रिस्पेक्ट सीनियर केयर राइडर: 9152007550 (मिस्ड कॉल)

सेल्स: 1800-209-0144 सर्विस चैट: +91 75072 45858

अंग्रेजी

Claim Assistance
Get In Touch
accidental death insurance guide
30 मार्च, 2023

एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस: कंप्लीट गाइड

दुर्घटनाएं कभी भी हो सकती हैं और गंभीर चोट या मृत्यु का कारण बन सकती हैं. भारत में दुर्घटनाओं से मृत्यु की दर पिछले कुछ वर्षों से बढ़ रही है. राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के अनुसार भारत में 2021 में दुर्घटनाओं में 3,97,530 मृत्यु हुईं. [1] ये दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं परिवारों को मानसिक रूप से और फाइनेंशियल रूप से तबाह कर देती हैं. भारत में दुर्घटना के कारण मृत्यु और अशक्तता होना आम है. कई मामलों में, परिवार के कमाऊ सदस्य की मृत्यु न भी हो तो भी वह अशक्त तो हो ही जाता है. यह मेडिकल इंश्योरेंस या एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस के महत्व को दर्शाता है. ऐसी दुर्भाग्यपूर्ण घटना के मामले में इससे परिवार को फाइनेंशियल मदद मिल सकती है.

एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस क्या है?

एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस एक प्रकार की इंश्योरेंस पॉलिसी है, जो आकस्मिक मृत्यु या विकलांगता के मामले में इंश्योर्ड व्यक्ति के परिवार को फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान देती है. इंश्योर्ड व्यक्ति के साथ दुर्घटना होने पर यह पॉलिसी, नॉमिनी को एक लंपसम राशि देती है. मिलने वाली राशि, सम अश्योर्ड और पॉलिसी के नियमों व शर्तों के आधार पर अलग-अलग होती है. लाभार्थी इस राशि का उपयोग अंतिम संस्कार के खर्चों, कर्ज़ों, या अन्य खर्चों के भुगतान में कर सकते हैं.

एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस के लाभ

आपको ये सभी लाभ तब मिलेंगे, जब आप खरीदेंगे एक्सीडेंट इंश्योरेंस प्लान:

·         फाइनेंशियल सुरक्षा

एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस इंश्योर्ड व्यक्ति के परिवार को फाइनेंशियल सुरक्षा देता है. दुर्घटना से इंश्योर्ड व्यक्ति की मृत्यु होने की स्थिति में, नॉमिनी को लंपसम राशि मिलती है, जिससे कर्ज़ चुकाने और दूसरे खर्चों में मदद होती है.

·         किफायती

एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस एक किफायती इंश्योरेंस पॉलिसी है. इस पॉलिसी की प्रीमियम राशि आमतौर पर अन्य प्रकार की इंश्योरेंस पॉलिसी से कम होती है.

·         आपके अनुकूल पॉलिसी

एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस पॉलिसी को व्यक्ति की आवश्यकताओं के अनुसार अनुकूल बना सकते हैं. पॉलिसीधारक अपनी ज़रूरतों के अनुसार सम अश्योर्ड और पॉलिसी के नियम व शर्तें चुन सकते हैं.

·         मेडिकल चेक-अप ज़रूरी नहीं

एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस पॉलिसी के लिए मेडिकल चेक-अप ज़रूरी नहीं होता है. यानी पहले से मौजूद मेडिकल स्थितियों से ग्रस्त लोग भी यह इंश्योरेंस पॉलिसी आसानी से पा सकते हैं.

·         टैक्स बेनिफिट्स

एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस के लिए चुकाई गई प्रीमियम राशि इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80सी के तहत टैक्स लाभ के लिए पात्र होती है. नॉमिनी को मिलने वाली भुगतान राशि भी टैक्स-फ्री होती है.**

एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस पॉलिसी के प्रकार

एक्सीडेंटल इंश्योरेंस प्लान के विभिन्न प्रकार निम्नलिखित हैं:

·         इंडिविजुअल एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस पॉलिसी

यह पॉलिसी केवल एक व्यक्ति को कवर करती है और दुर्घटना से इंश्योर्ड व्यक्ति की मृत्यु के मामले में नॉमिनी को भुगतान राशि चुकाती है.

·         ग्रुप एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस पॉलिसी

यह पॉलिसी कंपनी के कर्मचारियों जैसे लोगों के समूह को कवर करती है. दुर्घटना में इंश्योर्ड सदस्य की मृत्यु होने पर नॉमिनी को भुगतान राशि मिलती है.

इस पॉलिसी के तहत आपको क्या कवरेज मिलती है?

इस पॉलिसी के तहत मिलने वाली एक्सीडेंट इंश्योरेंस कवरेज इस प्रकार हैं:

·         एक्सीडेंटल डेथ कवर

पॉलिसीधारक की मृत्यु होने पर नॉमिनी को सम अश्योर्ड राशि का भुगतान किया जाएगा. इसे एक्सीडेंटल डेथ बेनिफिट के रूप में जाना जाता है.

·         पर्मानेंट डिसेबिलिटी कवर

अगर दुर्घटना के कारण पॉलिसीधारक स्थायी रूप से अशक्त हो जाते हैं, तो उन्हें पूर्व निर्धारित राशि का भुगतान किया जाएगा.

