भर की रिन्यूबिलिटी

    अपनी वार्षिक हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने के बाद, आपको इसे समाप्त होने से पहले हर वर्ष रिन्यू करना होगा और तभी आपको मिल सकेंगे हेल्थ इंश्योरेंस के लाभ लंबे समय तक. रिन्यूअल के समय आप अपने परिवार के आकार और कवरेज की आवश्यकताओं के अनुसार कुछ विशेषताओं को जोड़ सकते हैं.

 

हेल्थ प्राइम राइडर

हेल्थ प्राइम राइडर क्या है?

हेल्थ प्राइम, चुनिंदा रिटेल और ग्रुप हेल्थ/पीए प्रोडक्ट के लिए एक राइडर है. हेल्थ प्राइम वह राइडर है जो कवर नहीं किए गए सभी मेडिकल सर्विस खर्चों को वहन करेगा.

 

हेल्थ प्राइम राइडर कौन ले सकता है?

कोई भी व्यक्ति जिसके पास बजाज आलियांज़ रिटेल इंश्योरेंस पॉलिसी है, या पीए पॉलिसी है, वे खरीद सकते हैं हेल्थ प्राइम राइडर खुद के लिए या अपने परिवार के सदस्यों के लिए. इस राइडर में कुल 9 प्लान/विकल्प मिलते हैं.

 

हेल्थ प्राइम राइडर चुनने के लिए आवश्यक पात्रता

 

प्रवेश की आयु चुनी गई बेस पॉलिसी के अनुसार
पॉलिसी अवधि

बेस प्लान की अवधि के अनुसार 1 वर्ष, 2 वर्ष या 3 वर्ष

ग्रुप प्रॉडक्ट के लिए पॉलिसी की अवधि, बेस पॉलिसी अवधि के हिसाब से अधिकतम 5 वर्ष तक हो सकती है

प्रीमियम

बेस पॉलिसी का किश्त प्रीमियम विकल्प उसी अनुसार प्रीमियम के किश्त पर लागू होगा

डिस्क्लेमर: कृपया सभी नियम और शर्तों के लिए पॉलिसी नियमावली ध्यान से देखें

 

 

हेल्थ प्राइम राइडर के लाभ

हमारा हेल्थ प्राइम राइडर, समग्र हेल्थ सर्विसेज़ समाधान प्रदान करता है. हमारे हेल्थ प्राइम राइडर के लाभ के बारे में जानने के लिए पढ़ें.

 

टेली-कंसल्टेशन कवर

यदि इंश्योर्ड व्यक्ति किसी भी बीमारी या चोट से जूझ रहे हों तो वीडियो, ऑडियो या चैट के माध्यम से डिजिटल प्लेटफॉर्म पर सूचीबद्ध चिकित्सक/फिज़िशियन/डॉक्टर से आसानी से परामर्श ले सकते हैं. 

 

डॉक्टर कंसल्टेशन कवर

यदि इंश्योर्ड व्यक्ति किसी भी बीमारी या चोट से जूझ रहा है तो वह निर्धारित नेटवर्क सेंटर पर व्यक्तिगत रूप से चिकित्सक/फिज़िशियन/डॉक्टर से कंसल्ट कर सकता है. आवश्यकता पड़ने पर नियम व शर्तों के अनुसार बताई गई लिमिट तक कोई भी व्यक्ति निर्धारित नेटवर्क सेंटर से बाहर भी कंसल्ट कर सकते हैं.

 

इन्वेस्टिगेशन कवर – पैथोलॉजी और रेडियोलॉजी के खर्च

यदि इंश्योर्ड व्यक्ति किसी भी बीमारी या चोट से जूझ रहा है, तो वह निर्धारित नेटवर्क सेंटर या बाहर से पैथोलॉजी या रेडियोलॉजी सुविधा का लाभ ले सकता है. इसका लाभ वह नियम व शर्तों के अनुसार निर्धारित लिमिट तक ले सकता है. 

 

वार्षिक प्रिवेंटिव हेल्थ चेकअप कवर

इंश्योर्ड व्यक्ति निम्न चीज़ों के लिए प्रत्येक पॉलिसी वर्ष में एक बार मुफ्त प्रिवेंटिव हेल्थ चेकअप का लाभ उठा सकते हैं: 

  • ✓ ब्लड शुगर - फास्टिंग
  • ✓ ब्लड यूरिया
  • ✓ ईसीजी
  • ✓ HbA1C
  • ✓ हीमोग्राम और ईएसआर
  • ✓ लिपिड प्रोफाइल
  • ✓ लिवर फंक्शन टेस्ट
  • ✓ सीरम क्रिएटिनीन
  • ✓ T3/T4/TSH
  • ✓ यूरिन रुटीन

किसी भी निर्धारित हॉस्पिटल या डायग्नोस्टिक सेंटर में कैशलेस रूप से हेल्थ चेकअप का लाभ आसानी से उठाया जा सकता है. इसका लाभ राइडर अवधि के भीतर ही लिया जा सकता है. राइडर की अवधि समाप्त होने के बाद इस कवर को बढ़ाया नहीं जा सकता. 

 

हेल्थ प्राइम राइडर में उपलब्ध विकल्प

राइडर अवधि के तहत प्रत्येक पॉलिसी वर्ष में, इंश्योर्ड सदस्य नीचे दी गई टेबल के अनुसार, चुने गए प्लान के आधार पर कवरेज पाने का हकदार होगा. राइडर के तहत कवर किए गए हर एक इंश्योर्ड सदस्य के लिए अलग से प्लान चुना जाना चाहिए. इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि बेस पॉलिसी इंडिविजुअल सम इंश्योर्ड प्लान है या फ्लोटर प्लान है. एक वर्ष से अधिक की राइडर अवधि वाले राइडर के लिए यह कवर हर साल लागू किया जाएगा. 

 

इंडिविजुअल पॉलिसी :

लाभ विकल्प 1 (रु. में) विकल्प 2 (रु. में) विकल्प 3 (रु. में) विकल्प 4 (रु. में) विकल्प 5 (रु. में) विकल्प 6 (रु. में)
टेली-कंसल्टेशन कवर असीमित असीमित असीमित असीमित असीमित असीमित
(जीपीएस) (सभी विशेषताएं) (सभी विशेषताएं) (सभी विशेषताएं) (सभी विशेषताएं) (सभी विशेषताएं)
डॉक्टर कंसल्टेशन कवर NA 1500 3000 5000 7000 15000
इन्वेस्टिगेशन कवर – पैथोलॉजी और रेडियोलॉजी के खर्च NA NA 1000 2000 3000
वार्षिक प्रिवेंटिव हेल्थ चेक-अप कवर हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ
(1 वाउचर) (1 वाउचर) (1 वाउचर) (1 वाउचर) (1 वाउचर) (1 वाउचर)

 

फैमिली फ्लोटर :

लाभ विकल्प 1 (रु. में) विकल्प 2 (रु. में) विकल्प 3 (रु. में)
टेली-कंसल्टेशन कवर असीमित असीमित असीमित
(सभी विशेषताएं) (सभी विशेषताएं) (सभी विशेषताएं)
डॉक्टर कंसल्टेशन कवर   10,000 20,000 25,000
इन्वेस्टिगेशन कवर – पैथोलॉजी और रेडियोलॉजी के खर्च  
वार्षिक प्रिवेंटिव हेल्थ चेक-अप कवर हाँ हाँ हाँ
(2 वाउचर) (2 वाउचर) (2 वाउचर)

 

हेल्थ प्राइम राइडर के तहत एक्सक्लूज़न

आइए पहले हेल्थ प्राइम राइडर के तहत सामान्य तौर पर शामिल नहीं की जाने वाली चीज़ों को समझते हैं

  • ✓ 30-दिन की प्रतीक्षा अवधि, राइडर अवधि के केवल पहले वर्ष में लागू होती है. फिर भी, बिना किसी ब्रेक के रिन्यूअल के लिए एक्सक्लूज़न मान्य नहीं है.
  • ✓ अगर राइडर अवधि के दौरान पॉलिसी वर्ष में कोई कवरेज नहीं लिया जाता है, तो राइडर अवधि के दौरान आगामी पॉलिसी वर्ष में लाभ को ट्रांसफर नहीं किया जा सकता है.

आगे बढ़ते हुए, आइये हम हेल्थ प्राइम राइडर के तहत विशिष्ट एक्सक्लूज़न के बारे में जानते हैं.

 

टेली-कंसल्टेशन कवर के लिए

डिजिटल प्लेटफॉर्म से अलग किसी प्लेटफॉर्म पर लिए गए टेली-कंसल्टेशन को राइडर द्वारा कवर नहीं किया जाता है. टेली कंसल्टेशन लाभ को किसी अन्य सदस्य को ट्रांसफर नहीं किया जाएगा, जबतक कि उस सदस्य को बेस पॉलिसी के तहत कवर न किया गया हो और उसने इस राइडर का विकल्प न चुना हो. 

 

डॉक्टर कंसल्टेशन कवर के लिए

जांच, दवाओं, प्रोसीज़र या अन्य किसी भी मेडिकल, नॉन-मेडिकल चीज़ों से जुड़े खर्चों को कवर नहीं किया जाता है.

 

इन्वेस्टिगेशन कवर के लिए- पैथोलॉजी और रेडियोलॉजी के खर्च

अगर संबंधित पॉलिसी वर्ष में इन्वेस्टिगेशन कवर का लाभ नहीं उठाया जाता है, तो इस लाभ को रिन्यूअल के बाद अगले पॉलिसी वर्ष में आगे नहीं ले जाया जा सकता. साथ ही 'इन्वेस्टिगेशन कवर - पैथोलॉजी और रेडियोलॉजी के खर्च' से जुड़ी बीमारियों के लिए पहले 30 दिनों की प्रतीक्षा अवधि केवल राइडर के पहले वर्ष में लागू होती है. प्रतीक्षा अवधि बिना किसी ब्रेक के रिन्यूअल करने पर लागू नहीं होती है.

 

वार्षिक प्रिवेंटिव हेल्थ चेक-अप कवर के लिए

प्रिवेंटिव हेल्थ चेक-अप का लाभ केवल निर्धारित लिस्ट में शामिल हॉस्पिटल या डायग्नोस्टिक सेंटर में ही उठाया जा सकता है. चुनिंदा लोकेशनों पर, घर से सैम्पल कलेक्शन की सुविधा का लाभ उठाया जा सकता है. जिन लोकेशन पर घर से सैम्पल कलेक्ट करने की सुविधा उपलब्ध नहीं है, वहां कस्टमर को स्वयं टेस्ट के लिए जाना होगा. ऊपर उल्लिखित सभी टेस्ट एक ही अपॉइंटमेंट में पूरे करने होंगे. 

 

हेल्थ इंश्योरेंस राइडर

राइडर ऐसे अतिरिक्त कवरेज हैं, जिन्हें अधिक लाभ पाने और प्लान को अधिक कम्प्रीहेंसिव बनाने के लिए खरीदा जा सकता है. इनकी कीमत आयु, कवरेज के प्रकार, सम इंश्योर्ड आदि जैसे कारकों पर निर्भर करती है.

आइए, कुछ महत्वपूर्ण राइडर पर नज़र डालते हैं, जिन पर भारत में हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते समय विचार करना चाहिए:

 

नॉन-मेडिकल खर्च राइडर

नॉन-मेडिकल एक्सपेंस राइडर तब काम आता है, जब पॉलिसी की अवधि के दौरान किसी बीमारी या दुर्घटना में लगी चोट के कारण इंश्योर्ड व्यक्ति हॉस्पिटल में भर्ती होता है. कंपनी इंश्योर्ड व्यक्ति को निर्दिष्ट उचित और प्रथागत गैर-मेडिकल खर्चों के लिए भुगतान करेगी. नॉन-मेडिकल एक्सपेंस राइडर, हेल्थ इंडेम्निटी प्रॉडक्ट के तहत चुने गए रु. 5 लाख और उससे अधिक के सम इंश्योर्ड वाले विकल्पों के साथ लिया जा सकता है. यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि इस राइडर का विकल्प पॉलिसी अवधि के बीच में नहीं चुना जा सकता है. इस राइडर को सभी रिन्यूअल के लिए जारी रखना होगा..

इस राइडर का विकल्प चुनने पर नीचे दिए गए कुछ गैर-मेडिकल आइटम के लिए भुगतान किया जाता है:

· बेल्ट/ब्रेस

· कोल्ड/हॉट पैक

· नेबुलाइज़र किट

· स्टीम इनहेलर

· स्पेसर

· थर्मामीटर, आदि.

Respect- Senior Care Rider

रिस्पेक्ट सीनियर केयर राइडर के लिए मिस्ड कॉल नंबर : 9152007550

 

जैसे-जैसे हम अपने व्यक्तिगत और प्रोफेशनल लक्ष्यों को पूरा करने के करीब आते जाते हैं, हम सफलता पाने में इतना अधिक मग्न हो जाते हैं कि हमारे पास किसी और चीज़ के लिए समय ही नहीं होता है. इस दौरान संभव है कि आप अपने माता-पिता की विभिन्न हेल्थकेयर आवश्यकताओं का समय पर ध्यान नहीं रख पाएं.

चाहे आप उनके साथ रहते हों या किसी अलग राज्य/देश में रहते हों, आप अपने व्यस्त शिड्यूल के साथ-साथ सीनियर सिटीज़न की निरंतर देखभाल कर सकते हैं. बजाज आलियांज़ जनरल इंश्योरेंस में, हमारा उद्देश्य सभी की देखभाल करना है और इसलिए हमने रिस्पेक्ट सीनियर केयर राइडर पेश किया है. माता-पिता के लिए हेल्थ इंश्योरेंस राइडर ने देखभाल को बेहतर और आसान बना दिया है.

रिस्पेक्ट सीनियर केयर राइडर क्या है?

रिस्पेक्ट सीनियर केयर राइडर, सीनियर सिटीज़न की सभी आवश्यकताओं के लिए एक मात्र समाधान है. यह सीनियर सिटीज़न के लिए हेल्थ इंश्योरेंस राइडर है, जो समय पर देखभाल और सहायता प्रदान करता है. 

हम समझते हैं कि माता-पिता की देखभाल करना उतना आसान नहीं है, जितना यह सुनने में लग सकता है. सांसारिक गतिविधियों के बीच उनकी मदद करने के लिए समय-समय पर उनके साथ मौजूद न होने का अपराध बोध भी बुरा लगता है. रिस्पेक्ट सीनियर केयर राइडर के साथ अब आप चौबीसों घंटे लगातार उनकी सुरक्षा कर सकते हैं

 

रिस्पेक्ट सीनियर केयर राइडर का विकल्प चुनने के लिए पात्रता मानदंड

नीचे दी गई टेबल में रिस्पेक्ट सीनियर केयर राइडर के लिए पात्रता मानदंड दिया गया है:

 

पैरामीटर

विवरण

प्रवेश की आयु

50 साल या अधिक

पॉलिसी टर्म

बेस हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी की अवधि के अनुसार. इसके अलावा, बेस पॉलिसी की मिड-टर्म के दौरान राइडर को चुना नहीं जा सकता है

प्रीमियम

चुने गए प्लान के अनुसार

 

ध्यान दें: अधिक जानकारी के लिए, कृपया पॉलिसी नियमावली को ध्यान से पढ़ें.

 

रिस्पेक्ट सीनियर केयर राइडर के तहत कौन से प्लान उपलब्ध हैं

अगर आप बजाज आलियांज़ हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने की योजना बना रहे हैं, तो आपको अपने माता-पिता की बेहतर सुरक्षा के लिए रिस्पेक्ट-सीनियर केयर राइडर को पॉलिसी में जोड़ना चाहिए. अगर आप मौजूदा कस्टमर हैं, तो आप रिन्यूअल के समय इस राइडर को पॉलिसी में जोड़ सकते हैं.

रिस्पेक्ट- सीनियर केयर राइडर विभिन्न खासियतों वाले तीन प्लान प्रदान करता है. इसमें से वरिष्ठ नागरिकों की आवश्यकताओं को पूरा करने वाला प्लान चुनें. नीचे हर प्लान के तहत रिस्पेक्ट सीनियर केयर राइडर के लाभ की जानकारी दी गई है: 

 

कवरेज

योजना 1

योजना 2

योजना 3

एमरजेंसी रोड एम्बुलेंस सर्विस

✓  

प्लान्ड रोड एम्बुलेंस सर्विस

स्मार्ट वॉच के माध्यम से फॉल डिटेक्शन टेक्नोलॉजी

नहीं

नहीं

✓  

घर पर फिज़ियोथेरेपी सर्विस

नहीं

घर पर नर्सिंग केयर

नहीं

साइकोलॉजिकल सर्विसेज़ के लिए टेली-कंसल्टेशन सर्विस

नहीं

कॉन्सियर्ज असिस्टेंस सर्विसेज़

✓  

✓  

प्रीमियम (बहिर्गत. GST)

₹710

₹2088

₹7497

वैकल्पिक कवर के लिए अतिरिक्त प्रीमियम (इसके अलावा. जीएसटी) अनलिमिटेड मेडिकल टेली-कंसल्टेशन सर्विसेज़

₹197

₹197

₹217

 

 

ध्यान दें: अधिक जानकारी के लिए, कृपया पॉलिसी नियमावली को ध्यान से पढ़ें.

