रिस्पेक्ट सीनियर केयर राइडर: 9152007550 (मिस्ड कॉल)

सेल्स: 1800-209-0144| सर्विस: 1800-209-5858 सर्विस चैट: +91 75072 45858

अंग्रेजी

Claim Assistance
Get In Touch
Maternity Insurance: Health Insurance With Maternity Cover
24 जनवरी, 2023

मैटरनिटी कवर के साथ हेल्थ इंश्योरेंस

बच्चे का जन्म जीवन के सबसे खास अनुभवों में से एक है, खासतौर पर महिलाओं के लिए विशेष पलों में से एक होता है. गर्भावस्था के दौरान महिलाओं में शारीरिक और हार्मोनल, दोनों तरह के बदलाव होते हैं, जिसका उनके शरीर पर लंबी अवधि तक असर रहता है. आपके द्वारा सावधानी बरतने के बावजूद, कुछ मामलों में मेडिकल जटिलताएं हो सकती हैं. ये परेशानियां अचानक आती हैं और आपको हैरान कर देती हैं. ऐसे समय में, सबसे अधिक आवश्यक जो चीज़ होती है, वह है. जब आप पहले से ही बीमारी के चलते परेशान हैं, ऐसे में फाइनेंस के बारे में चिंता करना एक और बड़ा बोझ हो सकता है. ऐसे में आप मैटरनिटी इंश्योरेंस कवरेज का विकल्प क्यों नहीं चुनते?? गर्भावस्था की संभावना होने पर, मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस लेना सबसे सुरक्षित तरीका है. आइए, मैटरनिटी इंश्योरेंस प्लान के बारे में सारी बातें जानें.

मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी क्या है?

मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस गर्भवती महिलाओं के प्रसव से जुड़े सभी खर्चों के साथ-साथ नवजात शिशुओं को भी कवर करता है. आप स्टैंडअलोन पॉलिसी के रूप में मैटरनिटी इंश्योरेंस कवरेज का लाभ उठा सकते हैं या इसे अपने अन्य प्लान में शामिल कर सकते हैं, जैसे अगर आपके पास है फैमिली हेल्थ इंश्योरेंस प्लान. आपके मौजूदा प्लान के लिए यह अतिरिक्त कवरेज, अतिरिक्त राइडर या ऐड-ऑन के रूप में हो सकता है. कुछ नियोक्ता ग्रुप इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत मैटरनिटी कवरेज का लाभ उठाने की सुविधा भी प्रदान करते हैं.

आपको मैटरनिटी इंश्योरेंस कवर क्यों चुनना चाहिए?

No one would want to compromise on the health facilities at any time. So, why hold back when it comes to welcoming a new life into this world? With a maternity insurance cover, you can ensure you get the best medical facilities, both for the mother as well as the new-born. Moreover, standardised medical treatments are no longer easily affordable and can break your bank. Having a pregnancy insurance policy ensures you get access to state-of-the-art medical procedures and can also take care of unforeseen complications. Medical professionals, too, charge hefty fees for consultation and surgery, if required. This can be an unexpected blow to your saving that otherwise can be used for your child’s future. A maternity insurance policy covers the fees paid to professionals like a gynaecologist, an anaesthetist, a paediatrician, and more. A maternity insurance cover also includes the cost of childbirth, and pre-natal as well as post-natal expenses. Some family health plans with मैटरनिटी के लाभ offer coverage for the newborn as early as 90 days after birth.

क्या रेगुलर हेल्थ इंश्योरेंस प्लान गर्भावस्था को कवर करता है?