·         पर्मानेंट पार्शल डिसेबिलिटी कवर

अगर इंश्योर्ड व्यक्ति को दुर्घटना के कारण स्थायी आंशिक अशक्तता होती है, तो कंपनी 100% इंश्योर्ड राशि का भुगतान करती है.

·         पूर्ण अस्थाई विकलांगता

अगर इंश्योर्ड व्यक्ति दुर्घटना के कारण कुछ समय के लिए पूरी तरह अशक्त हो जाते हैं, तो इंश्योरेंस कंपनी उन्हें निर्धारित राशि का भुगतान करेगी.

एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस खरीदने से पहले ध्यान देने लायक बातें

आपको इन बातों पर विचार करना चाहिए, जब भी आप खरीदेंगे पर्सनल एक्सीडेंट इंश्योरेंस कवर:

·         सम अश्योर्ड

सम इंश्योर्ड इतना हो कि दुर्घटना से पॉलिसीधारक की मृत्यु होने पर परिवार की फाइनेंशियल ज़रूरतें पूरी हो जाएं.

·         पॉलिसी के नियम और शर्तें

एक्सीडेंट इंश्योरेंस कवरेज खरीदने से पहले पॉलिसी के नियम और शर्तों को पढ़ना और समझना महत्वपूर्ण है.

·         प्रीमियम राशि

प्रीमियम किफायती हो और पॉलिसीधारक के बजट में आता हो.

·         पॉलिसी में शामिल नहीं

पॉलिसीधारक को पॉलिसी डॉक्यूमेंट में लिखे एक्सक्लूज़न की जानकारी होनी चाहिए. जैसे, हो सकता है कि पॉलिसी आत्महत्या, दवा ओवरडोज़, या प्राकृतिक कारणों से हुई मृत्यु को कवर न करती हो. एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस पॉलिसी किफायती होती है और अपने अनुकूल बनाई जा सकती है, लेकिन अपनी ज़रूरतों के लिए सर्वश्रेष्ठ एक्सीडेंट इंश्योरेंस पॉलिसी चुनना महत्वपूर्ण है. हमारी सलाह है कि पहले विभिन्न पॉलिसी और उनकी विशेषताओं की तुलना करें और फिर फैसला लें. भविष्य में कोई समस्या न हो, इसके लिए इंश्योरेंस कंपनी को सारी संबंधित जानकारी, जैसे पहले से मौजूद मेडिकल समस्याओं की जानकारी देना भी ज़रूरी है.

संक्षेप में

दुर्घटनाएं कभी भी हो सकती हैं और इंश्योर्ड व्यक्ति के परिवार को गंभीर फाइनेंशियल और भावनात्मक परेशानी में डाल सकती हैं. एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस, दुर्घटना से मृत्यु होने पर परिवार को फाइनेंशियल सुरक्षा देता है. यह एक किफायती इंश्योरेंस पॉलिसी है, जिसे व्यक्ति की ज़रूरतों के अनुसार कस्टमाइज़ किया जा सकता है. दुर्घटनाओं के लिए मेडिकल इंश्योरेंस खरीदने से पहले कवरेज राशि, पॉलिसी के नियम और शर्तों, प्रीमियम राशि और पॉलिसी डॉक्यूमेंट में दर्ज अपवादों पर विचार करना महत्वपूर्ण है. एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस खरीदकर आप अनहोनी होने पर अपने परिवार को फाइनेंशियल सुरक्षा दे सकते हैं. अंत में, एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस एक आवश्यक प्रकार की इंश्योरेंस पॉलिसी है, जो दुर्घटनावश मृत्यु के मामले में इंश्योर्ड व्यक्ति के परिवार को फाइनेंशियल सहायता प्रदान करती है. यह एक किफायती और कस्टमाइज़ की जा सकने वाली इंश्योरेंस पॉलिसी है, जिसमें व्यक्ति की ज़रूरतों के अनुसार फेर-बदल किए जा सकते हैं. हालांकि, एक्सीडेंटल डेथ इंश्योरेंस खरीदने से पहले सम अश्योर्ड, पॉलिसी के नियमों और शर्तों, प्रीमियम राशि और एक्सक्लूज़न के बारे में ठीक से जानना ज़रूरी है. सही पॉलिसी चुनकर आप अनहोनी होने पर अपने परिवार को फाइनेंशियल सुरक्षा दे सकते हैं. ** टैक्स लाभ लागू टैक्स कानूनों में बदलाव के अधीन हैं. बीमा आग्रह की विषयवस्तु है. लाभों, शामिल न की गई चीज़ों, सीमाओं, नियम और शर्तों के बारे में अधिक जानकारी के लिए, कृपया इंश्योरेंस खरीदने से पहले सेल्स ब्रोशर/पॉलिसी डॉक्यूमेंट को ध्यान से पढ़ें.

क्या आपको इस आर्टिकल से मदद मिली? इसे रेटिंग दें

औसत रेटिंग 5 / 5 वोटों की संख्या: 1

अभी तक कोई वोट नहीं मिले! इस पोस्ट को सबसे पहली रेटिंग दें.

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया?? इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें!

अपने विचार शेयर करें. एक कमेंट लिखें!

कृपया अपना जवाब दें

आपकी ईमेल आईडी प्रकाशित नहीं की जाएगी. सभी फील्ड आवश्यक हैं