 

रिस्पेक्ट सीनियर केयर राइडर के लाभ

हमारे साथ, आपको सीनियर सिटीज़न के लिए स्मार्ट केयर मिलता है. आइए, अब हम रिस्पेक्ट सीनियर केयर राइडर के तहत प्रदान किए जाने वाले लाभों की संक्षिप्त रूप से जानकारी देते हैं:

· एम्बुलेंस सर्विस

✓ एमरज़ेंसी रोड एम्बुलेंस सर्विस (प्रति इंश्योर्ड व्यक्ति एक वर्ष में 2 बार तक एम्बुलेंस सर्विसेज़)

✓ प्लान की गई रोड एम्बुलेंस सर्विस (प्रति इंश्योर्ड व्यक्ति एक वर्ष में 2 बार तक एम्बुलेंस सर्विसेज़)

· स्मार्ट वॉच के माध्यम से फॉल डिटेक्शन टेक्नोलॉजी

· घर पर फिज़ियोथैरेपी सर्विस (प्रति दिन 1-घंटे तक का सेशन, वर्ष में 5 दिनों के लिए)

· घर पर नर्सिंग केयर (वर्ष में 5 दिन, प्रति दिन 12 घंटे)

· अनलिमिटेड मेडिकल टेली-कंसल्टेशन सर्विसेज़

· मनोवैज्ञानिक बीमारियों के लिए टेली-कंसल्टेशन सर्विसेज़ (एक वर्ष में 2 बार कंसल्टेशन तक)

· कॉन्सियर्ज असिस्टेंस सर्विसेज़

✓ डेली केयर / होम असिस्टेंस 

-  घर पर फिज़ियोथेरेपी की व्यवस्था करने के लिए सहायता

-  घर पर नर्सिंग की व्यवस्था करने के लिए सहायता

-  हॉस्पिटल/लैबोरेटरी में अपॉइंटमेंट बुकिंग के लिए सहायता

-  एयर कंडीशनिंग/वॉटर प्यूरीफायर/वॉशिंग मशीन रिपेयरिंग और मेंटेनेंस सर्विसेज़ की बुकिंग के लिए सहायता

-  इलेक्ट्रिशियन, प्लंबर और कार्पेंटर सर्विसेज़ की बुकिंग के लिए सहायता

-  पेस्ट कंट्रोल सर्विसेज़ की बुकिंग के लिए सहायता

-  कार वॉश/सैनिटाइज़ेशन सर्विसेज़ की बुकिंग के लिए सहायता

✓ साइबर असिस्टेंस

-  डेबिट/क्रेडिट कार्ड को ब्लॉक करने में सहायता

-  मोबाइल फोन और उनके उपयोग को समझने में सहायता

-  ओटीटी (ओवर द टॉप) मीडिया डाउनलोड करने, भुगतान करने आदि में सहायता.

-  मांग के अनुसार, ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म के गैजेट/ऐप के उपयोग, जैसे लैब और दवा के लिए ऑर्डर, सीनियर केयर से संबंधित प्रॉडक्ट आदि के बारे में सहायता 

✓ यात्रा संबंधी सहायता

-  यात्रा की बुकिंग के लिए सहायता की आवश्यकता होती है

✓ कानूनी सहायता

-  वसीयत, प्रॉपर्टी कॉन्ट्रैक्ट वेटिंग आदि पर कानूनी परामर्श लेने के लिए सहायता.

*यह विस्तृत लिस्ट नहीं है.

ध्यान दें: *मानक नियम व शर्तें लागू. अधिक जानकारी के लिए, कृपया पॉलिसी नियमावली को ध्यान से पढ़ें.

 

अपने माता-पिता को वही देखभाल, स्नेह और प्यार दें, जिसे उन्होंने आपको दिए हैं. हमारी देखभाल के साथ सीनियर सिटीज़न के लिए बेहतर व्यवस्था बनाने की दिशा में कदम बढ़ाएं. 

 

आपको बजाज आलियांज से ही हेल्थ इंश्योरेंस क्यों खरीदना चाहिए?

जब हेल्थ इंश्योरेंस की बात आती है, तो बजाज आलियांज़ जनरल इंश्योरेंस वास्तव में अपने किफायती हेल्थ इंश्योरेंस प्लान की विविध रेंज के साथ देश में अग्रणी है. अब, आप अपनी ज़रूरतों के अनुसार इन प्लान को कस्टमाइज़ कर सकते हैं.

हम समय और आपकी मेहनत की कमाई का महत्व समझते हैं. इसलिए, इसे सुरक्षित करना ज़रूरी है. एमरजेंसी किसी भी समय आ सकती है. हम आपको अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसियों के साथ निम्नलिखित विशेषताएं प्रदान करते हैं:

कैशलेस हॉस्पिटल्स

देश भर में 8,000 से अधिक

क्लेम सेटलमेंट का समय

कैशलेस क्लेम के मामले में 60 मिनट के भीतर

क्लेम प्रोसेस

कैशलेस और रीइम्बर्समेंट प्रोसेस

 

तेज़ क्लेम प्रोसेसिंग के लिए इन-हाउस हेल्थ एडमिनिस्ट्रेशन टीम

क्युमुलेटिव बोनस

अगर किसी पॉलिसी को लगातार रिन्यू किया गया है और उसमें पिछले वर्ष में कोई क्लेम नहीं किया गया है, तो पहले 2 वर्षों के लिए सम इंश्योर्ड 50% बढ़ जाता है

और अगले 5 वर्षों तक प्रति वर्ष 10% की दर से बढ़ता है. अधिकतम सम इंश्योर्ड के 150% तक 

यह विशेषता सभी हेल्थ इंश्योरेंस प्रॉडक्ट के लिए उपलब्ध है.

हेल्थ सीडीसी

'डायरेक्ट क्लिक पर हेल्थ क्लेम' एक ऐप आधारित विशेषता है, जो पॉलिसीधारकों को आसानी से क्लेम शुरू करने और उसे ट्रैक करने की सुविधा देती है. पॉलिसीधारक रु. 20,000 तक के मेडिकल खर्चों के लिए क्लेम कर सकते हैं

सम इंश्योर्ड

एक से अधिक सम इंश्योर्ड विकल्प

हेल्थ इंफिनिटी प्लान

 

Why Buy Health Insurance With Us

 

 

हमारे हेल्थ इंश्योरेंस प्लान ओमिक्रॉन और कोविड-19 के वेरिएंट को कवर करते हैं

आज के समय में मेडिकल इंश्योरेंस होना अब लग्जरी नहीं रह गया है, बल्कि आवश्यकता बन चुका है. महामारी ने प्रिवेंटिव इंश्योरेंस कवरेज के महत्व के बारे में बताते हुए लोगों को जागरूक करने का काम किया है. 

कोविड-19 एक ऐसा उदाहरण है, जो यह समझाता है कि एमरजेंसी की स्थितियां बताकर नहीं आती हैं. इसके अलावा, फाइनेंशियल रूप से सुरक्षित होना महत्वपूर्ण है, लेकिन अगर आप इसके लिए पहले से तैयार नहीं है, तो इस तरह की मेडिकल एमरज़ेंसी आसानी से फाइनेंशियल परेशानी पैदा कर सकती है. बजाज आलियांज़ की पॉलिसी के साथ, आप यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि आपके पास पर्याप्त इंश्योरेंस कवरेज है. 

बजाज आलियांज़ जीआईसी में, हम आपकी आवश्यकताओं का पूरा ध्यान रखते हैं और आपको किसी भी तरह के तनाव में नहीं देखना चाहते. हमारे इंश्योरेंस प्लान किफायती प्रीमियम दरों पर कोरोनावायरस के कारण होने वाले ट्रीटमेंट और खर्चों को कवर करते हैं.

नीचे दिए गए बजाज आलियांज़ हेल्थ इंश्योरेंस प्लान कोरोनावायरस को कवर करते हैं:

  • बजाज आलियांज़ इंडिविजुअल हेल्थ गार्ड
  • बजाज आलियांज़ फैमिली फ्लोटर हेल्थ गार्ड
  • बजाज आलियांज सिल्वर हेल्थ इंश्योरेंस प्लैन
  • बजाज आलियांज़ आरोग्य संजीवनी प्लान
  • बजाज आलियांज़ कोरोना कवच पॉलिसी

*कृपया ध्यान दें कि यह एक विस्तृत लिस्ट नहीं है. कोविड से संबंधित उपचार को बजाज आलियांज़ की सभी हेल्थ इंडेम्निटी पॉलिसी में कवर किया जाता है

आप बेस प्लान में हेल्थ प्राइम राइडर जोड़ने पर भी विचार कर सकते हैं. टेली-कंसल्टेशन कवर का लाभ उठाएं. इसके तहत, अगर इंश्योर्ड सदस्य बीमार हो जाता है, तो वह वीडियो, ऑडियो या चैट के माध्यम से आसानी से सूचीबद्ध डॉक्टर से कंसल्ट कर सकता है.

कोरोना कवच पॉलिसी कोविड-19 के लिए खास तौर पर डिज़ाइन की गई एक इंश्योरेंस पॉलिसी है. यह उन सभी लोगों के लिए लाभदायक है जो नोवेल कोरोनावायरस से मुकाबला करने के लिए पूरी तरह से तैयार रहना चाहते हैं. यह प्लान कोविड-19 से जुड़ी सभी प्रमुख मेडिकल आवश्यकताओं को कवर करता है, जिन्हें हो सकता है कि रेगुलर हेल्थ इंश्योरेंस प्लान में कवर नहीं किया जाए.

अगर कोविड-19 के ट्रीटमेंट की बात करें, तो संक्रमित व्यक्ति का ट्रीटमेंट घर पर या हॉस्पिटल में किया जा सकता है. आपको उपचार के दोनों तरीकों के लिए कवर किया जाता है. यह प्लान कोविड-19 से जुड़े हॉस्पिटलाइज़ेशन, घर पर होने वाले ट्रीटमेंट के खर्च, आयुष से जुड़े ट्रीटमेंट और हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले और बाद के खर्चों के लिए कवर प्रदान करता है. यह कोविड के उपचार के साथ-साथ किसी भी कोमोरबिडिटी के उपचार पर किए गए खर्चों को भी सम इंश्योर्ड की सीमा तक कवर करता है.

कोरोना कवच पॉलिसी पीपीई किट, ऑक्सीजन और ग्लव्स के खर्च को तभी कवर करती है, जब कोविड हॉस्पिटलाइज़ेशन का खर्च आपके क्लेम के तहत स्वीकृत होता है. आइए हम कोरोना कवच पॉलिसी के तहत प्रदान की जाने वाली विशेषताओं पर नज़र डालते हैं:

प्रवेश की आयु (अधिकतम)

65 वर्ष

पॉलिसी टर्म

3.5/6.5/9.5 महीने

प्रतीक्षा अवधि

15 दिन

प्रीमियम भुगतान की अवधि

एकमात्र

पॉलिसी से पूर्व मेडिकल

लागू नहीं

7 प्रश्न जो आपको 2023 में सर्वश्रेष्ठ हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी चुनने में मदद करेंगे

1. किस प्रकार की हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी मेरी आवश्यकताओं के लिए सबसे उपयुक्त है?

पॉलिसी के बारे में अंतिम फैसला करने से पहले, अपनी आवश्यकताओं को पहचानना आवश्यक है. एक सही पॉलिसी चुनें, जो आपकी सभी मेडिकल आवश्यकताओं को पूरा करती हो.

 

2. क्या मेरी मेडिकल आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए मेरा कवरेज काफी है?

जब हेल्थ इंश्योरेंस प्लान की बात आती है, तो मेडिकल क्षेत्र की महंगाई को ध्यान में अवश्य रखें. उस सम इंश्योर्ड को चुनें, जो आपकी जेब के लिए अनुकूल हो और आपकी सभी आवश्यकताओं को पूरा कर सकता हो.

 

3. क्या यह हेल्थ इंश्योरेंस प्लान मेरी जेब पर असर तो नहीं डालेगा?

हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी का प्रमुख लाभ यह है कि यह किफायती होती है. इंश्योरेंस कवर होने से आपको समय आने पर बेहतरीन मेडिकल देखभाल पाने में मदद मिलती है और इसमें आपकी मेहनत की कमाई या बचत खर्च नहीं होती. हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी हॉस्पिटलाइज़ेशन की लागत से कहीं ज़्यादा सुविधाएं प्रदान करती है.

 

4. क्या इंश्योरर नेटवर्क हॉस्पिटल्स की एक बड़ी रेंज और तेज़ क्लेम प्रोसेस की सुविधा प्रदान करता है?

हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते समय आपको नेटवर्क हॉस्पिटल जैसी महत्वपूर्ण चीज़ के बारे में अवश्य सोचना चाहिए. इसका मुख्य कारण यह है कि नेटवर्क हॉस्पिटल में कैशलेस सुविधाएं मिलती है और वो बेहतर ट्रीटमेंट का फायदा उठाने में भी मदद करते हैं. क्योंकि आपको कैशलेस उपचार के लिए डिडक्टिबल को छोड़कर किसी खास राशि का भुगतान नहीं करना पड़ता है, इसलिए अपने आस-पास नेटवर्क हॉस्पिटल होने से आपको काफी मदद मिल सकती है.

बजाज आलियांज़ जीआईसी के हमारे हॉस्पिटल नेटवर्क में, पूरे भारत के 8000+ नेटवर्क हॉस्पिटल शामिल हैं. हम आपको और आपकी मेहनत की कमाई को सुरक्षित रखने में विश्वास रखते हैं. हमारे क्लेम सेटलमेंट का औसत समय लगभग 1 घंटे है. यह इंश्योरेंस इंडस्ट्री में क्लेम सेटलमेंट की सबसे तेज़ अवधि में से एक है.

 

5. क्या यह प्लान वैकल्पिक थेरेपी से किए जाने वाले ट्रीटमेंट को भी कवर करता है?

बजाज आलियांज़ जनरल इंश्योरेंस में, हम आयुर्वेदिक और होम्योपैथिक हॉस्पिटलाइज़ेशन के लिए कवरेज प्रदान करते हैं. लेकिन, नेचुरोपैथी, एक्यूपंक्चर, मैग्नेटिक थेरेपी, एक्यूप्रेशर आदि जैसे अन्य ट्रीटमेंट हेल्थ इंश्योरेंस प्लान के तहत कवर नहीं किए जाते हैं. यह इंश्योरर और प्लान के हिसाब से अलग-अलग हो सकता है. इसलिए, आपको पहले प्लान को सावधानीपूर्वक पढ़ने, अपनी आवश्यकताओं के बारे में जानने और उसके बाद ही पॉलिसी खरीदने का फैसला करने का सुझाव दिया जाता है.

 

6. अगर मेरी आवश्यकताएं बदल जाती हैं, तो क्या यह मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसी तब भी उचित रहेगी?

आप पॉलिसी शिड्यूल में बताए नियम और शर्तों के अनुसार अपने मौजूदा हेल्थ इंश्योरेंस कवरेज में बदलाव कर सकते हैं. 

 

7. क्या पॉलिसी के साथ कोई वैल्यू-एडेड सर्विसेज़ प्रदान की जाती हैं?

वैल्यू-एडेड सर्विसेज़ एक प्लान से दूसरे प्लान में अलग-अलग हो सकती हैं. किसी भी प्लान को चुनने से पहले, पॉलिसी और उसके इन्क्लूज़न व एक्सक्लूज़न के बारे में समझना बेहतर है ताकि आपको पॉलिसी का अधिकतम लाभ मिल सके.

हेल्थ इंश्योरेंस कवरेज

  • In Patient Hospitalization

    इन-पेशेंट हॉस्पिटलाइजेशन

    हमारी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसियां किसी भी बीमारी, दुर्घटना या चोट के मामले में हॉस्पिटल में भर्ती होने पर मेडिकल ट्रीटमेंट से जुड़े खर्चों के लिए कवरेज प्रदान करती है.

  • Pre & Post Hospitalization expenses

    हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले और बाद के खर्च

    आपको हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले और बाद के खर्चों के लिए क्रमशः 60 दिन और 90 दिन के लिए कवर किया जाता है, बशर्ते ये खर्च उसी ट्रीटमेंट से जुड़े हों, जो ट्रीटमेंट आपका चल रहा है.

  • Organ donor expenses

    ऑर्गन डोनर के लिए खर्च

    किसी के जीवन को बचाने के लिए अंग दान करना एक नेक काम है और हम बजाज आलियांज़ के रूप में इस नेक काम में जितना हो सके, उतनी आपकी मदद करते हैं. हमारे अधिकतर प्लान आपको अंग दान से जुड़ी सर्जरी/मेडिकल प्रोसीज़र के लिए फाइनेंशियल रूप से कवर करते हैं.

  • Day care procedures

    डे-केयर प्रोसीज़र

    टेक्नोलॉजी में हुई प्रगति के साथ, अब आपको मामूली मेडिकल प्रोसीज़र के लिए 24 घंटे से अधिक समय के लिए हॉस्पिटल में रहने की आवश्यकता नहीं है, अगर आप भर्ती होते हैं और उपयोग करते हैं डे-केयर प्रोसीज़र. और, हमारी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी आपको इन उपचारों के लिए भी कवर करती है.