You may be wondering whether your regular health insurance plan already covers pregnancy and related medical issues. * Now, whether your regular health plan covers pregnancy or not is mostly dependent on the insurer and the product you choose. In most cases, maternity coverage is provided as a part of टॉप-अप हेल्थ इंश्योरेंस प्लान. यह स्टैंडर्ड हेल्थ इंश्योरेंस पैकेज के हिस्से के रूप में प्रदान नहीं किया जाता. * आप मैटरनिटी इंश्योरेंस कवरेज के लिए संबंधित ऐड-ऑन चुन सकते हैं. हेल्थ इंश्योरेंस प्लान के तहत मैटरनिटी कवरेज के खर्च की लिमिट हो सकती है. उदाहरण के तौर पर, अगर आपकी रेगुलर हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी का सम इंश्योर्ड रु. 3 लाख से रु.7.5 लाख तक है, तो मैटरनिटी कवरेज की लिमिट, सामान्य डिलीवरी के लिए रु.15,000 और सीज़ेरियन डिलीवरी के लिए रु.25,000 हो सकती है [1]. *  इसके अलावा, मैटरनिटी कवर की प्रतीक्षा अवधि रेगुलर हेल्थ प्लान से भिन्न हो सकती है. इसलिए, मैटरनिटी कवर का विकल्प चुनने से पहले आपको इसके बारे में अच्छी तरह जान लेना चाहिए. *

मैटरनिटी इंश्योरेंस खरीदते समय क्या ध्यान रखना चाहिए?

मैटरनिटी इंश्योरेंस खरीदते समय ध्यान रखने लायक कुछ बातें निम्नलिखित हैं -

कवरेज

गर्भावस्था के लिए इंश्योरेंस को चुनने से पहले प्रदान किए जाने वाले कवरेज की जांच कर लें. बहुत से मैटरनिटी प्लान हेल्थ चेक-अप की सुविधा, गर्भावस्था से जुड़ा कोई भी मेडिकल टेस्ट, जन्म के समय हॉस्पिटलाइज़ेशन के साथ-साथ अचानक होने वाली एमरज़ेंसी स्थिति के लिए कवर प्रदान करते हैं. *

प्रतीक्षा अवधि

आमतौर पर मैटरनिटी इंश्योरेंस पॉलिसी और हेल्थ इंश्योरेंस में प्रतीक्षा अवधि से जुड़ा एक नियम होता है. इसका मतलब है कि पूर्व-निर्धारित अवधि पूरी करने के बाद ही इंश्योरेंस कवर के तहत कोई भी इलाज या चेक-अप शामिल किया जाएगा. इसलिए, सुझाव दिया जाता है कि मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस को पहले खरीद लें. *

नियम

पॉलिसी को सही से समझने के लिए, आपको अपनी पॉलिसी की सभी शर्तों को ध्यानपूर्वक पढ़ना चाहिए. इससे आपकी पॉलिसी का क्लेम अस्वीकार नहीं होगा, साथ ही पहले ही प्रत्येक पॉलिसी की अलग-अलग विशेषताओं की तुलना कर सकते हैं और पॉलिसी को अमान्य होने से बचा सकते हैं. *

क्लेम प्रोसेस

आप नहीं चाहेंगे कि गर्भावस्था के अंतिम समय में दर्जनों डॉक्यूमेंट इकट्ठा करने के लिए आपको इधर-उधर भागना पड़े या अपने इंश्योरेंस एजेंट को स्थिति के बारे में समझाने के लिए घंटों खराब करने पड़ें. इसलिए, आसान क्लेम फाइल करने की सुविधा और सेटलमेंट प्रोसेस बहुत आवश्यक है.  *

क्या मैटरनिटी इंश्योरेंस खरीदते समय प्रेग्नेंसी को पहले से मौजूद समस्या माना जाता है?

अधिकांश इंश्योरर प्रेग्नेंसी को पहले से मौजूद समस्या के रूप में मानते हैं और इसे पॉलिसी के कवरेज में शामिल नहीं करते. आपको शायद ही बिना प्रतीक्षा अवधि वाला मैटरनिटी कवर मिले, इसलिए आपको पहले से प्लान करना चाहिए और उसके हिसाब से एक मैटरनिटी कवर लेना चाहिए. आखिर में, ऐसा नहीं है कि मैटरनिटी कवर नहीं खरीदना चाहिए, क्योंकि इसमें प्रतीक्षा अवधि होती है. बल्कि सबसे अच्छा होगा कि हेल्थ इंश्योरेंस को जितनी जल्दी संभव हो सके खरीद लें, ताकि निर्धारित शर्तें पूरी हो सकें और माता और बच्चे को फाइनेंस की चिंता किए बिना डिलीवरी के समय सही मेडिकल सुविधा का लाभ मिल सकें.

