Claim Assistance
  • दावा सहायता संपर्क

  • स्वास्थ्य निशुल्क संपर्क 1800-103-2529

  • 24x7 रोडसाइड असिस्टेंस 1800-103-5858

  • ग्लोबल ट्रेवल हेल्पलाइन +91-124-6174720

  • विस्तारित वारंटी 1800-209-1021

  • फसल दावा 1800-209-5959

Get In Touch

मौसम आधारित फसल बीमा योजना

Weather based crop insurance

मौसम आधारित फसल इंश्योरेंस की जानकारी

मौसम आधारित फसल इंश्योरेंस स्कीम (डब्ल्यूबीसीआईएस) का मकसद इंश्योर्ड किसानों को फसल नुकसान के कारण होने वाले फाइनेंशियल नुकसान संबंधी परेशानियों को कम करना है, जो प्रतिकूल मौसम की स्थितियों, जैसे कि बारिश, तापमान, हवा, आर्द्रता आदि की वजह से होती हैं. डब्ल्यूबीसीआईएस फसल की पैदावार के लिए "प्रॉक्सी" के रूप में मौसम मानदंडों का इस्तेमाल करता है, ताकि किसानों को फसल के नुकसान की भरपाई की जा सके. पेआउट स्ट्रक्चर को मौसम ट्रिगर का उपयोग करके होने वाले नुकसान की सीमा तक के लिए विकसित किया गया हैं.

फसलों के लिए कवरेज

खाद्य फसलें (अनाज, बाजरा और दालें)

तिलहन

व्यावसायिक/बागवानी वाली फसलें

कवर किए गए किसान

अधिसूचित क्षेत्रों में अधिसूचित फसलों को उगाने वाले बटाईदार और काश्तकार किसानों सहित सभी किसान इस स्कीम के तहत कवरेज के लिए पात्र हैं,. हालांकि, इंश्योर्ड फसल पर इंश्योरेंस लेने के लिए किसानों में रुचि होनी चाहिए. गैर-लोन लेने वाले किसानों को डॉक्यूमेंट के रूप में आवश्यक सबूत, जैसे भूमि संबंधी रिकॉर्ड और/या लागू कॉन्ट्रैक्ट/एग्रीमेंट विवरण (फसल बटाईदार/काश्तकार किसानों के मामले में) सबमिट करना होगा.

अधिसूचित फसलों के लिए, फाइनेंशियल संस्थानों (लोनी किसानों) से मौसमी कृषि संचालन (एसएओ) लोन लेने वाले सभी किसानों को अनिवार्य रूप से कवर किया जाता है.

यह स्कीम नॉन-लोनी किसानों के लिए वैकल्पिक है. वे डब्ल्यूबीसीआईएस और पीएमएफबीवाई के बीच चुन सकते हैं, और अपनी आवश्यकताओं के आधार पर इंश्योरेंस कंपनी भी चुन सकते हैं.

कवर किए जाने वाले मौसम संबंधी खतरे

इस स्कीम में उन प्रमुख मौसम संबंधी खतरों को कवर किया जाएगा, जिनसे "प्रतिकूल मौसम वाली घटना" होती है, जो फसल हानि की वजह बनती है:

        ✓ बारिश - कम बारिश, ज़्यादा बारिश, बेमौसम बारिश, बारिश के दिन, शुष्क मौसम, शुष्क दिन

        ✓ तापमान - उच्च तापमान (गर्मी), कम तापमान

        ✓ उमस

        ✓ हवा की गति

        ✓ ऊपर दी गई सभी चीज़ों का मेल

        ✓ ओला-वृष्टि, बादल फटने को भी उन किसानों के लिए ऐड-ऑन/इंडेक्स-प्लस प्रॉडक्ट के रूप में भी कवर किया जा सकता है, जिन्होंने डब्ल्यूबीसीआईएस के तहत पहले से ही बेसिक कवरेज लिया हो.

 

जोखिम की अवधि (बीमा अवधि)

जोखिम की अवधि आदर्श रूप से फसल बोए जाने से उसकी मेच्योरिटी तक होगी. फसल की अवधि और चुने गए मौसम मानदंडों के आधार पर जोखिम की अवधि, व्यक्तिगत फसल और रेफरेंस यूनिट एरिया के अनुसार अलग-अलग हो सकती है. फसल इंश्योरेंस संबंधी राज्य लेवल समन्वय समिति (एसएलसीसीसीआई) द्वारा जोखिम की अवधि को इसके शुरू होने से सूचना किया जाएगा.

 

पुनर्गठित मौसम आधारित इंश्योरेंस स्कीम के लाभ

  • प्रीमियम में किसानों का शेयर, इंश्योर्ड राशि का 5% या बीमांकिक दर या जो भी कम हो.
  • क्लेम का आकलन केवल अधिसूचित रेफरेंस वेदर स्टेशन (आरडब्ल्यूएस) द्वारा रिकॉर्ड किए गए मौसम डेटा के आधार पर किया जाएगा और मौसम का डेटा प्राप्त होने के बाद क्लेम प्रोसेस शुरू होगा. मौसम डेटा प्रदाताओं को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि ऑटोमैटिक वेदर स्टेशन (एडब्ल्यूएस), उनके मानकीकरण/कैलिब्रेशन, मेंटेनेंस और मौसम डेटा ट्रांसमिशन की जोखिम की शर्तें, भारत सरकार द्वारा जारी किए गए दिशानिर्देशों को पूरा करें.

 

बैजिक की भागीदारी

डिस्क्लेमर

मैं बजाज आलियांज़ जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड को एक सुविधाजनक समय पर कॉल बैक करने के विशिष्ट अनुरोध के साथ वेबसाइट पर उपलब्ध कॉन्टैक्ट नंबर पर कॉल करने के लिए अधिकृत करता/करती हूं. मैं आगे घोषणा करता/करती हूं कि, पूरी तरह या आंशिक रूप से ब्लॉक की गई श्रेणी के तहत राष्ट्रीय ग्राहक प्राथमिकता रजिस्टर (एनसीपीआर) पर रजिस्टर किए जाने के बावजूद, मेरे अनुरोध के जवाब में भेजे गए कोई भी कॉल या एसएमएस का अनावश्यक कमर्शियल कम्युनिकेशन नहीं माना जाएगा, भले ही कॉल की सामग्री विभिन्न इंश्योरेंस प्रोडक्ट और सर्विस या इंश्योरेंस बिज़नेस की आग्रह और खरीद के उद्देश्यों के लिए हो सकती है. इसके अलावा, मैं समझता/समझती हूं कि इन कॉल को क्वालिटी और ट्रेनिंग के उद्देश्यों के लिए रिकॉर्ड और मॉनिटर किया जाएगा, और अगर आवश्यकता हो, तो मेरे लिए उपलब्ध कराया जा सकता है.

कृपया मान्य कोटेशन रेफरेंस ID दर्ज करें

  • चुनें
    कृपया चुनें
  • कृपया यहां लिखें

हमसे संपर्क करना आसान है