  • Ambulance Charges

    एम्बुलेंस खर्च

    बजाज आलियांज में, हम आपको एम्बुलेंस फीस के लिए कवर प्रदान करते हैं जो अस्पताल में जाने या अस्पताल से लौटने पर हो सकता है.

  • Convalescence Benefit

    कॉन्वॉलसेंस बेनिफिट

    बजाज आलियांज़ की हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसियों के साथ, आप 10 दिनों या उससे अधिक समय के लगातार हॉस्पिटलाइज़ेशन के लिए, वार्षिक रु. 5,000 के लाभ के भुगतान के पात्र होंगे.

  • Ayurvedic / Homeopathic expenses

    आयुर्वेदिक और होम्योपैथिक खर्च

    हम आपको आयुर्वेदिक और होम्योपैथिक इलाज से संबंधित खर्चों के प्रति कवर प्रदान करते हैं जिन्हें आप वैकल्पिक मेडिकल इलाज के रूप में लेना चाहते हैं.

  • Maternity expenses and new born baby cover

    मैटरनिटी खर्च और न्यूबॉर्न बेबी कवर

    हमारे हेल्थ इंश्योरेंस प्लान कुछ नियम और शर्तों के तहत आपको मैटरनिटी खर्चों और नवजात शिशु के ट्रीटमेंट से जुड़े मेडिकल खर्चों के लिए कवर करते हैं.

  • Daily Cash Benefit

    डेली कैश बेनिफिट

    आप हमारी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसियों के साथ डेली कैश बेनिफिट का लाभ उठा सकते हैं, जिसका उपयोग आप अस्पताल में आपके साथ आए व्यक्ति के रहने की जगह के लिए कर सकते हैं.

यहां आपको इंश्योरेंस कवरेज के बारे में जानकारी प्रदान की गई है, लेकिन आपको कंपनियों द्वारा दिए जाने वाले विभिन्न अतिरिक्त लाभों के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए हमेशा हेल्थ इंश्योरेंस कंपनियों से संपर्क करना चाहिए. इसके अलावा, इनक्लूज़न और एक्सक्लूज़न की विस्तृत लिस्ट को देखने के लिए, देखें हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी की शब्दावलियों को ध्यान से पढ़ें

 

पॉलिसी में शामिल नहीं

हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के सामान्य एक्सक्लूज़न इस तरह हैं:

  • युद्ध:

    युद्ध के कारण होने वाले ट्रीटमेंट के खर्चों के लिए किए जाने वाले क्लेम के मामले में हमारी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसियां आपको कोई कवर नहीं प्रदान करती.

  • डेंटल ट्रीटमेंट:

    हमारी इंश्योरेंस पॉलिसियां, तब तक आपके डेंटल ट्रीटमेंट के लिए कवर प्रदान नहीं करती, जब तक कि यह दुर्घटना में लगी गंभीर चोट या कैंसर के चलते आवश्यक ना हो.

  • बाहरी उपकरण/यंत्र:

    चश्मा, कॉन्टेक्ट लेंस, हियरिंग एड्स, बैसाखी, कृत्रिम अंग, डेन्चर, कृत्रिम दांत आदि के खर्च को भी हेल्थ इंश्योरेंस प्लान द्वारा प्रदान किए जाने वाले कवरेज में शामिल नहीं किया जाता है.

  • जानबूझकर खुद को पहुंचाई चोट:

    आपकी देखभाल करना हमारी सबसे पहली प्राथमिकता है और हम नहीं चाहते कि आपको चोट लगे या आप खुद को चोट पहुंचाए. हमारी पॉलिसियां, जानबूझकर खुद को पहुंचाई गई चोट के लिए आपको कवर प्रदान नहीं करती.

  • प्लास्टिक सर्जरी:

    किसी भी प्रकार की कॉस्मेटिक सर्जरी, जब तक कैंसर, जलन या आकस्मिक शारीरिक चोट के इलाज के लिए आवश्यक नहीं हो, हमारी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के कवरेज में शामिल नहीं होती है.

  • भारत के बाहर इलाज:

    हमारी इंश्योरेंस पॉलिसियां, आपको किसी भी प्रकार के ऐसे ट्रीटमेंट के लिए कवर प्रदान नहीं करती, जो भारत से बाहर हुआ है.

मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते समय इन गलतियों से बचें

हो सकता है कि आपको लगता हो कि हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदना बहुत ज़रूरी नहीं है. यहां इंश्योरेंस के संबंध में हमारे मन में आने वाली कुछ सामान्य बातें दी गई हैं:

  • अपनी कॉर्पोरेट पॉलिसी के कारण कम्प्रीहेंसिव हेल्थ कवर न लेना

    अगर आपको लगता है कि केवल कॉर्पोरेट हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी मेडिकल खर्चों से सुरक्षित रखने के लिए काफी है, तो आप गलत सोच रहे हैं. कॉर्पोरेट हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी केवल तब तक आपको कवर करती है, जब तक आपकी नौकरी की अवधि होती है. इसलिए जब भी आप नौकरी छोड़ेंगे या कंपनी बदलेंगे, तो हेल्थ इंश्योरेंस का लाभ भी चला जाएगा. कुछ कंपनियां प्रोबेशन के दौरान हेल्थ इंश्योरेंस कवरेज प्रदान नहीं करती हैं. कॉर्पोरेट हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी आमतौर पर कम सम इंश्योर्ड प्रदान करती है और इसमें कम्प्रीहेंसिव कवरेज नहीं मिलता. इसलिए, आपको कम्प्रीहेंसिव हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी चुनने की सलाह दी जाती है.

  • कम सम इंश्योर्ड का विकल्प चुनना

    अगर आप मेट्रो सिटी में रहते हैं, तो इन शहरों में मेडिकल ट्रीटमेंट में आने वाले अधिक खर्च को देखते हुए आपको अधिक सम इंश्योर्ड का विकल्प चुनने का सुझाव दिया जाता है. ऐसी पॉलिसी खरीदना, जिसका कवरेज आपके लिए काफी नहीं है, लंबे समय के लिए उपयोगी नहीं होता. ऐसा सम इंश्योर्ड चुनें जो आपकी आवश्यकताओं के अनुसार मेडिकल खर्चों को कवर करता हो. अगर आपके परिवार के लोग पूरी तरह आप पर आश्रित हैं, तो उनकी आवश्यकताओं, मेडिकल से जुड़ी महंगाई व अन्य कारकों पर विचार करने के बाद ही हेल्थ इंश्योरेंस प्लान और सम इंश्योर्ड चुनें.

  • कवरेज का आकलन किए बिना कम लागत वाला प्लान चुनना

    हेल्थ इंश्योरेंस प्लान केवल इसलिए न खरीदें क्योंकि वह कम प्रीमियम में मिल रहा है. मेडिकल इंश्योरेंस द्वारा प्रदान किए जा रहे कवरेज और लाभों को देखना आवश्यक है. इस पहलू को किसी भी कीमत पर नज़रअंदाज़ नहीं करना चाहिए. अगर आप कम प्रीमियम वाला हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदते हैं, तो हो सकता है कि आपको महत्वपूर्ण कवरेज न मिल पाए. ऐसा प्लान चुनें, जिसमें आपको आपके पैसों की सही कीमत मिले और जो आपकी लाइफस्टाइल के कारण बढ़ती मेडिकल आवश्यकताओं को कवर करने के लिए काफी हो.

  • केवल टैक्स के लिए हेल्थ इंश्योरेंस खरीदना

    याद रखें, कम्प्रीहेंसिव हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी में टैक्स बचत से कहीं अधिक लाभ मिलते हैं. हेल्थ इंश्योरेंस प्लान में आपको निश्चित रूप से इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80डी के तहत टैक्स लाभ प्राप्त करने की सुविधा मिलती है. लेकिन आपके पास मेडिकल इंश्योरेंस इसलिए भी होना चाहिए ताकि परेशानी के समय आपको कम से कम फाइनेंशियल रूप से चिंता ना करनी पड़े. अगर आप अपने परिवार की देखभाल करना चाहते हैं, तो फैमिली फ्लोटर हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी का विकल्प चुनें.

भारत में हेल्थ इंश्योरेंस के लिए पात्रता मानदंड

जब हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने की बात आती है, तो बहुत सी बातों पर ध्यान दिया जाना चाहिए. नीचे दी गई टेबल में वो सामान्य पात्रता मानदंड दिए गए हैं, जिन पर भारत में हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदते समय ध्यान दिया जाना चाहिए: 

 

आयु मानदंड

आयु एक महत्वपूर्ण पहलू है जिस पर मेडिकल इंश्योरेंस प्लान खरीदते समय विचार किया जाना चाहिए. हेल्थ इंश्योरेंस प्लान को बच्चों, जवानों और सीनियर सिटीज़न के लिए खरीदा जा सकता है.

व्यक्ति की आयु के अनुसार उपयुक्त प्लान उपलब्ध हैं. आमतौर पर, एक स्टैंडर्ड प्लान 18 वर्ष से लेकर 65 वर्ष तक की आयु के व्यक्तियों को कवर करता है.

साथ ही, सीनियर सिटीज़न के लिए भी हेल्थ इंश्योरेंस प्लान उपलब्ध हैं जो 60 वर्ष और उससे अधिक आयु के लोगों की आवश्यकताओं का ध्यान रखते हैं.

पहले से मौजूद बीमारियाँ

पहले से मौजूद बीमारी को प्रतीक्षा अवधि पूरी होने के बाद ही कवर किया जाता है. हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते समय, इंश्योरर एप्लीकेंट से वर्तमान मेडिकल स्थिति जैसे किडनी की समस्या, ब्लड प्रेशर आदि के बारे में पूछते हैं. 

धूम्रपान की लत

लाइफस्टाइल से जुड़ी आदतें भी पॉलिसी खरीदने के प्रोसेस में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं. उदाहरण के तौर पर, धूम्रपान करने वाले लोगों के मुकाबले धूम्रपान ना करने वाले लोगों का प्रीमियम कम होता है.

मेडिकल चेक-अप

अगर आपकी आयु 45 वर्ष या उससे अधिक है, तो मेडिकल चेक-अप खास तौर पर पॉलिसी का हिस्सा होते हैं. इसलिए, हो सकता है कि मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसी जारी किए जाने से पहले, आपको मेडिकल जांच के प्रोसेस से गुज़रना पड़े.

 

आपके हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम को प्रभावित करने वाले कारक

निम्नलिखित कुछ कारकों के आधार पर आपकी पॉलिसी का प्रीमियम तय किया जाता है:

  • चुना गया सम इंश्योर्ड :आपका इंश्योरेंस प्रीमियम, इस बात पर निर्भर करता है कि आपने कौन सा कवरेज और कितना सम इंश्योर्ड चुना है.

  • कवर किए जाने वाले सदस्यों की संख्या: जब आप अपने फैमिली फ्लोटर हेल्थ इंश्योरेंस प्लान में इंश्योर्ड सदस्यों की संख्या में बढ़ोत्तरी करते हैं तो आपके पॉलिसी प्रीमियम में बदलाव होता है.

  • आयु : युवा, वृद्ध लोगों की तुलना में अधिक स्वस्थ होते हैं और उनसे जुड़े जोखिम कम होते हैं। इसलिए अगर आप युवा होने पर हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते हैं, तो प्रीमियम कम होता है.

  • ✓ Body mass index (BMI): BMI is the ratio of your height and weight. If your BMI is beyond the normal limit, then you might have to pay a higher insurance premium.

  • मेडिकल हिस्ट्री : अगर आपके परिवार में पहले से कोई बीमारी चली आ रही है या आपकी मेडिकल हिस्ट्री थोड़ी जटिलता भरी है, तो आपको अधिक प्रीमियम देना पड़ सकता है.

  • तंबाकू का सेवन : अगर आप धूम्रपान करते हैं या तंबाकू और तंबाकू के प्रॉडक्ट्स चबाते हैं तो आपकी प्रीमियम की कीमत अधिक हो सकती है.

  • लिंग :महिलाओं को पुरुषों की तुलना में अधिक प्रीमियम का भुगतान करने की आवश्यकता हो सकती है क्योंकि वे अपेक्षाकृत अधिक बार हॉस्पिटल जाती हैं.

आपकी मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसी प्रीमियम की कीमतें सबसे ज़्यादा इस बात पर निर्भर करती है कि आपने कौन सा कवरेज चुना है. आपका कवरेज जितना विस्तृत होगा, आपके हेल्थ इंश्योरेंस के प्रीमियम की कीमतें उतनी ही अधिक होंगी.

 

अपने हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम को ऑनलाइन कैलकुलेट करने के कुछ जरूरी स्टेप्स

 

आप अपनी पॉलिसी के लिए भुगतान किए जाने वाले प्रीमियम की अनुमानित राशि जानने के लिए बजाज आलियांज़ के फ्री हेल्थ इंश्योरेंस कैलकुलेटर का उपयोग कर सकते हैं. अपने हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम की ऑनलाइन गणना करने के चरण इस प्रकार हैं, जिनसे आप तेज़ी से और आसानी से प्रीमियम की गणना कर सकते हैं:

  • चरण 2: अपनी व्यक्तिगत जानकारी जैसे- अपना नाम, अपनी जन्मतिथि, आप जिस इंश्योरेंस पॉलिसी को खरीदना चाहते हैं, आपका पिन कोड और कॉन्टेक्ट नंबर दर्ज करें व परिवार के उन सदस्यों की जानकारी भी दर्ज करें, जिन्हें आप चुने हुए प्लान के तहत कवर करना चाहते हैं.

  • चरण 3: 'कोटेशन जानें' के बटन पर क्लिक करें.

  • चरण 4 : आपके इंश्योरेंस प्रीमियम से जुड़ी जानकारी स्क्रीन पर दिखाई जाएगी, जहां से आप अपनी सुविधा के हिसाब से सह-भुगतान का विकल्प चुन सकते हैं और ऑनलाइन हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने के लिए ‘प्लान कन्फर्म करें’ के बटन पर क्लिक कर सकते हैं.

Once you receive the insurance quotes & make the online payment of your premium, you will get your health insurance policy (softcopy) immediately.

 

आपको हेल्थ इंश्योरेंस प्लान की ऑनलाइन तुलना क्यों करनी चाहिए?

मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसियों की ऑनलाइन तुलना करने से हेल्थकेयर आवश्यकताओं को पूरा करने वाला बेहतर विकल्प चुनने में मदद मिलती है. हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी चुनना अक्सर एक मुश्किल काम माना जाता है. हम समझते हैं कि बहुत से विकल्प उपलब्ध होने के कारण आप उलझन का शिकार हो सकते हैं. 

 इसलिए, आइए हम पॉलिसियों की ऑनलाइन तुलना करने के कुछ प्रमुख लाभों को समझते हैं:

 

  • सुलभ और समय की बचत:

    आपकी पॉलिसी से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी बस कुछ क्लिक में उपलब्ध है. इससे आपको विश्वसनीय और सही जानकारी एक ही जगह पर मिल जाती है और इंश्योरेंस एजेंट से बात करने में लगने वाला आपका समय भी बचता है.

 
  • मुफ्त कोटेशन/कोई खर्च नहीं:

    आप ऑनलाइन कैलकुलेटर की मदद से हेल्थ इंश्योरेंस कोटेशन की तुलना कर सकते हैं और अपने बजट और आवश्यकताओं के अनुसार सबसे अच्छी कोटेशन चुन सकते हैं. इसमें कोई ब्रोकरेज या एजेंट शुल्क शामिल नहीं होता है. इसके अलावा, ऑनलाइन प्रीमियम का भुगतान किफायती कीमतों पर पॉलिसी प्राप्त करने में आपकी मदद करता है.

 
  • आसानी से कई प्लानों की तुलना करें:

    हेल्थ इंश्योरेंस प्लान की ऑनलाइन तुलना करना सुविधाजनक और आसान है. आप प्लान देख सकते हैं, और उनकी विशेषताओं, लाभों और प्रीमियम की तुलना कर सकते हैं. इसके अलावा, पॉलिसी खरीदने या रिन्यू करने की बात करें तो, तो ये काम कागज़ी कार्यवाही की परेशानियों के बिना डिजिटल रूप से किए जा सकते हैं.

 
  • कस्टमर रिव्यू चेक करें:

    मार्केट में बहुत से हेल्थ इंश्योरेंस प्लान उपलब्ध हैं, जिनके ऑनलाइन रिव्यू एक सही इंश्योरर चुनने में आपकी मदद कर सकते हैं और इसके अलावा, कंपनी के क्लेम सेटलमेंट रेशियो के बारे में अवश्य जानें. ऐसा इंश्योरर चुनें, जिसका मार्केट में अच्छा नाम हो क्योंकि इससे आपको तेज़ी से क्लेम सेटलमेंट करने में मदद मिलती है.

 

हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम प्रोसीज़र

हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम कैशलेस या क्लेम रीइम्बर्समेंट के ज़रिए सेटल किया जा सकता है. आपके हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम को सेटल करने के दोनों तरीके आसान, तेज़ और सुविधाजनक हैं.