मैटरनिटी इंश्योरेंस कवरेज में क्या कवर नहीं किया जाता?

यह जानना भी महत्वपूर्ण है कि आपके मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस कवरेज के तहत कौन सी चीज़ें कवर नहीं की जाती हैं. यहां कुछ चीज़ों के बारे में बताया गया है:

गर्भावस्था पर असर डालने वाली पहले से मौजूद बीमारियां

अगर आप किसी ऐसी मेडिकल समस्या से पीड़ित हैं, जिसका आपकी गर्भावस्था पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है, तो इसे मैटरनिटी कवरेज के तहत कवर नहीं किया जा सकता है. हालांकि, यह इंश्योरर के नियम और शर्तों पर निर्भर करता है. *

बांझपन के ट्रीटमेंट से संबंधित खर्च

अगर आप या आपके जीवनसाथी बांझपन से संबंधित ट्रीटमेंट कराना चाहते हैं, तो इसमें होने वाले खर्च कवर नहीं किए जाते. *

जन्मजात रोग

नवजात शिशु की आनुवांशिक और जन्मजात मेडिकल समस्याओं को कवर नहीं किया जाता. *

बिना डॉक्टर की पर्ची की दवाएं

आपको अपने स्वास्थ्य के लिए विटामिन और सप्लीमेंट लेने पड़ सकते हैं. अगर वे डॉक्टर द्वारा नहीं लिखे गए हैं, तो उन्हें मैटरनिटी इंश्योरेंस के तहत कवर नहीं किया जाता है. *

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

1. क्या मैटरनिटी इंश्योरेंस नवजात शिशुओं को भी कवर करता है?

हां, अधिकांश मैटरनिटी इंश्योरेंस प्लान में नवजात शिशु के लिए कवरेज शामिल होता है. मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस प्लान डॉक्यूमेंट के नियम और शर्तों में नवजात शिशुओं के कवरेज की अवधि और क्षतिपूर्ति की लिमिट की जानकारी मिल सकती है. *

2. मैटरनिटी इंश्योरेंस कवरेज के लिए आमतौर पर कितनी प्रतीक्षा अवधि होती है?

मैटरनिटी कवरेज की प्रतीक्षा अवधि प्रॉडक्ट के अनुसार अलग-अलग होती है. कुछ मामलों में, यह 72 महीने की हो सकती है, जबकि कुछ प्लान में केवल 12 महीनों की प्रतीक्षा अवधि पूरी करने के बाद मैटरनिटी कवरेज के तहत क्लेम करने की अनुमति मिल सकती है.   * मानक नियम व शर्तें लागू. बीमा आग्रह की विषयवस्तु है. लाभों, शामिल न की गई चीज़ों, सीमाओं, नियम और शर्तों के बारे में अधिक जानकारी के लिए, कृपया इंश्योरेंस खरीदने से पहले सेल्स ब्रोशर/पॉलिसी डॉक्यूमेंट को ध्यान से पढ़ें.

क्या आपको इस आर्टिकल से मदद मिली? इसे रेटिंग दें

औसत रेटिंग 5 / 5 वोटों की संख्या: 18

अभी तक कोई वोट नहीं मिले! इस पोस्ट को सबसे पहली रेटिंग दें.

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया?? इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें!

अपने विचार शेयर करें. एक कमेंट लिखें!

कृपया अपना जवाब दें

आपकी ईमेल आईडी प्रकाशित नहीं की जाएगी. सभी फील्ड आवश्यक हैं