  • कैशलेस हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम सेटलमेंट

    कैशलेस क्लेम के तहत आपको अपनी बीमारी का इलाज कराने के लिए, अपनी जेब से कुछ भी खर्च करने की ज़रूरत नहीं है. लेकिन यह लाभ तभी उठाया जा सकता है जब आप इंश्योरर के नेटवर्क में शामिल हॉस्पिटल में भर्ती होते हैं.

    आपका मेडिकल बिल, नेटवर्क हॉस्पिटल और आपके हेल्थ इंश्योरर द्वारा आपकी पॉलिसी में लिखे नियमों और शर्तों के अनुसार सेटल किया जाएगा. भारत की अधिकतर हेल्थ इंश्योरेंस कंपनियां एक हेल्थ कार्ड प्रदान करती हैं, जिसका उपयोग नेटवर्क हॉस्पिटल में से किसी भी एक हॉस्पिटल में कैशलेस ट्रीटमेंट का लाभ उठाने के लिए किया जा सकता है.

  • रीइंबर्समेंट हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम सेटलमेंट

    अगर आप अपनी बीमारी का इलाज एक नॉन-नेटवर्क हॉस्पिटल में करवाते हैं या अगर आपके द्वारा चुना गया हॉस्पिटल नेटवर्क हॉस्पिटल नहीं है, तो आप एक रीइम्बर्समेंट हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम कर सकते हैं. क्लेम फाइल करने के लिए, आपको अपने हॉस्पिटल के बिल और कराए गए इलाज से जुड़े मेडिकल रिकॉर्ड को अपने इंश्योरर के पास सबमिट करना होगा. इन डॉक्यूमेंट्स के सत्यापित होने के बाद, क्लेम की राशि आपके रजिस्टर्ड बैंक अकाउंट में भेज दी जाएगी.

  • प्लान किया गया हॉस्पिटलाइज़ेशन

    अगर आपकी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी मोतियाबिंद की सर्जरी जैसी मेडिकल प्रोसीज़र को कवर करती है, तो आप बिना कोई भुगतान किए सर्जरी करवाने के लिए कैशलेस क्लेम सुविधा का उपयोग कर सकते हैं. आपको केवल नेटवर्क अस्पताल में एक प्री-ऑथराइज़ेशन फॉर्म भरना होगा और वे इस फॉर्म को आपके इंश्योरर को भेजेंगे. इसके बाद आपका इंश्योरर, दी गई आवश्यक जानकारी को सत्यापित करेगा और कैशलेस इलाज की मंज़ूरी देगा.

  • एमरज़ेंसी हॉस्पिटलाइज़ेशन

    एमरज़ेंसी के मामले में, जैसे- दुर्घटना के मामले में, आप अपनी इंश्योरेंस कंपनी द्वारा दिए गए हेल्थ कार्ड का उपयोग कर सकते हैं और इसे प्री-ऑथराइज़ेशन लेटर के साथ सबमिट कर सकते हैं. इसका अप्रूवल मिलने के बाद आप कैशलेस क्लेम का लाभ उठा सकते हैं. अगर अप्रूवल नहीं मिलता है, तो आप रीइम्बर्समेंट हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम सेटलमेंट प्रोसेस का तरीका चुन सकते हैं.

  • हेल्थ सीडीसी

    Health CDC (Claim by Direct Settlement) is a feature provided by Bajaj Allianz for settling your health insurance claims up to ₹ 20,000 instantly using our mobile app - Caringly Yours.

हेल्थ इंश्योरेंस में नेटवर्क हॉस्पिटल क्या हैं?

नेटवर्क हॉस्पिटल एक ऐसा हॉस्पिटल है, जिसके साथ आपकी हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी का एक एग्रीमेंट होता है. हॉस्पिटल और आपके इंश्योरेंस प्रदाता के बीच के इस टाई-अप से ही आप कैशलेस हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम का लाभ उठा सकते हैं. आप बजाज आलियांज़ के नेटवर्क हॉस्पिटल्स की लिस्ट ऑनलाइन देख सकते हैं.

आप हमारी वेबसाइट पर हॉस्पिटल या शहर का नाम दर्ज करके उस नेटवर्क हॉस्पिटल को खोज सकते हैं, जहां आप मेडिकल उपचार प्राप्त करना चाहते हैं. खोज से संबंधित विवरण दर्ज करने के बाद, आपको 'हॉस्पिटल खोजें' बटन पर क्लिक करना होगा. आपके खोज विवरणों के आधार पर आपको नेटवर्क हॉस्पिटल्स की एक लिस्ट दिखाई जाएगी.

 

आपके या आपके परिवार के सदस्यों के इलाज के लिए एक नेटवर्क अस्पताल चुनने के लाभ कुछ इस प्रकार हैं:

 

  • आपको कैशलेस क्लेम का लाभ मिलता है, जिससे आपको इलाज में होने वाले खर्च का भुगतान नहीं करना पड़ता.

  • आपको अच्छी तरह से प्रशिक्षित डॉक्टरों, नई तरह के मेडिकल इक्विपमेंट और बेहतर हॉस्पिटैलिटी के साथ, सबसे बेहतर इलाज का वादा मिलता है.

  • आप आराम से अपना इलाज करवा सकते हैं, क्योंकि आपके मेडिकल बिल का भुगतान हेल्थ इंश्योरेंस प्रदाता द्वारा किया जाएगा.

  • आपको हॉस्पिटलाइज़ेशन के दौरान और हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले और बाद के ट्रीटमेंट के लिए आवश्यक देखभाल की सुविधा मिलती है.

हेल्थ इंश्योरेंस के टैक्स बेनिफिट्स

इनकम टैक्स एक्ट, 1961 का सेक्शन 80डी, हेल्थ इंश्योरेंस के लिए चुकाए जाने वाले प्रीमियम पर टैक्स कटौती का लाभ उठाने की सुविधा देता है. इसका लाभ टॉप-अप और क्रिटिकल इलनेस प्लान के लिए भुगतान किए जाने वाले प्रीमियम के साथ-साथ सामान्य हेल्थ इंश्योरेंस के प्रीमियम पर भी उठाया जा सकता है.

आप इस कटौती का लाभ सेक्शन 80D के तहत उन प्रीमियम पर उठा सकते हैं, जिनका भुगतान आपने स्वयं, आश्रित बच्चों, पति/पत्नी और माता-पिता के लिए पॉलिसी खरीदते समय किया है.

भुगतान किया गया प्रीमियम, प्रत्येक फाइनेंशियल वर्ष में सेक्शन 80डी के तहत रु. 25,000 तक की कटौती के लिए पात्र है. अगर आपके माता-पिता या उनमें से कोई भी एक व्यक्ति सीनियर सिटीज़न हैं, तो एक फाइनेंशियल वर्ष में टैक्स छूट की लिमिट रु. 50,000 तक हो सकती है.

2021-22 के हिसाब से इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80 डी के तहत किसी व्यक्ति को मिलने वाली टैक्स कटौतियों को समझने के लिए नीचे दी गई टेबल पर एक नज़र डालें:

किसके लिए उपलब्ध

भुगतान किया गया प्रीमियम

टैक्स exemption

 

स्वयं, बच्चे और परिवार

माता-पिता

 

व्यक्ति और 60 वर्ष से कम आयु के माता-पिता

₹ 25,000

₹ 25,000

₹ 50,000

60 वर्ष से कम आयु के व्यक्ति और परिवार, लेकिन माता-पिता की आयु 60 वर्ष से अधिक हो

₹ 25,000

₹ 50,000

₹ 75,000

60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति, माता-पिता और परिवार

₹ 50,000

₹ 50,000

₹ 1,00,000

एचयूएफ के सदस्य और अनिवासी व्यक्ति

₹ 25,000

₹ 25,000

₹ 25,000

डिस्क्लेमर: टैक्स लाभ प्रचलित कानूनों के अनुसार बदलाव के अधीन हैं.

मेडिक्लेम पॉलिसी क्या है?

मेडिकल एमरज़ेंसी बिन बताए आती हैं. ऐसे में अगर आपके पास हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी नहीं है, तो आपको भारी मेडिकल बिल का भुगतान करना पड़ सकता है. बढ़ते हेल्थकेयर खर्चों के बावजूद लोग खुद को या अपने परिवार को एक सही मेडिक्लेम पॉलिसी के साथ कवर नहीं करते.

मेडिक्लेम पॉलिसी ऐसा इंश्योरेंस कवरेज है जो हॉस्पिटलाइज़ेशन के कारण होने वाले मेडिकल खर्चों से आपको सुरक्षा प्रदान करती है. बीमारी या दुर्घटना के कारण हॉस्पिटलाइज़ेशन के मामले में मेडिक्लेम पॉलिसी आपको फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करती है. समय पर प्रीमियम का भुगतान करके मेडिक्लेम पॉलिसी के लाभ लगातार उठाए जा सकते हैं.

हेल्थ इंश्योरेंस से जुड़ी कुछ ऐसी सामान्य शर्तें जिनके प्रति आपको सजग रहना चाहिए

✓ Sum Insured (SI): Sum Insured is the maximum amount that your health insurance company is liable to pay. If the expenses of your medical treatment exceed the Sum Insured opted by you, then you will have to pay the amount over the such Sum Insured on your own. Thus, you should opt for plan with a higher Sum Insured.

 

✓ पहले से मौजूद बीमारियाँ: If you are suffering from an ailment before buying an insurance policy, then that ailment is classified as a पहले से मौजूद बीमारी.

 

✓ प्रतीक्षा अवधि: अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के कुछ या सभी कवरेज लाभों को प्राप्त करने के लिए आपको इस अवधि के पूरा होने का इंतज़ार करना होगा. उदाहरण के तौर पर, बहुत सी पॉलिसियों में एक निश्चित प्रतीक्षा अवधि होती है और उसके बाद ही उनसे, पहले से मौजूद बीमारियों के लिए कवरेज मिलता है.

 

✓ सब-लिमिट: Sub-limits are limitations that your health insurance providers place to restrict the expenses that they need to pay for a particular ailment. This is mainly done to reduce the cases of fraudulent claims. Most insurance companies have sub-limits on room rents, common ailments, pre-planned procedures, ambulance expenses, and doctor’s fees. सब-लिमिट can be a fixed percentage of the Sum Insured opted by you, or a fixed amount as agreed with the insurer.

 

✓सह-भुगतान: Co-payment or co-pay is a fixed percentage of the claim amount that you need to pay before the insurance company pays for the same. You can opt for the co-payment clause when you buy or renew your health insurance policy. Since it is the amount that you need to pay from your own pocket, it helps to reduce the premium amount.

 

✓ डिडक्टिबल: डिडक्टिबल आपके और आपकी इंश्योरेंस कंपनी के बीच आपके हेल्थ केयर खर्चों को शेयर करने का एक तरीका है. यह एक ऐसी निर्धारित राशि है जिसका पॉलिसीधारक को हर बार तब भुगतान करना पड़ता है, जब वह इंश्योरेंस क्लेम फाइल करता है. अगर आप डॉक्टर के पास या हॉस्पिटल में कभी-कभार जाते हैं, तो अधिक डिडक्टिबल वाला प्लान आपके लिए फायदेमंद हो सकता है. इसके अलावा, अधिक डिडक्टिबल इंश्योरेंस प्रीमियम को कम करने में भी मदद करता है.

 

कमरे के किराए की लिमिट : अगर आप हॉस्पिटल में भर्ती हैं, तो कमरे के किराए की लिमिट उतनी होगी, जितना आपकी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी द्वारा आपको प्रति दिन कमरे के शुल्क के लिए दिया गया अधिकतम कवरेज है.

 

✓ को-इंश्योरेंस: अगर आपके पास कई हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी हैं, तो आप उन सभी के तहत क्लेम फाइल कर सकते हैं और आपको अपने द्वारा तय किए गए प्रतिशत के हिसाब से सभी हेल्थ इंश्योरेंस कंपनियों द्वारा क्लेम की राशि रीइम्बर्स की जाएगी. इस तरीके को ही 'को-इंश्योरेंस' कहते हैं.

So, if you decide the coinsurance between two insurance companies, A and B, as 40% and 60% respectively, then on a claim of ₹ 1 lakh, company A will reimburse ₹ 40,000 to you and company B will reimburse ₹ 60,000 to you, as per the terms and conditions of the health insurance policies.

 

✓ फ्री-लुक पीरियड: हेल्थ इंश्योरेंस कंपनियां फ्री-लुक पीरियड प्रदान करती हैं. आमतौर पर यह अवधि, ऑफलाइन खरीदी गई पॉलिसी के लिए 15 दिन और ऑनलाइन खरीदी गई पॉलिसी के लिए 30 दिन की होती है. इस अवधि में, आप अपनी पॉलिसी को चेक कर सकते हैं और यह तय कर सकते हैं कि यह आपके लिए सबसे सही पॉलिसी है या नहीं.

If you think that isn’t adequate for you, then you can cancel this policy within the said period. No cancellation charges will be applicable during the फ्री-लुक पीरियड. However, a premium will be charged on pro-rata basis for the days the coverage was active.

 

✓ ग्रेस अवधि: After the expiry of your health insurance policy, you have a time span of 30 days to renew it. This 30-day period is the ग्रेस पीरियड.

If you renew your policy within these 30 days, then you will get the benefits of your medical insurance policy, like waiting period, coverage for pre-existing diseases etc., reinstated. Any claims made during the grace period will not be covered by the insurer.

हेल्थ इंश्योरेंस और मेडिक्लेम इंश्योरेंस के बीच अंतर

लोगों द्वारा अक्सर की जाने वाली आम गलतियों में से एक यह है कि मेडिक्लेम, हेल्थ इंश्योरेंस की ही तरह होता है. लेकिन ऐसा नहीं है. इसलिए, आइए हम हेल्थ इंश्योरेंस और मेडिक्लेम इंश्योरेंस के बीच के अंतर को समझते हैं.

 

पैरामीटर हेल्थ इंश्योरेंस मेडिक्लेम पॉलिसी
कवरेज

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान मे हॉस्पिटलाइज़ेशन, ट्रीटमेंट से पहले और बाद के खर्चों, एम्बुलेंस शुल्क आदि के लिए कवरेज प्रदान किया जाता है.

इसमें हॉस्पिटलाइज़ेशन, दुर्घटना से जुड़े ट्रीटमेंट और पहले से मौजूद बीमारियों के लिए, पहले से तय लिमिट तक कवर मिलता है.

फ्लेक्सिबिलिटी

यह मामूली प्रीमियम का भुगतान करके प्लान के लाभों को बढ़ाने की सुविधा प्रदान करता है.

कवरेज के मामले में, मेडिक्लेम पॉलिसी में यह सुविधा नहीं होती है.

अतिरिक्त कवर

यह बहुत से ऐड-ऑन प्रदान करता है.

कोई ऐड-ऑन कवर उपलब्ध नहीं है.

क्रिटिकल इलनेस कवर

यह 10 से अधिक जानलेवा बीमारियों के लिए कवर प्रदान करता है.

गंभीर बीमारी के लिए कवर उपलब्ध नहीं होता. 

कम आयु में मेडिकल इंश्योरेंस खरीदने के लाभ

कम आयु में मेडिकल इंश्योरेंस खरीदना बहुत लाभदायक होता है क्योंकि इससे आपको मेडिकल बिल का भुगतान करने की चिंता नहीं करनी पड़ती है. जब आप जल्दी कमाना शुरू करते हैं, तो भविष्य के लिए बचत करना महत्वपूर्ण हो जाता है. 

 

कम आयु में मेडिकल इंश्योरेंस खरीदने के लाभ यहां दिए गए हैं:

  • किसी भी ऐसी हेल्थ एमरज़ेंसी के लिए कम्प्रीहेंसिव कवरेज प्रदान करता है, जो आपके लिए फाइनेंशियल परेशानी की वजह बन सकती है.

  • पहले से मौजूद किसी भी बीमारी के मामले में, आप अपनी प्रतीक्षा अवधि को पहले ही पूरी कर सकते हैं और इस तरह आपको ट्रीटमेंट के समय अपनी हेल्थ से समझौता करने की कोई ज़रूरत नहीं है.

  • कम आयु में, आपके बीमार पड़ने या आपको कोई बीमारी होने की उम्मीद कम होती है. इस प्रकार, इस आयु में इंश्योरेंस प्रीमियम किफायती भी होते हैं.

  • सेक्शन 80डी के तहत टैक्स लाभ, इनकम पर बचत करने का मौका देते हैं और आप इस पैसे का उपयोग करके अपने सुरक्षित भविष्य की प्लानिंग कर सकते हैं.

  • हेल्थ इंश्योरेंस प्लान संचयी बोनस प्रदान करते हैं, जो बिना क्लेम वाले हर वर्ष के बाद आपके सम इंश्योर्ड को बढ़ाने में मदद करता है. अगर आप हेल्थ इंश्योरेंस कम आयु में खरीदते हैं, तो क्लेम फाइल करने की संभावना कम होती है. इससे आपको लंबे समय तक अधिक सम इंश्योर्ड का लाभ उठाने में मदद मिल सकती है.

  • आप ऐड-ऑन राइडर का उपयोग करके अपने इंश्योरेंस कवरेज को बढ़ा सकते हैं. इन राइडर से हेल्थ इंश्योरेंस प्लान और अधिक कम्प्रीहेंसिव हो जाता है.

जब आप युवा होते हैं, तो आपके किसी पुरानी बीमारी या रोग की चपेट में आने की संभावना कम होती है. इसलिए, जब आप युवा और स्वस्थ होते हैं, तो फाइनेंशियल इन्वेस्टमेंट करना समझदारी भरा काम है. यह आपको जीवन भर महत्वपूर्ण लाभ प्राप्त करने की सुविधा देता है.

स्वास्थ्य वास्तव में सबसे बड़ा धन है. सुस्त लाइफ स्टाइल, बढ़ते प्रदूषण और अन्य कारकों के कारण स्वास्थ्य बड़ी चिंता का विषय हो गया है. ऐसे में, कम्प्रीहेंसिव हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी होने से आपको एमरज़ेंसी के दौरान मेडिकल ट्रीटमेंट से जुड़े खर्चों को पूरा करने में मदद मिलेगी.

भारत में हेल्थ इंश्योरेंस खरीदने के लिए जरूरी दस्तावेज

1.     पासपोर्ट-साइज़ की फोटो

2.     पॉलिसी प्रपोजल फॉर्म

3. निवास प्रमाण पत्र :आप अपने निवास प्रमाण के रूप में निम्नलिखित में से कोई भी दस्तावेज प्रस्तुत कर सकते हैं:

✓ वोटर आईडी

✓ आधार कार्ड

✓ पासपोर्ट

✓ बिजली का बिल

✓ ड्राइविंग लाइसेंस

✓ रेशन कार्ड

 

4.आयु प्रमाण : आप अपने आयु के प्रमाण के रूप में निम्नलिखित में से कोई भी डॉक्यूमेंट दे सकते हैं:

✓ पासपोर्ट

✓ आधार कार्ड

✓ बर्थ सर्टिफिकेट

✓ पैन कार्ड

✓ 10वीं या 12वीं की मार्कशीट

✓ वोटर आईडी

✓ ड्राइविंग लाइसेंस

 

5.पहचान का प्रमाण:आप अपने पहचान के प्रमाण के रूप में निम्नलिखित में से कोई भी डॉक्यूमेंट दे सकते हैं:

✓ आधार कार्ड

✓ ड्राइविंग लाइसेंस

✓ पासपोर्ट

✓ पैन कार्ड

✓ वोटर आईडी

आपके द्वारा चुने गए कवरेज के आधार पर, आपकी आयु, मेडिकल हिस्ट्री, वर्तमान लाइफस्टाइल से जुड़ी चीज़ें और आपके रेज़िडेंशियल एड्रेस के लिए आपसे कुछ और डॉक्यूमेंट्स मांगे जा सकते हैं.

ऑनलाइन हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदने के चरण

 

अगर आप ऑनलाइन हेल्थ इंश्योरेंस खरीदना चाहते हैं, तो आगे और न पढ़ें. आप निम्नलिखित चरणों की मदद से बजाज आलियांज़ की हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को ऑनलाइन, तेज़ी से और सुविधाजनक रूप से खरीद सकते हैं:

  • चरण 1

    पेज के ऊपरी दाएं कोने में मौजूद ‘मुझे खरीदना है’ के बटन पर क्लिक करें.

  • चरण 2

    आप जिस हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को खरीदना चाहते हैं, उसे चुनें.

  • चरण 3

    अपना नाम, अपनी जन्मतिथि, जो मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसी आप खरीदना चाहते हैं और चुनी गई हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी में कवर किए जाने वाले परिवार के अन्य सदस्यों की जानकारी, पिनकोड और कॉन्टेक्ट नंबर जैसी जानकारियां दर्ज करें.

  • चरण 4

    'कोटेशन जानें' के बटन पर क्लिक करें.

  • चरण 5

    आपकी हेल्थ इंश्योरेंस की कोटेशन और प्रीमियम से जुड़ी जानकारी स्क्रीन पर दिखाई जाएगी. यहां आप अपनी सुविधा के अनुसार को-पेमेंट का विकल्प भी चुन सकते हैं. इसके बाद, हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी ऑनलाइन खरीदने के लिए 'प्लान कन्फर्म करें' के बटन पर क्लिक करें.

प्रीमियम का ऑनलाइन भुगतान करने के बाद, आपको तुरंत हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी की सॉफ्ट कॉपी मिल जाएगी.

भारत में अधिकतर इंश्योरेंस कंपनियों की अपनी एक वेबसाइट होती है, जहां वे अपनी पॉलिसियों से जुड़ी सुविधाएं प्रदान करते हैं. बजाज आलियांज़ जनरल इंश्योरेंस सहित कुछ कंपनियों के पास आपकी ऑनलाइन इंश्योरेंस की जरूरतों को पूरा करने के लिए एक ऐप भी मौजूद है.

आप हमारे मोबाइल ऐप - केयरिंगली योर्स को डाउनलोड करके भी हमारी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीद सकते हैं, बस आप हमारे WhatsApp नंबर: +91 75072 45858 पर ‘Hi’

समय पर हेल्थ इंश्योरेंस रिन्यूअल का महत्व

आपकी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी द्वारा प्रदान किए गए कवरेज को लगातार जारी रखने के लिए हेल्थ इंश्योरेंस रिन्यूअल कराना बहुत ज़रूरी है. इसलिए हमेशा इंश्योरेंस प्लान के समाप्त होने से पहले रिन्यूअल कर लें. अगर आप पॉलिसी समाप्त होने के बाद भी रिन्यूअल नहीं करते हैं, तो इंश्योरर आपको 30 दिनों की ग्रेस अवधि देगा हेल्थ इंश्योरेंस रिन्यूअल . However, during this period of 30 days, you will not be covered for any health insurance claims. Lastly, if you miss renewing the policy even during the grace period, then any accumulated benefits such as the NCB (No-Claim Bonus), waiting period, etc. are lost.

अपनी बजाज आलियांज हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को रिन्यू करने के लिए, आप हमारी वेबसाइट पर जा सकते हैं या हमारा मोबाइल ऐप डाउनलोड कर सकते हैं : – कॅरिंगली युर्स. आप हमारे व्हाट्सएप नंबर (+91 75072 45858) पर हमें मेसेज भी भेज सकते हैं और हमारी कस्टमर सपोर्ट टीम आपकी आवश्यकता के अनुसार आपकी सहायता करेगी.

हेल्थ इंश्योरेंस पोर्टेबिलिटी

हेल्थ इंश्योरेंस पोर्टेबिलिटी से आपको अपनी मौजूदा इंश्योरेंस पॉलिसी के लाभ गंवाए बिना अपने इंश्योरेंस प्रदाता को स्विच करने की सुविधा मिलती है. इसलिए, अगर आप अपने वर्तमान मेडिकल इंश्योरेंस प्लान से संतुष्ट नहीं हैं या आप अपने मेडिकल इंश्योरेंस प्लान में कुछ और सुविधाएं चाहते हैं, तो आप अपने वर्तमान मेडिकल इंश्योरेंस प्लान में मिलने वाले सभी लाभों को बनाए रखते हुए अपने इंश्योरर को बदल सकते हैं या उसी कंपनी से दूसरी पॉलिसी का लाभ ले सकते हैं.

 

जब आप अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को स्विच करने का फैसला करते हैं, तो आपके पास निम्नलिखित विकल्प होते हैं:

  • आप एक इंश्योरेंस प्रदाता से दूसरे इंश्योरेंस प्रदाता में स्विच कर सकते हैं.
  • आप उसी हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी की ओर से दिए जाने वाले प्लान के बीच स्विच कर सकते हैं.
  • आप इंडिविजुअल पॉलिसी से फ्लोटर पॉलिसी में और फ्लोटर पॉलिसी से इंडिविजुअल पॉलिसी में स्विच कर सकते हैं.
  • You can apply for a revised Sum Insured (SI) with the new insurer.
  • आप अपनी मौजूदा हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के साथ दिए मिलने वाले कवरेज को बढ़ा सकते हैं. लेकिन, हो सकता है कि आपको कुछ मेडिकल टेस्ट से गुज़रना पड़े और इस कवरेज के लिए एक नई प्रतीक्षा अवधि हो सकती है.

 

हेल्थ इंश्योरेंस पोर्टेबिलिटी क्राइटेरिया:

  • आप अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को केवल इसे रिन्यू करते समय ही बदल सकते हैं.
  • अपनी मौजूदा पॉलिसी की समाप्ति से कम से कम 45 दिन पहले अपने नए हेल्थ इंश्योरेंस प्रदाता से संपर्क करें.
  • सुनिश्चित करें कि आपने इंश्योरेंस रिन्यूअल हर बार समय से कराया है.
  • मेडिकल इंश्योरेंस पोर्टेबिलिटी के लिए निम्नलिखित डॉक्यूमेंट्स सबमिट करें:

      ✓ पिछली हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसियां

      ✓ अपने जो क्लेम किए हैं उसका विवरण

      ✓ प्रपोजल फॉर्म

      ✓ आयु प्रमाण पत्र

      ✓ आपकी घोषणाओं से संबंधित डॉक्यूमेंट - डिस्चार्ज कार्ड, जांच रिपोर्ट, नया प्रिस्क्रिप्शन और क्लीनिकल कंडीशन

      ✓ इंश्योरर द्वारा मांगा गया कोई अन्य डॉक्यूमेंट

लेखक: बजाज आलियांज़ - अंतिम अपडेट: 11th जनवरी 2023

 

कस्टमर्स की राय

 

औसत रेटिंग:

 4.75

(3,912 रिव्यू और रेटिंग के आधार पर)

 

आशीष झुनझुनवाला

मैं खुश और संतुष्ट हूं, क्योंकि मेरा क्लेम सेटलमेंट 2 दिनों के अंदर अप्रूव हो गया ...

सुनीता एम. आहूजा

लॉकडाउन के समय में जिस तेज़ी से इंश्योरेंस कॉपी की डिलीवरी की गई. उसके लिए बजाज आलियांज़ टीम को धन्यवाद.

रेनी जोर्ज

मैं बजाज आलियांज़ वड़ोदरा की टीम, विशेष रूप से श्री हार्दिक मकवाना और श्री आशीष को धन्यवाद देना चाहता हूं...

सतीश चन्द कटोच

पॉलिसी लेते समय उपलब्ध सभी विकल्प को देखा जा सकता है. वेब के माध्यम से पॉलिसी लेने में कोई परेशानी नहीं होती है.

आशीष मुखर्जी

सभी के लिए बहुत आसान, कोई परेशानी नहीं, कोई कन्फ्यूजन नहीं. हमारी शुभकामनाएं.

जयकुमार राव

बहुत ही यूज़र फ्रेंडली. मुझे 10 मिनट से कम समय में मेरी पॉलिसी मिल गई.

 

हेल्थ इंश्योरेंस से जुड़े कुछ आम सवाल

 

 

 

   क्या भारत में हेल्थ इंश्योरेंस खरीदना अनिवार्य है?

भारत में हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदना अनिवार्य नहीं है. लेकिन किसी भी प्रकार की मेडिकल एमरजेंसी को संभालने के लिए कोई भी फाइनेंशियल सुरक्षा होना बहुत महत्वपूर्ण है.

    बजाज आलियांज़ की हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के साथ मुझे क्या मिलेगा?

हमारी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के साथ, आपको 60 दिनों तक के प्री-हॉस्पिटलाइज़ेशन और 90 दिनों तक के पोस्ट-हॉस्पिटलाइज़ेशन खर्चों के लिए कवरेज का लाभ मिलता है. पॉलिसी में हॉस्पिटल के खर्च, एम्बुलेंस फीस, कमरे का किराया और बोर्डिंग खर्च शामिल हैं (चुने गए प्रॉडक्ट के आधार पर कवरेज अलग-अलग होंगे). आप पूरे भारत में हमारे 8,000 से अधिक हॉस्पिटलों में कैशलेस ट्रीटमेंट का लाभ उठा सकते हैं. हम आपको पूरी तरह से तनाव मुक्त रहने के लिए मेडिकल टेस्ट, फिज़िशियन की फीस/डॉक्टर की कंसल्टेशन फीस और एम्बुलेंस फीस भी प्रदान करते हैं!

   क्या मुझे हेल्थ इंश्योरेंस ऑनलाइन खरीदना चाहिए?

यदि आप एक त्वरित और परेशानी मुक्त खरीद चाहते हैं, तो ऑनलाइन खरीदारी एक अच्छा तरीका है. हम यहां अधिमूल्य व्यक्तिगत अंगरक्षक पॉलिसी को आसानी से और कुशलता से खरीदने में आपकी मदद करने के लिए हैं. हमारे कई भुगतान विकल्प आपके भुगतान संकट को और कम कर देंगे.

आपकी मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसी ऑनलाइन जारी की गई है, जो आपको कागज़ी प्रति वहन के प्रयास से बचाती है. ये सभी कारक, बेहतर कस्टमर सपोर्ट के साथ, ऑनलाइन पॉलिसी खरीदने के लिए बेहतर विकल्प बनाते हैं.

   मैं हेल्थ इंश्योरेंस की मदद से अपना टैक्स कैसे बचा सकता हूँ?


बजाज आलियांज़ की हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी आपके द्वारा भुगतान किए गए प्रीमियम के लिए सेक्शन 80D के तहत रु. 1 लाख तक का टैक्स बचाने में मदद करती है. यहां जानें कि आप टैक्स कैसे बचा सकते हैं:

आप अपने लिए, स्पाउस, बच्चों और आपके माता-पिता के लिए भुगतान किए गए प्रीमियम पर, अपनी टैक्स योग्य आय पर प्रति वर्ष रु. 25,000 के डिडक्टिबल का लाभ उठा सकते हैं (बशर्ते आपकी आयु 60 वर्षों से अधिक नहीं हैं). 

अगर आप अपने माता-पिता के लिए प्रीमियम का भुगतान करते हैं, जो वरिष्ठ नागरिक हैं (जिनकी उम्र 60 या उससे अधिक है), तो आप अधिकतम रु. 50,000 तक का टैक्स लाभ पा सकते हैं.

इसलिए, एक टैक्सपेयर के रूप में, अगर आपकी आयु 60 वर्ष से कम है और आपके माता-पिता सीनियर सिटीज़न हैं, तो आप सेक्शन 80D के तहत कुल रु. 75,000 तक का टैक्स लाभ पा सकते हैं. 

अगर आपकी आयु 60 वर्ष से अधिक है और आप अपने माता-पिता के लिए मेडिकल इंश्योरेंस प्रीमियम का भुगतान कर रहे हैं, तो सेक्शन 80D के तहत अधिकतम टैक्स लाभ रु. 1 लाख है.

   हेल्थ इंश्योरेंस कौन खरीद सकता है?

अगर आप एक भारतीय नागरिक हैं और 18 वर्ष से अधिक आयु के हैं, तो आप भारत में एक हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीद सकते हैं. अगर आप नाबालिग हैं (18 वर्ष से कम आयु के), तो आपके माता-पिता आपको अपनी इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत कवर कर सकते हैं.

   हेल्थ इंश्योरेंस में क्या कवर किया जाता है?

हेल्थ इंश्योरेंस हॉस्पिटलाइज़ेशन के लिए कवरेज प्रदान करता है, जिसमें हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले और बाद के खर्चों, डॉक्टर की कंसल्टेशन फीस और इन-पेशेंट खर्च शामिल हैं.

   मैंने पहले से ही लाइफ इंश्योरेंस में निवेश किया हुआ है। क्या मुझे अभी भी हेल्थ इंश्योरेंस की जरूरत है?

लाइफ इंश्योरेंस एक बेहतरीन इन्वेस्टमेंट और डेथ कवर विकल्प है, लेकिन इसमें बढ़ते मेडिकल खर्चों के भुगतान की विशेषता नहीं होती है. हेल्थ इंश्योरेंस, हॉस्पिटलाइज़ेशन की स्थिति में आपकी देखभाल करता है और भारी मेडिकल खर्चों का भुगतान करता है. इसलिए, हेल्थ पॉलिसी अप्रत्याशित स्वास्थ्य संबंधी खर्चों के लिए आपको कवर करती है, जो आपकी बचत को कम करने का कारण बन सकते हैं.

   प्रवेश की आयु और समाप्ति आयु का क्या मतलब है?

प्रवेश आयु का मतलब है कि आपकी एक निश्चित आयु होनी चाहिए, ताकि आप हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत कवरेज प्राप्त कर सकें. 

दूसरी ओर, समाप्ति आयु का मतलब यह है कि एक निश्चित आयु सीमा पार करने के बाद आपको हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत कवर नहीं किया जाएगा. 

प्रवेश की आयु और समाप्ति आयु अलग-अलग पॉलिसी के लिए अलग-अलग होती है.

   'फ्री-लुक पीरियड' क्या है?

देश की हेल्थ इंश्योरेंस कंपनियां आपको फ्री-लुक पीरियड प्रदान करती हैं, जिसके दौरान, आप खरीदी गई पॉलिसी का विश्लेषण कर सकते हैं. अगर आपको लगता है कि यह प्लान आपके लिए उपयुक्त नहीं है, तो आप बिना किसी कैंसलेशन शुल्क के अपनी इंश्योरेंस पॉलिसी को इस अवधि में कैंसल कर सकते हैं.

   ‘डिपेंडेंट’ किन्हें माना जाता है?

आपके बच्चे, पति/पत्नी, माता-पिता और सास-ससुर को आपकी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी में आश्रित के रूप में जोड़ा जा सकता है.

   कॉ-पेमेंट क्या होता है? ‘डिडक्टिबल्स’ क्या हैं?

को-पेमेंट क्लेम राशि का निश्चित प्रतिशत है, जिसका भुगतान आपको हर इंश्योरेंस क्लेम के लिए करना होता है. 

दूसरी ओर, डिडक्टिबल एक निश्चित राशि है, जिसका भुगतान आपको हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम दर्ज करते समय करना होता है.

   सम इंश्योर्ड के ‘रिस्टोरेशन’ और ‘रिइंस्टेटमेंट’ का क्या मतलब होता है?

सम अश्योर्ड का रीस्टोरेशन या रीइंस्टेटमेंट का मतलब यह है कि अगर आपका मौजूदा एसआई समाप्त हो जाता है, तो उसी पॉलिसी वर्ष में अगले हॉस्पिटलाइज़ेशन खर्चों के लिए आपको कवर करने के लिए ऑटोमैटिक रूप से यह राशि दोबारा उपलब्ध हो जाएगी. ध्यान रखें, आप रीस्टोरेशन लाभ को अगले वर्ष में नहीं ले जा सकते हैं, और उसी बीमारी/चोट के लिए भी इसका उपयोग नहीं किया जा सकता है, जिसके लिए आपने अपने पॉलिसी वर्ष में एक बार क्लेम कर लिया है.

   हेल्थ इंश्योरेंस में डे-केयर का क्या लाभ है?

टेक्नोलॉजी में हुई तरक्की के साथ, आपको सेप्टोप्लास्टी या लिथोट्रिप्सी जैसी प्रोसीज़र के लिए हॉस्पिटल में भर्ती होने की आवश्यकता नहीं होती है. लेकिन इन प्रोसीज़र से संबंधित मेडिकल खर्च महंगे हैं. डे-केयर कवरेज के साथ हेल्थ इंश्योरेंस प्लान लेना लाभदायक होता है, ताकि आपको इन प्रकार की सर्जरी या मेडिकल प्रोसीज़र के लिए कवर किया जा सके, जहां हॉस्पिटलाइज़ेशन की अवधि 24 घंटों से अधिक नहीं होती है.

   ‘कोई एक बिमारी’ का क्या मतलब है?

कोई भी एक बीमारी, लगातार बीमारी की अवधि को दर्शाती है, जिसमें आपकी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के नियम और शर्तों के अनुसार कुछ दिनों के भीतर कोई भी पुनरावृत्ति भी शामिल है.

   इंश्योरेंस हेल्थ चेक-अप सुविधा में कैसे मदद करता है?

अगर आप बिना किसी इंश्योरेंस क्लेम फाइल किए अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को लगातार 4 वर्षों तक रिन्यू करते हैं, तो आप मुफ्त हेल्थ चेक-अप के लिए पात्र हैं. इस हेल्थ चेक-अप से संबंधित खर्च आपके इंश्योरर द्वारा वहन किए जाते हैं.

   मिनिमम और मैक्सिमम पॉलिसी पीरियड क्या हैं?

आप 1, 2 या 3 वर्ष की अवधि के लिए हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीद सकते हैं. अगर आप लॉन्ग टर्म हेल्थ इंश्योरेंस प्लान (1 साल से अधिक अवधि) खरीदते हैं, तो आप अच्छी-खासी छूट पा सकते हैं.

   हेल्थ इंश्योरेंस से जुड़ी कौन-कौन सी गलत जानकारियाँ प्रचलित हैं?

हेल्थ इंश्योरेंस से जुड़ी कुछ गलत जानकारियाँ:

✓ जब भी आप कोई हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदते हैं, तो बस आपको खरीदते समय ही लिस्टेड अस्पतालों की जांच करनी पड़ती है.

✓ नियोक्ता द्वारा प्रदान किया गया हेल्थ इंश्योरेंस आपको कवर करने के लिए पर्याप्त है.

✓ अगर आपके पास हेल्थ इंश्योरेंस है, तो आपके सभी मेडिकल खर्च उसमें कवर हो जाते हैं.

✓ अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको कम से कम 3 घंटों के लिए हॉस्पिटल में भर्ती होना होगा.

✓ अगर आप फिट हैं तो आपको हेल्थ इंश्योरेंस की जरूरत नहीं है.

✓ धूम्रपान करने वाले व्यक्ति हेल्थ इंश्योरेंस नहीं खरीद सकते हैं.

 

    मुझे पहले से मौजूद बीमारियों और प्रतीक्षा अवधि के बारे में क्या पता होना चाहिए?

पहले से मौजूद बीमारियां, वे बीमारियां हैं, जिनसे आप मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने से पहले पीड़ित हो सकते हैं. इसलिए, आपको खरीदते समय पहले से मौजूद किसी भी बीमारी/स्थिति की घोषणा करनी चाहिए.

आपके लिए ध्यान में रखने वाले प्रमुख कारकों में से एक यह है कि पहले से मौजूद बीमारियों की प्रतीक्षा अवधि होती है, और यह अलग-अलग इंश्योरेंस कंपनियों के बीच अलग-अलग होती है. इसलिए, आप युवावस्था में पॉलिसी खरीदें, क्योंकि अगर आपमें पहले से मौजूद कैटेगरी में आने वाली किसी बीमारी का पता चलता है, तो इसकी प्रतीक्षा अवधि तब तक पूरी हो जाएगी. इसके अलावा, जल्दी पॉलिसी खरीदने से यह सुनिश्चित होता है कि आप अपनी मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसी के पूरे लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र हैं.

   सब-लिमिट राशि में कौन से खर्च शामिल हैं?

सब-लिमिट वह अधिकतम राशि है, जो आपकी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी आपके मेडिकल खर्चों के लिए भुगतान करेगी. सब-लिमिट आमतौर पर रूम रेंट, हॉस्पिटलाइज़ेशन के बाद के खर्च, एम्बुलेंस शुल्क, ऑक्सीजन सप्लाई, डॉक्टर की फीस, डायग्नोस्टिक टेस्ट और इस तरह के शुल्क पर लगाई जाती हैं.

   हेल्थ इंश्योरेंस और पर्सनल एक्सीडेंट इंश्योरेंस में क्या अंतर हैं?

हेल्थ इंश्योरेंस में आप अपना क्लेम दायर कर सकते हैं और आपका इंश्योरर, आपको सम इंश्योर्ड तक की राशि की प्रतिपूर्ति करेगा। दूसरी ओर, पर्सनल एक्सीडेंट इंश्योरेंस प्लान आपको क्लेम दायर करने से पहले पूरे सम इंश्योर्ड का भुगतान करती है.

    फैमिली फ्लोटर और इंडिविजुअल हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी में क्या अंतर है?

इंडिविजुअल हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी में, पॉलिसी के तहत कवर किए गए सभी सदस्यों के लिए अलग-अलग सम इंश्योर्ड होते हैं, जबकि फैमिली फ्लोटर हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत सभी इंश्योर्ड सदस्य एक सम इंश्योर्ड को शेयर करते हैं.

   महिलाओं के लिए कौन से हेल्थ इंश्योरेंस प्लांस उपलब्ध हैं?

बजाज आलियांज़ विशेष हेल्थ इंश्योरेंस प्लान प्रदान करता है, जो महिलाओं से संबंधित स्वास्थ्य समस्याओं के मेडिकल खर्चों को पूरा करता है. हमारा क्रिटिकल इलनेस प्लान महिलाओं के लिए एक विशेष पॉलिसी है. यह बर्न, ब्रेस्ट कैंसर और वेजाइनल कैंसर जैसी 8 गंभीर बीमारियों के जोखिम को कवर करता है.

   भारत में मैटरनिटी इंश्योरेंस प्लान की प्रतीक्षा अवधि और सम अश्योर्ड क्या है?

मैटरनिटी खर्चों के कवरेज के लिए 72 महीनों की प्रतीक्षा अवधि लागू होती है. अगर आप रु. 3 लाख से रु. 7.5 लाख तक की रेंज में सम इंश्योर्ड का विकल्प चुनते हैं, तो सामान्य डिलीवरी के लिए कवरेज रु. 15,000 तक और सीज़ेरियन डिलीवरी के लिए रु. 25,000 तक सीमित है, और अगर आप रु. 10 लाख से रु. 50 लाख तक की रेंज में सम इंश्योर्ड का विकल्प चुनते हैं, तो इसे सामान्य डिलीवरी के लिए रु. 25,000 तक और C-सेक्शन डिलीवरी के लिए रु. 35,000 तक सीमित रखा जाता है. प्रत्येक प्रॉडक्ट के लिए मैटरनिटी कवरेज की प्रतीक्षा अवधि, प्रॉडक्ट के नियमों और शर्तों के आधार पर अलग-अलग होगी.

   मैं अपने मौजूदा फैमिली फ्लोटर हेल्थ इंश्योरेंस में एक नया सदस्य कैसे जोड़ सकता हूँ?

आप हेल्थ डिक्लेरेशन और एंडोर्समेंट फॉर्म भरने के साथ अतिरिक्त प्रीमियम देकर किसी भी मौजूदा फैमिली फ्लोटर इंश्योरेंस पॉलिसी में नए सदस्य को कवर कर सकते हैं.

    पॉलिसी डॉक्यूमेंट प्राप्त करने के बाद मैं अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के विवरण में कैसे बदलाव करूं?

आप हमारी वेबसाइट पर जाकर अपना विवरण बदल सकते हैं या हमारे कस्टमर केयर एग्जीक्यूटिव से संपर्क कर सकते हैं, जो आपको जरूरी बदलाव करने में मदद करेगा.

   मैं अपनी पॉलिसी के स्टेटस की जांच कैसे कर सकता हूँ?

आप ऑनलाइन अपनी पॉलिसी का स्टेटस चेक कर सकते हैं. अपनी यूज़र आईडी और पासवर्ड के जरिए हमारी वेबसाइट पर लॉग इन करें और स्टेटस चेक करने के लिए अपनी पॉलिसी की जानकारी- (पॉलिसी नंबर) दर्ज करें. इसके अलावा, आप हमारी 'कस्टमर पोर्टल' ऐप डाउनलोड कर सकते हैं और अपनी पॉलिसी का स्टेटस चेक कर सकते हैं.

    क्या एक से अधिक हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदी जा सकती है?

हां, आप एक से अधिक हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीद सकते हैं. हालांकि, उन्हें संभालना आमतौर पर कठिन हो जाता है. हम आपको कम सम इंश्योर्ड के साथ कई पॉलिसी खरीदने के बजाय उच्च सम इंश्योर्ड वाली एक पॉलिसी खरीदने की सलाह देते हैं.

   अगर मैं एक वर्ष के बाद अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को रिन्यू करना चाहता हूँ तो क्या ऐसा हो सकता है?

आप एक वर्ष के बाद अपनी पॉलिसी रिन्यू कर सकते हैं. लेकिन, अगर आपके हेल्थ इंश्योरेंस रिन्यूअल में कोई ब्रेक है, तो आपको कस्टमर सपोर्ट टीम से संपर्क करना पड़ सकता है, जो आपको आवश्यक कदम उठाने के लिए मार्गदर्शन दे सकते हैं.

   क्या हर बार अपनी पॉलिसी रिन्यू करने पर मुझे मेडिकल चेक-अप कराना होगा?

नहीं, हर बार अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को रिन्यू करने आपको मेडिकल चेक-अप कराने की ज़रूरत नहीं होती है. हालांकि, अगर इंश्योरेंस रिन्यूअल में कोई ब्रेक हुआ है, या अगर आपने रिन्यूअल पर अपने मेडिकल इंश्योरेंस प्लान के कवरेज को अपग्रेड किया है, तो आपको मेडिकल चेक-अप कराना पड़ सकता है.

   मेरे पास पहले से ही हेल्थ इंश्योरेंस है और मुझे इसके सम इंश्योर्ड को बढ़ाना है, मुझे क्या करना चाहिए?

आप हमारे कस्टमर सपोर्ट टीम से संपर्क कर सकते हैं और अपने सम इंश्योर्ड को बढ़ाने के लिए जरूरी स्टेप्स के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

   अगर मेरी पॉलिसी समाप्ति तिथि से पहले समय पर रिन्यू नहीं की जाती है, तो क्या इसका रिन्यूअल नहीं किया जाएगा?

आप समाप्त होने के बाद भी, 30 दिनों की ग्रेस अवधि के दौरान अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को रिन्यू कर सकते हैं और सभी लाभ दोबारा पा सकते हैं. अगर आप ग्रेस पीरियड के दौरान अपनी पॉलिसी को रिन्यू नहीं करते हैं, तो आपको खुद को कवर करने के लिए शुरू से प्रोसेस करना पड़ सकता है.

   क्या रिन्यूअल बेनिफिट्स को खोए बगैर मैं अपनी पॉलिसी को एक इंश्योरेंस कंपनी से दूसरी कंपनी में ट्रांसफर कर सकता हूँ?

हां, हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी में पोर्टेबिलिटी फीचर आपको अपनी इंश्योरेंस कंपनी को स्विच करने की सुविधा देती है.

   क्या मेडिकल टेस्ट सभी के लिए अनिवार्य है?

नहीं. आमतौर पर, 45 वर्ष से कम आयु के लोगों के लिए मेडिकल टेस्ट अनिवार्य नहीं है. हालांकि, आपकी इंश्योरेंस कंपनी आपसे सबमिट किए गए मेडिकल हिस्ट्री और चुनी गई हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के आधार पर कुछ मेडिकल टेस्ट कराने के लिए कह सकती है.

   मेडिकल टेस्ट का भुगतान कौन करता है?

हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने से पहले पॉलिसीधारक को मेडिकल जांच की लागत वहन करनी होगी. इसे पॉलिसी के नियम और शर्तों के आधार पर इंश्योरर द्वारा रीइम्बर्स भी किया जा सकता है.

   क्या मेरी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी पूरे भारत में मान्य है?

हां, इंश्योरेंस प्रोवाइडर आपको पूरे देश में सभी स्वास्थ्य संबंधी एमरजेंसी के लिए कवर करते हैं, जो आपकी पॉलिसी के नियम और शर्तों के अधीन है.

   फाइन प्रिंट क्या हैं, जिसके बारे में हेल्थ पॉलिसी खरीदने से पहले मुझे पता होना चाहिए?

हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने से पहले आपको निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना चाहिए:

✓ अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी द्वारा प्रदान की गई सही कवरेज के बारे में जानें.

✓ प्रतीक्षा अवधि और अपवाद का ध्यान रखें.

✓ अपने इंश्योरेंस प्रोवाइडर से पहले से मौजूद बीमारियों जैसा कुछ न छिपाएं.

✓ इंश्योरेंस कंपनी की ऑनलाइन प्रोसेस चेक करें.

✓ अपने इंश्योरर के साथ पॉलिसी कैंसलेशन, पॉलिसी लैप्स और पॉलिसी रिन्यूअल जैसे विषयों के बारे में पूरी तरह से पूछताछ करें.

✓ अपने हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम के ब्रेक-अप को अच्छी तरह से देखें और भुगतान करने से पहले अपने सभी शंकाओं का समाधान पाएं.

 

   हेल्थ कार्ड का क्या मतलब है?

भारत में हेल्थ इंश्योरेंस कंपनियां आपको अपनी इंश्योरेंस पॉलिसी के साथ एक हेल्थ कार्ड प्रदान करती हैं, जिसका उपयोग आप कैशलेस ट्रीटमेंट का लाभ उठाने के लिए नेटवर्क हॉस्पिटल्स में कर सकते हैं.

   अगर ओरिजिनल पॉलिसी खो जाती है, तो क्या डुप्लीकेट पॉलिसी जारी की जाएगी?

हां, अगर आप ओरिजिनल इंश्योरेंस पॉलिसी खो देते हैं, तो आप डुप्लीकेट मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसी का अनुरोध कर सकते हैं. अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी की डुप्लीकेट कॉपी प्राप्त करने के लिए आपको एक निश्चित राशि का भुगतान करना पड़ सकता है.

   मैं अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को कैसे कैन्सल कर सकता हूँ?

अगर आपने अभी अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदी है, तो आप बिना किसी कैंसलेशन शुल्क के फ्री-लुक अवधि के दौरान इसे कैंसल कर सकते हैं. लेकिन पॉलिसी ऐक्टिव होने के दिनों की संख्या के लिए आपको प्रो-रेटा के आधार पर प्रीमियम का भुगतान करना होगा.

इसके अलावा आप अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को रिन्यू करने के बजाय इसके एक्स्पायरी तारीख से पहले भी कैन्सल कर सकते हैं.

अगर आप कुछ निश्चित वर्षों तक बिना किसी ब्रेक के इसे रिन्यू करने के बाद पॉलिसी सरेंडर करते हैं, तो आप कुछ लाभों के लिए भी पात्र हो सकते हैं. आप अपने मेडिकल इंश्योरेंस प्लान को कैंसल करने के लिए अपने इंश्योरेंस प्रोवाइडर से संपर्क कर सकते हैं और पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

 

 

   मुझे कितना कवरेज लेना चाहिए?

कवरेज राशि आपकी लाइफस्टाइल, मेडिकल बैकग्राउंड, पहले से मौजूद बीमारियों, परिवार के सदस्यों, वार्षिक आय, आवासीय पते और आयु पर निर्भर करती है.

   मुझे हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले और बाद के मेडिकल खर्चों के बारे में बताएं, जिन्हें आप कवर करते हैं.

प्री-हॉस्पिटलाइज़ेशन खर्च, इलाज के लिए हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले टेस्ट और दवाओं के लिए क्रमशः किए जाने वाले खर्च होते हैं. इसी प्रकार, पोस्ट-हॉस्पिटलाइज़ेशन खर्च, रिकवरी और दवाओं के लिए हो सकते हैं, जो हॉस्पिटल में इलाज के बाद होते हैं. पॉलिसी के नियम और शर्तों के आधार पर प्री- और पोस्ट-हॉस्पिटलाइज़ेशन कवरेज क्रमशः 60 और 90 दिनों के लिए हैं.

जब आप बीमार पड़ते हैं, तो आमतौर पर आप अपने फैमिली डॉक्टर से परामर्श करते हैं और संबंधित जांच कराते हैं. अपने डॉक्टर की सलाह पर, अगर आवश्यक हो, तो आपको बेहतर उपचार के लिए हॉस्पिटल में भर्ती किया जाता है. हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले किए गए इन खर्चों को प्री-हॉस्पिटलाइज़ेशन खर्च कहा जाता है. पोस्ट-हॉस्पिटलाइज़ेशन खर्चों में डिस्चार्ज होने के बाद या हॉस्पिटलाइज़ेशन के इलाज के बाद आपके द्वारा किए गए सभी खर्च या शुल्क शामिल हैं. उदाहरण के लिए, सर्जरी के बाद आपकी प्रगति या रिकवरी का पता लगाने के लिए कंसल्टिंग फिजिशियन कुछ टेस्ट की सलाह दे सकते हैं.

   डोमिसिलियरी हॉस्पिटलाइज़ेशन का क्या मतलब है? इसमें क्या कवर होता है?

डोमिसिलियरी हॉस्पिटलाइज़ेशन उस स्थिति को दर्शाता है, जहां आप हॉस्पिटल के बजाय घर पर कोई ट्रीटमेंट लेते हैं, या मेडिकल केयर लाभ लेते हैं, और फिर भी इंश्योरर द्वारा इसे हॉस्पिटल में भर्ती होने के रूप में माना जाता है. कोई हॉस्पिटल बेड/रूम उपलब्ध नहीं होने या आपके इलाज के लिए हॉस्पिटल में शिफ्ट नहीं होने की स्थिति में आप घर पर इलाज करा सकते हैं.

डोमिसिलियरी हॉस्पिटलाइज़ेशन, आपको हॉस्पिटल के बजाय, घर पर किसी बीमारी/रोग/चोट के लिए प्राप्त ट्रीटमेंट से संबंधित खर्चों को कवर करता है.

   आपके हेल्थ इंश्योरेंस प्लांस किन-किन चीजों का भुगतान नहीं किया जाता है?

नॉन-मेडिकल आइटम्स, जैसे कि हेयर रिमूवल क्रीम, हैंड वॉश, कोज़ी टॉवल, बेबी बॉटल, ब्रश, पेस्ट, मॉइस्चराइज़र, कैप्स, आई पैड, कॉम्ब, क्रेडल बड्स आदि आपकी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत नॉन-पेबल हैं. नॉन-पेबल आइटम्स की विस्तृत लिस्ट के लिए, कृपया पॉलिसी नियमावली को ध्यान से पढ़ें.

   क्या हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी डायबिटीज के मरीज़ों को कवरेज प्रदान करती हैं?

हां, डायबिटीज के मरीज़ों को हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत कवर किया जाता है. हालांकि, कवरेज प्राप्त करने से पहले आपको कुछ मेडिकल टेस्ट कराने पड़ सकते हैं. इसके अलावा, आपकी मेडिकल टेस्ट रिपोर्ट के अनुसार कुछ प्रतीक्षा अवधि लागू हो सकती है. *यह यूडब्ल्यू स्वीकृति के अधीन भी है

   क्या हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत एमआरआई, एक्स-रे या कोई अन्य बॉडी स्कैन जैसे डायग्नोस्टिक शुल्क कवर किए जाते हैं?

हां, भारत में हेल्थ इंश्योरेंस कंपनियां इन-पेशेंट हॉस्पिटलाइज़ेशन के लिए आपकी पॉलिसी में दर्ज नियम और शर्तों के अनुसार कुछ मेडिकल टेस्ट और स्कैन को कवर करती हैं.

   क्या हेल्थ इंश्योरेंस प्लांस मैटरनिटी को कवर करते हैं?

हां, हेल्थ इंश्योरेंस प्लान मैटरनिटी और नवजात शिशु के लिए कवरेज प्रदान करते हैं. लेकिन, कवरेज शुरू होने से पहले प्रतीक्षा अवधि होती है. अगर आप विशेष रूप से मैटरनिटी खर्चों को कवर करने के लिए पॉलिसी खरीद रहे हैं, तो अपने इंश्योरर के साथ कवरेज और प्रतीक्षा अवधि चेक करें.

   क्या इंश्योरेंस पॉलिसीज आउट पेशेंट खर्चों को भी कवर करती हैं?

हां, आउटपेशेंट खर्च मेडिकल इंश्योरेंस प्लान के तहत कवर किए जाते हैं, जो या तो 24 घंटों के अनिवार्य हॉस्पिटलाइज़ेशन या ओपीडी कवर के रूप में कवर किए जाते हैं, जो टॉप-अप है.

   डे-केयर हेल्थ इंश्योरेंस में कौन से उपचार कवर होते हैं?

भारत में हेल्थ इंश्योरेंस के तहत कवर किए जाने वाले कुछ डे-केयर प्रोसीज़र हैं:

✓ हड्डी, सेप्टिक और एंटीसेप्टिक जख्म

✓ पाचन तंत्र कमजोर होना

✓ बवासीर का सर्जिकल उपचार

✓ लीगमेंट टूटने से जुड़े सर्जरी

✓ मोतियाबिंद ऑपरेशन

✓ ग्लूकोमा सर्जरी

✓ बाहरी पदार्थों को नाक से निकालना

✓ मेटल वायर निकालना

✓ फ्रैक्चर पिन/कील निकालना

✓ आंखों के लेंस से फॉरेन बॉडी रिमूवल

आप डे-केयर प्रोसीज़र की विस्तृत लिस्ट के लिए अपने पॉलिसी डॉक्यूमेंट को देख सकते हैं.

    क्या भारत में हेल्थ इंश्योरेंस के अंतर्गत डेंटल ट्रीटमेंट कवर किया जाता है?

डेंटल ट्रीटमेंट में दांतों या दांतों की बनावट से जुड़े इलाज जिसमें एग्ज़ामिनेशन, फिलिंग्स (जहां आवश्यकता हो), क्राउन, दाढ़-दांत निकालना और सर्जरी शामिल हैं.

कोई भी डेंटल उपचार, जिसमें कॉस्मेटिक सर्जरी, डेंचर, डेंटल प्रोस्थेसिस, डेंटल इम्प्लांट, ऑर्थोडॉन्टिक्स, किसी भी प्रकार की सर्जरी को तब तक बाहर रखा जाता है, जब तक कि किसी एक्सीडेंटल बॉडी इंजरी के कारण आपकी प्राकृतिक दांतों को नुकसान न पहुंचा हो या भर्ती होने की आवश्यकता न हो.

   क्या हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी होम्योपैथी उपचार को कवर करती हैं?

आयुष ट्रीटमेंट को कवर करने वाली हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी होम्योपैथिक उपचार को भी कवर करती है. अपने हेल्थ इंश्योरेंस प्रोवाइडर के साथ इसकी जानकारी पाएं, या यह जानने के लिए पॉलिसी नियमावली देखें कि यह कवरेज आपकी पॉलिसी में शामिल है या नहीं.

   क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस के तहत कौन सी बीमारियां कवर की जाती हैं?

बजाज आलियांज की क्रिटिकल इलनेस पॉलिसी के साथ, आप 10 निम्नलिखित प्रमुख गंभीर बीमारियों के प्रति कवर होते हैं:

✓ एओर्टा ग्राफ्ट सर्जरी

✓ कैंसर

✓ कोरोनरी आर्टरी बाईपास सर्जरी

✓ पहला हार्ट अटैक (मायोकार्डियल इन्फ्रक्शन)

✓ किडनी फेलियर

✓ मेजर ऑर्गन ट्रांसप्लांट

✓ लगातार लक्षणों के साथ मल्टीपल स्केलेरोसिस

✓ बाहों का स्थायी रूप से पैरलाइज होना

✓ प्राइमारी पल्मोनरी आर्टेरी हाइपरटेंशन

✓ स्ट्रोक

   अगर मेरे पास पहले से ही अपने नियोक्ता से इंश्योरेंस है, या अगर मेरे और मेरे परिवार को पहले से ही मेरी कॉर्पोरेट पॉलिसी द्वारा कवर किया जा चुका है, तो मुझे हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी क्यों खरीदनी चाहिए?

आपके नियोक्ता की हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के कुछ लाभ हो सकते हैं, लेकिन कॉर्पोरेट मेडिकल इंश्योरेंस प्लान से संबंधित कुछ सीमाएं भी हैं:

✓ आप अपनी इंश्योरेंस आवश्यकताओं और स्वास्थ्य स्थितियों के अनुसार कॉर्पोरेट प्लान को कस्टमाइज़ नहीं कर पाएंगे.

✓ कंपनी से इस्तीफा देते ही कवरेज समाप्त हो जाता है.

✓ रिटायरमेंट के बाद आपके नियोक्ता के कॉर्पोरेट प्लान से कवरेज नहीं मिलता है.

✓ कॉर्पोरेट प्लान में आपके भविष्य की योजना बनाने की बहुत कम संभावना होती है.

✓ प्राइवेट हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी की तुलना में आपको कम सम इंश्योर्ड के लिए कवर किया जाता है.

इस प्रकार, आपको एक ऐसा इंडिविजुअल मेडिकल इंश्योरेंस प्लान भी खरीदना चाहिए जो आपके बजट के साथ-साथ आपकी हेल्थ इंश्योरेंस से जुड़ी जरूरतों को भी पूरा कर सके.

   क्या पॉलिसी रिन्यूअल के समय इंश्योरेंस कवरेज को बढ़ाया जा सकता है?

हां, आप पॉलिसी के रिन्यूअल के दौरान अपनी मेडिकल इंश्योरेंस के कवरेज को बढ़ा सकते हैं. अपनी पॉलिसी के कवरेज को बढ़ाने के लिए, इस समय आपको कुछ डॉक्यूमेंट सबमिट करने होते हैं और अतिरिक्त प्रीमियम का भुगतान करना होता है.

   क्या अपने बुजुर्ग माता-पिता को मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसी में जोड़ा जा सकता है?

नहीं, हमारे प्लान आपके मौजूदा कवरेज में बुजुर्ग माता-पिता को जोड़ने की अनुमति नहीं देते हैं. हालांकि, आप हमारा सिल्वर हेल्थ प्लान खरीद सकते हैं, जो सीनियर सिटीज़न के लिए डिज़ाइन किया गया एक विशेष हेल्थ इंश्योरेंस प्रॉडक्ट है.

 

 

   मेरे हेल्थ इंश्योरेंस की प्रीमियम राशि किन-किन चीजों पर निर्भर करती है?

प्रीमियम राशि, मुख्य रूप से सम इंश्योर्ड और पॉलिसी के तहत कवर किए गए सदस्यों की संख्या पर निर्भर करती है. यहां कुछ अन्य कारक दिए गए हैं, जो आपके प्रीमियम को निर्धारित करते हैं:

✓ आपकी आयु

✓ पहले से मौजूद बीमारियाँ

✓ ऐड-ऑन कवर (वैकल्पिक)

   मैं भारत में हेल्थ इंश्योरेंस की लागत का अनुमान कैसे लगाऊं?

हेल्थ इंश्योरेंस कैलकुलेटर एक उपयोगी टूल है, जो आपको अपनी पॉलिसी के प्रीमियम का अनुमान लगाने में मदद कर सकता है. हेल्थ इंश्योरेंस कैलकुलेटर बजाज आलियांज़ की वेबसाइट पर मुफ्त में उपलब्ध है और इससे जनरेट किए गए कोटेशन का उपयोग भविष्य के रेफरेंस के लिए किया जा सकता है.

   मैं अपने प्रीमियम का भुगतान किन तरीकों से कर सकता हूँ?

आप निम्नलिखित तरीकों का उपयोग करके अपने प्रीमियम का भुगतान कर सकते हैं:

✓ हमारे ब्रांच में चेक या नकद भुगतान करके

✓ ईसीएस के जरिए

✓ डेबिट/क्रेडिट कार्ड और नेट बैंकिंग सुविधा का उपयोग करके ऑनलाइन भुगतान

   रिन्यूअल के दौरान किन परिस्थितियों में मेरी पॉलिसी प्रीमियम के बढ़ने की संभावना है?

निम्न परिस्थितियों में रिन्यूअल के दौरान आपका हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम बढ़ सकता है:

✓ एज बैंड में बदलाव करने पर.

✓ रेगुलेटर द्वारा प्रीमियम रिवीज़न (आपकी इंश्योरेंस कंपनी आपकी पॉलिसी के रिन्यूअल के पहले आपको इसके बारे में सही ढंग से सूचना देगी).

✓ सरकारी कानूनों के अनुसार टैक्स, ड्यूटी और सेस में बदलाव.

   धूम्रपान हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम को कैसे प्रभावित करता है?

अगर आप धूम्रपान करते हैं, तो आपको अपनी पॉलिसी के लिए अधिक प्रीमियम का भुगतान करना पड़ सकता है. इसके अलावा, आपको पॉलिसी के कवरेज शुरू होने से पहले कुछ मेडिकल टेस्ट कराने की आवश्यकता पड़ सकती है.

   अपने हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम का भुगतान करना भूल जाने पर क्या होगा?

आपको पॉलिसी की देय तिथि से पहले प्रीमियम का भुगतान करना चाहिए, ताकि हेल्थ इंश्योरेंस कवरेज जारी रहे. हालांकि, अगर आप पॉलिसी समाप्त होने से पहले भुगतान नहीं कर पा रहे हैं, तो आप अपनी मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसी को रिन्यू करने के लिए इंश्योरर द्वारा प्रदान की गई ग्रेस अवधि का उपयोग कर सकते हैं. लेकिन, अगर आप ग्रेस पीरियड के दौरान भी अपनी पॉलिसी को रिन्यू नहीं करते हैं, तो आपका इंश्योरेंस प्लान समाप्त हो जाएगा, और आपको किसी भी मेडिकल एमरजेंसी के लिए कवर नहीं किया जाएगा.

   जीएसटी क्या है और यह हेल्थ इंश्योरेंस पर कैसा असर डालता है?

जीएसटी गुड्स और सर्विस टैक्स है. इसे पहले 2017 में लॉन्च किया गया था और इसने सर्विस टैक्स, वैट और कस्टम जैसे पहले के सभी अप्रत्यक्ष टैक्स बदल दिए हैं. जीएसटी के तहत चार टैक्स स्लैब हैं – 0%, 5%, 12% और 28% – और दो प्रकार के जीएसटी हैं - राज्य की जीएसटी और केंद्रीय की जीएसटी.

जीएसटी से पहले, हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी पर लागू टैक्स दर 15% थी, और अब यह 18% है.

   क्या हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम का मासिक भुगतान किया जा सकता है?

सभी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी किश्त के आधार पर प्रीमियम का भुगतान स्वीकार नहीं करती हैं. हालांकि, आरोग्य संजीवनी जैसी पॉलिसी के साथ, आप अपनी सुविधा के अनुसार वार्षिक, अर्धवार्षिक, त्रैमासिक और मासिक किश्तों के आधार पर हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम का भुगतान कर सकते हैं.

 

 

   क्लेम सेटलमेंट रेशियो क्या है?

क्लेम सेटलमेंट रेशियो, हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी द्वारा निर्धारित समय में किए गए क्लेम की कुल संख्या की तुलना में सेटल किए गए क्लेम की संख्या का रेशियो है. क्लेम सेटलमेंट रेशियो जितना अधिक होगा, इंश्योरेंस कंपनी का भुगतान उतना बेहतर होगा.

   अपने हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम का स्टेटस कैसे चेक करें?

आप हमारी मोबाइल ऐप, "केयरिंगली योर्स" का उपयोग करके, हमारे ऑनलाइन क्लेम सेटलमेंट पोर्टल का उपयोग करके या हमारे कस्टमर केयर पर कॉल करके अपने हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम का स्टेटस ट्रैक कर सकते हैं.

   हेल्थ इंश्योरेंस के लिए क्लेम करने की प्रोसेस क्या है?

भारत में हेल्थ इंश्योरेंस के लिए क्लेम करते समय कौन-कौन सी प्रक्रियाएँ शामिल हैं? बजाज आलियांज में, हमारे पास इन-हाउस हेल्थ और एड्मिनिसट्रेशन टीम (HAT) है, इसलिए यहाँ क्लेम प्रोसेसिंग काफी जल्दी और आसानी से हो जाती है.

कैशलेस क्लेम के लिए, आपको नेटवर्क हॉस्पिटल से प्री-ऑथोराइज़ेशन लेटर लेना होगा. प्री-ऑथोराइज़ेशन फॉर्म और हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के सफल सत्यापन के बाद बजाज आलियांज़ क्लेम को अप्रूव करेगा. नेटवर्क हॉस्पिटल को अप्रूवल दिए जाने के बाद आप कैशलेस क्लेम का लाभ उठा सकते हैं.

रीइम्बर्समेंट क्लेम के लिए, आपको पॉलिसी विवरण और डिस्चार्ज समरी के साथ नॉन-नेटवर्क हॉस्पिटल द्वारा प्रदान किए गए मेडिकल बिल को बजाज आलियांज़ को भेजना होगा. इन डॉक्यूमेंट के सत्यापन के बाद, क्लेम की राशि सेटल कर दी जाएगी और सीधे आपके बैंक अकाउंट में जमा कर दी जाएगी.

   हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम को प्रोसेस करने में कितना समय लगता है?

बजाज आलियांज़ में, हम अपने इन-हाउस हेल्थ एडमिनिस्ट्रेशन टीम (HAT) की मदद से तेज़ी से की जाने वाली क्लेम प्रोसेसिंग के ज़रिए 60 मिनट के भीतर आपके कैशलेस क्लेम का सेटलमेंट करते हैं.

हम अपने “केयरिंगली योर्स” मोबाइल ऐप की हेल्थ सीडीसी (क्लेम बाय डायरेक्ट क्लिक) फीचर की मदद से आपके रु. 20,000 तक के क्लेम को 20 मिनट में सेटल कर देते हैं.

हम आपके द्वारा प्रस्तुत किए गए सभी दस्तावेजों को प्राप्त करने और उनका आकलन करने के बाद 10 दिनों के भीतर आपके रीइमबर्समेंट क्लेम को सेटल करते हैं.

   मुझे कब क्लेम करना चाहिए?

आपको हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम केवल तभी करना चाहिए जब आपको लगता है कि मेडिकल खर्च बहुत ज्यादा है और आप अपनी जेब से उसका भुगतान नहीं कर सकते हैं. जब आप अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को रिन्यू करेंगे, तो इससे आपको एनसीबी (नो क्लेम बोनस) का लाभ प्राप्त करने में मदद मिलेगी.

   एक वर्ष में अधिकतम कितने क्लेम किए जा सकते हैं?

आप किसी पॉलिसी अवधि में (आमतौर पर एक वर्ष की अवधि) में कितनी भी संख्या में वैध हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम कर सकते हैं. आप कितने क्लेम कर सकते हैं, यह आपके सम इंश्योर्ड पर भी निर्भर करता है.

   कैशलेस मेडिक्लेम क्या है?

जब आप नेटवर्क हॉस्पिटल में अपनी बीमारी/चोट के लिए उपचार का लाभ उठाते हैं, तो आप कैशलेस मेडिक्लेम के लिए पात्र हैं. कैशलेस मेडिक्लेम के साथ, आपका मेडिकल बिल सीधे आपकी हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी द्वारा नेटवर्क हॉस्पिटल को भुगतान किया जाएगा. आपकी पॉलिसी शर्तों के अनुसार नॉन-मेडिकल आइटम्स और अन्य नॉन-पेबल आइटम्स की लागत का भुगतान आपको करना होगा.

   अगर मुझे कैशलेस ट्रीटमेंट के लिए क्लेम करना है, तो मुझे किससे संपर्क करना होगा?

कैशलेस क्लेम का लाभ उठाने के लिए, आपको बस नेटवर्क हॉस्पिटल से संपर्क करना होगा और अपना हेल्थ कार्ड दिखाना होगा. इस हेल्थ कार्ड में आपका पॉलिसी नंबर, इंश्योरेंस कंपनी का नाम और हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी का प्रकार मौजूद होता है. आपको एक प्री-ऑथोराइज़ेशन फॉर्म भी भरना होगा, जिसे नेटवर्क हॉस्पिटल इंश्योरर को भेजेगा. इन डॉक्यूमेंट के सत्यापन के बाद, क्लेम सीधे आपके इंश्योरर द्वारा हॉस्पिटल के साथ सेटल कर दिया जाएगा.

   कैशलेस सुविधा का लाभ उठाने पर क्या आप पूरी राशि का भुगतान करेंगे, या मुझे हॉस्पिटल में बिल का एक हिस्सा वहन करना होगा?

हां, सर्वश्रेष्ठ हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी आपको सभी मेडिकल खर्चों के लिए कवर करेगी. हालांकि, आपको अपनी पॉलिसी शर्तों में दर्ज नॉन-मेडिकल आइटम्स और नॉन-पेबल आइटम्स का भुगतान करना होगा.

   क्लेम दायर करने और सेटलमेंट के बाद मेरी पॉलिसी का क्या होता है?

आपका क्लेम दर्ज और सेटल होने के बाद, आपकी इंश्योरेंस कवरेज से क्षतिपूर्ति की राशि को काट लिया जाएगा.

उदाहरण के लिए, अगर आपकी पॉलिसी जनवरी में ₹ 5 लाख के कवरेज के साथ जारी की गई थी और अगर आपने जुलाई में ₹ 3 लाख की राशि का क्लेम किया है, तो अगस्त-दिसंबर के बीच आपके लिए ₹ 2 लाख का बैलेंस उपलब्ध होगा.

   अगर मैं पॉलिसी पीरियड के भीतर कोई भी क्लेम नहीं करता हूँ, तो क्या मुझे मेरे पैसे का रिफंड मिल सकता है?

अगर आप पॉलिसी वर्ष में कोई क्लेम फाइल नहीं करते हैं, तब भी आपको अपने हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम का रिफंड नहीं मिलेगा. लेकिन, आप एनसीबी (नो क्लेम बोनस) के लिए पात्र होंगे, जिससे आपकी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को रिन्यू करने पर आपकी प्रीमियम राशि कम हो जाएगी. इसके अलावा, आप संचयी बोनस के भी पात्र होंगे, जिससे आप पिछले पॉलिसी वर्ष के बराबर ही प्रीमियम का भुगतान करके बढ़े हुए सम इंश्योर्ड का लाभ ले सकते हैं.

   TPA क्या है?

टीपीए का अर्थ है थर्ड पार्टी एडमिनिस्ट्रेटर. यह एक संगठन है जो हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी की ओर से क्लेम प्रोसेस करता है. यह आपके क्लेम को प्रोसेस करने और सेटल करने के लिए आपके और इंश्योरेंस कंपनी के बीच एक बिचौलिए की भूमिका निभाता है.

   क्या मैं इलाज के दौरान अस्पताल बदल सकता हूँ?

हां, आप इलाज के दौरान अपना अस्पताल बदल सकते हैं. लेकिन आपको इसके बारे में अपने हेल्थ इंश्योरेंस प्रोवाइडर को सूचित करना होगा और उनके पास इससे संबंधित डॉक्यूमेंट सबमिट करने होंगे.

   कितनी बार कॉन्वॉलसेंस बेनिफिट का क्लेम किया जा सकता है?

पॉलिसी वर्ष के दौरान कॉन्वॉलसेंस लाभ केवल एक बार क्लेम किए जा सकते हैं.

   क्या मेरी पॉलिसी मेरे द्वारा चुने गए किसी भी अस्पताल में होने वाले मेडिकल इलाज को कवर करेगी?

हां, आपकी मेडिकल पॉलिसी आपके द्वारा चुने गए किसी भी हॉस्पिटल (नेटवर्क या नॉन-नेटवर्क हॉस्पिटल) में होने वाले मेडिकल ट्रीटमेंट को कवर करेगी. लेकिन, कुछ ऐसे हॉस्पिटल भी हो सकते हैं जो आपके इंश्योरेंस प्रोवाइडर की लिस्ट से हटा दिए गए हों और अगर आप ज़रूरी मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए उनमें से एक हॉस्पिटल में भर्ती होते हैं, तो इस मामले में आपको कवर नहीं किया जाएगा.

   क्या नॉन-नेटवर्क हॉस्पिटल्स में उपचार कराने पर मुझे रीइम्बर्समेंट मिलेगा?

हां, अगर आप नॉन-नेटवर्क हॉस्पिटल में उपचार कराते हैं, तो आप रीइम्बर्समेंट क्लेम फाइल करने के लिए अन्य डॉक्यूमेंट के साथ अपना मेडिकल बिल सबमिट कर सकते हैं.

   अगर वास्तविक खर्च कवरेज से अधिक है, तो क्या मुझे अंतर वाली राशि का भुगतान करना होगा?

हां, अगर वास्तविक खर्च आपके द्वारा चुने गए कवरेज से अधिक है, तो आपको अंतर वाली राशि का भुगतान करना होगा.

   हेल्थ एडमिनिस्ट्रेशन टीम क्या है?

हेल्थ एडमिनिस्ट्रेशन टीम (एचएटी) में डॉक्टर और पैरामेडिक्स शामिल हैं जो हेल्थ अंडरराइटिंग और क्लेम सेटलमेंट के लिए जिम्मेदार हैं. यह हेल्थकेयर से जुड़ी सर्विस के लिए एक ही स्थान पर सभी सहायता प्रदान करता है. यह इन-हाउस टीम पॉलिसीधारकों के हेल्थ इंश्योरेंस से संबंधित मुद्दों का समाधान करती है. यह टीम एक बार संपर्क करने भर से ही तेज़ क्लेम सेटलमेंट सुनिश्चित करती है. यह हेल्थ इंश्योरेंस विशेषज्ञों द्वारा कस्टमर के प्रश्नों के तुरंत समाधान के लिए असरदार तरीके से काम करता है. यह इन-हाउस क्षमता के आधार पर क्लेम सेटलमेंट और कस्टमर सर्विस को भी नियंत्रित करती है.

   हेल्थ इंश्योरेंस के क्लेम को किन कारणों से अस्वीकार कर दिया जाता है?

निम्न परिस्थितियों में आपकी हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी आपके क्लेम सेटलमेंट से इनकार कर सकती है:

✓ जानबूझकर खुद चोट पहुंचाने के बाद क्लेम करने पर.

✓ गलत बयानी, धोखाधड़ी, महत्वपूर्ण तथ्यों के बारे में न बताने या इंश्योर्ड व्यक्ति की ओर से किए गए असहयोग के मामले में.

✓ वेटिंग पीरियड समाप्त होने से पहले ही मौजदा बीमारियों के कवरेज के लिए क्लेम करने पर.

✓ पॉलिसी डॉक्यूमेंट में दर्ज किसी भी एक्सक्लूज़न के लिए फाइल किए गए क्लेम के मामले में.

 

 

   क्या मेरी मौजूदा हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी कोविड-19 के हॉस्पिटलाइज़ेशन के खर्चों को कवर करेगी?

हां, दर्ज नियम और शर्तों के अनुसार इन-पेशेंट हॉस्पिटलाइज़ेशन के तहत आपकी मौजूदा हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी कोविड-19 के कारण होने वाले हॉस्पिटलाइज़ेशन के खर्चों को कवर करेगी.

   क्या कोविड-19 के कारण होने वाले खर्चों के लिए मेरे परिवार के सदस्यों को कवर किया जाएगा?

अगर आपके परिवार के सदस्य आपकी मौजूदा हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी में शामिल हैं, तो वे कोविड-19 से संबंधित पॉलिसी की शर्तों और नियमों के अनुसार हॉस्पिटलाइजेशन खर्च (इन पेशेंट हॉस्पिटलाइज़ेशन) के लिए कवर किए जाएंगे.

   मेरी पॉलिसी में कोविड-19 के लिए कौन-कौन से खर्च कवर नहीं किए जाएंगे?

कोविड-19 के कवरेज में आपके पॉलिसी डॉक्यूमेंट में दर्ज सभी नॉन-पेबल आइटम्स और आईआरडीएआई द्वारा जारी नॉन-पेबल की लिस्ट शामिल नहीं किए जाएंगे.

   क्या कोविड-19 से जुड़े मेडिकल प्रैक्टिशनर की कंसल्टेशन और डायग्नोस्टिक टेस्ट मेरे हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के अंतर्गत कवर किए गए हैं?

अगर आपकी पॉलिसी आउट-पेशेंट हॉस्पिटलाइज़ेशन के लिए कवरेज प्रदान करती है, तो इन खर्चों को कवर किया जाता है. कृपया अपने इंश्योरर से संपर्क करें और अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत इन कवरेज के बारे में जानकारी प्राप्त करें.

   क्या पॉलिसी के तहत विदेश की मेरी ट्रैवल हिस्ट्री क्लेम के स्वीकार होने को प्रभावित करेगी?

नहीं, अगर आपको भारत में हॉस्पिटल में भर्ती किया जाता है, तो विदेश में आपकी ट्रैवल हिस्ट्री आपकी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत क्लेम की स्वीकार्यता को प्रभावित नहीं करेगी.

   हॉस्पिटलाइज़ेशन के बाद अपने क्लेम के बारे में कैसे सूचित करूं?

बजाज आलियांज की निर्विघ्न क्लेम सेटलमेंट प्रक्रिया के साथ, यहाँ दिया गया है कि आप लाकडाउन के दौरान अपने हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम के लिए कैसे रजिस्टर और सेटल कर सकते हैं:

✓ हमारे "केयरिंगली योर्स" ऐप के साथ, आप हमारे "केयरिंगली योर्स" ऐप पर उपलब्ध पेपर-लेस प्रोसीज़र - हेल्थ सीडीसी (क्लेम बाय डायरेक्ट क्लिक) सुविधा के ज़रिए रु. 20,000 तक के हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम रजिस्टर कर सकते हैं.

✓आप हमें +91 80809 45060 पर एक मिस्ड काल डे सकते हैं और हम आपको प्रक्रिया समझाने के लिए फोन करेंगे.

✓ आप 575758 पर 'WORRY' एसएमएस कर सकते हैं.

✓ आप हमें bagichelp@bajajallianz.co.in पर ई मेल भेज सकते हैं ताकि आपका क्लेम भी रजिस्टर हो जाए.

✓ अपने क्लेम को रजिस्टर करने और ट्रैक करने का एक और तरीका हमारे ऑनलाइन क्लेम पोर्टल पर जाना है, जहां आप अपने पॉलिसी नंबर जैसे कुछ बुनियादी विवरण दर्ज कर सकते हैं और तुरंत क्लेम कर सकते हैं.

   क्या कोविड-19 से जुड़े क्लेम के मामले में किसी तरह का वेटिंग पीरियड लागू होता है?

हां, कोविड-19 के लिए हेल्थ इंश्योरेंस के तहत क्लेम पर 30 दिनों की मानक प्रतीक्षा अवधि लागू होती है.

   क्या मैं अपना सम इंश्योर्ड बढ़ा सकता हूँ?

अंडरराइटिंग के नियम और शर्तों के अनुसार, आप अपनी पॉलिसी के रिन्यूअल प्रोसेस के दौरान अपने सम इंश्योर्ड को बढ़ा सकेंगे.

 

डिस्क्लेमर

मैं बजाज आलियांज़ जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड को एक सुविधाजनक समय पर कॉल बैक करने के विशिष्ट अनुरोध के साथ वेबसाइट पर उपलब्ध कॉन्टैक्ट नंबर पर कॉल करने के लिए अधिकृत करता/करती हूं. मैं आगे घोषणा करता/करती हूं कि, पूरी तरह या आंशिक रूप से ब्लॉक की गई श्रेणी के तहत राष्ट्रीय ग्राहक प्राथमिकता रजिस्टर (एनसीपीआर) पर रजिस्टर किए जाने के बावजूद, मेरे अनुरोध के जवाब में भेजे गए कोई भी कॉल या एसएमएस का अनावश्यक कमर्शियल कम्युनिकेशन नहीं माना जाएगा, भले ही कॉल की सामग्री विभिन्न इंश्योरेंस प्रोडक्ट और सर्विस या इंश्योरेंस बिज़नेस की आग्रह और खरीद के उद्देश्यों के लिए हो सकती है. इसके अलावा, मैं समझता/समझती हूं कि इन कॉल को क्वालिटी और ट्रेनिंग के उद्देश्यों के लिए रिकॉर्ड और मॉनिटर किया जाएगा, और अगर आवश्यकता हो, तो मेरे लिए उपलब्ध कराया जा सकता है.

कृपया मान्य कोटेशन रेफरेंस ID दर्ज करें

  • चुनें
    कृपया चुनें
  • कृपया यहां लिखें

हमसे संपर्क करना आसान है

हमसे चैट करें