रिस्पेक्ट सीनियर केयर राइडर: 9152007550 (मिस्ड कॉल)

सेल्स: 1800-209-0144 सर्विस चैट: +91 75072 45858

अंग्रेजी

Claim Assistance
Get In Touch
Types of Commercial Insurance
31 मार्च, 2021

कमर्शियल इंश्योरेंस के प्रकार

कमर्शियल इंश्योरेंस सबसे कम्प्रीहेंसिव इंश्योरेंस प्लान में से एक है, जो बिज़नेस की किसी अप्रत्याशित नुकसान को कम करने में मदद करने के लिए बनाया गया है. आमतौर जैसे-जैसे बिज़नेस का विभिन्न भौगोलिक क्षेत्रों और मार्केट में विस्तार होता जाता है, उनकी फाइनेंशियल जोखिम बढ़ता जाता है. ऐसे में कमर्शियल इंश्योरेंस बड़े बिज़नेस के लिए अधिक सुरक्षा प्रदान कर सकता है. इसका मतलब यह नहीं है कि छोटी कंपनियां कमर्शियल इंश्योरेंस से लाभ नहीं उठा सकती हैं. इस इंश्योरेंस कॉन्ट्रैक्ट से विभिन्न भौगोलिक क्षेत्रों और उद्योगों में काम करने वाले सभी आकार के बिज़नेस के लिए सुरक्षा प्राप्त की जा सकती है. आपको कमर्शियल इंश्योरेंस से बिज़नेस के लिए जो लाभ मिलता है, वह बिज़नेस से जुड़े जोखिमों और बिज़नेस द्वारा लिए गए इंश्योरेंस के प्रकार पर निर्भर करता है. क्योंकि, अलग-अलग बिज़नेस के जोखिम अलग-अलग हो सकते हैं, इसलिए कमर्शियल इंश्योरेंस के प्रकारों को समझना सही होता है.

कमर्शियल इंश्योरेंस के प्रकार क्या हैं?

अधिकांश बिज़नेस ऑपरेटर इस बात से अपना रिसर्च शुरू करते हैं कि – कौन से प्रकार के कमर्शियल इंश्योरेंस प्रॉडक्‍ट मार्केट में उपलब्ध हैं?? यह प्रश्न सही है, लेकिन तर्क सही नहीं है. उनका पहला फोकस कुछ जोखिमों की संभावनाओं पर होना चाहिए. इसके बाद, वे उन विशेष जोखिमों को कम करने वाले इंश्योरेंस प्रॉडक्ट की तलाश कर सकते हैं. वैसे बिज़नेसमेन और ऑपरेटर्स, जो विभिन्न कमर्शियल इंश्योरेंस के प्रकार जैसे प्रॉडक्ट खरीदने में रुचि रखते हैं, उनके लिए उपलब्ध इंश्योरेंस की सामान्य लिस्ट यहां दी गई है:
  1. थर्ड-पार्टी लायबिलिटी इंश्योरेंस: इस तरह के इंश्योरेंस प्रॉडक्ट, बिज़नेस को अन्य बिज़नेस के प्र‍ति उनकी देयताओं के लिए कवर करते हैं. उदाहरण के लिए, अगर किसी फैक्ट्री में आग लग जाती है, तो फैक्ट्री-मालिक को इन्वेंट्री के एक महत्वपूर्ण हिस्‍से का नुकसान हो सकता है. इससे, उस फैक्ट्री के किसी खरीदार को सरकारी कॉन्‍ट्रैक्‍ट में देरी होने के लिए दंड का भुगतान करना पड़ सकता है और इसलिए उसे फैक्ट्री-मालिक के खिलाफ क्लेम फाइल हो सकता है. थर्ड-पार्टी लायबिलिटी इंश्योरेंस फैक्ट्री-मालिक के हितों की रक्षा कर सकता है और संबंधित खरीदार के लिए क्षतिपूर्ति प्रदान कर सकता है.
 
  1. छोटे और मध्यम आकार के बिज़नेस ऑपरेटरों के लिए इंश्योरेंस: छोटे और मध्यम आकार के बिज़नेस को चोरी, प्राकृतिक आपदाओं या संगठित अपराध जैसे कई जोखिमों का एक साथ सामना करना पड़ सकता है. कमर्शियल इंश्योरेंस ऐसे जोखिमों के लिए उन बिज़नेस-मालिकों को पर्याप्त कवर प्रदान कर सकता है, जिनकी पूरी संपत्ति बिज़नेस में लगी होती है.
 
  1. फिक्स्ड एसेट (प्लांट और मशीनरी, ऑफिस इक्विपमेंट) के लिए इंश्योरेंस /strong>: प्लांट और मशीनरी और ऑफिस इक्विपमेंट में टूट-फूट और मूल्‍य में कमी आना सामान्य बात है, लेकिन, कोई उपकरण खराब होने से पूरा बिज़नेस प्रोसेस रुक जाता है. कमर्शियल इंश्योरेंस कवरेज कंपनी को फिक्स्ड एसेट की मरम्मत के लिए जमा कैश का उपयोग करने से बचा सकता है.
 
  1. एक जगह से दूसरे जगह सामान भेजने के लिए इंश्योरेंस (कार्गो, ट्रांजिट और मरीन इंश्योरेंस): ट्रांजिट के दौरान, सामान किसी दुर्घटना में क्षतिग्रस्त हो सकता है, किसी संगठित अपराधी गिरोह द्वारा चुराया जा सकता है, या प्राकृतिक आपदा के कारण बेकार हो सकता है. खरीद, आपूर्ति और लॉजिस्टिक्स क्षेत्र के बिज़नेस के ट्रांजिशन में इस तरह का काफी जोखिम होता है. इंश्योरेंस प्रॉडक्ट जैसे, कार्गो इंश्योरेंस, ट्रांजिट इंश्योरेंस, और मरीन इंश्योरेंस ट्रांज़ैक्शन में शामिल अधिकांश बिज़नेस की सुरक्षा कर सकते हैं.
 
  1. साइबर खतरों के खिलाफ इंश्योरेंस: साइबर हमले अब पहले से कहीं अधिक आधु‍निक तरीकों से किए जा रहे हैं. यहां तक कि साइबर सुरक्षा टीमों वाले उद्यमों को भी मालवेयर, रैंसमवेयर और अन्य अटैक से संबंधित हमले होने का जोखिम होता है. इसमें कमर्शियल इंश्योरेंस कवर आपकी मदद कर सकता है और किसी हमले के बाद टेक्नोलॉजी को अपग्रेड करने, ब्रांड इक्विटी को हुए नुकसान से निपटने के लिए किसी विशेषज्ञ को हायर करने, प्रोफेशनल व्यक्ति को नियुक्त करने और बिज़नेस को अपने कस्टमर्स और कर्मचारियों की बकाया थर्ड पार्टी देनदारियों की लागत का भुगतान करने में भी मदद कर सकता है.
 
  1. कर्मचारियों की सुरक्षा और कर्मचारियों के जोखिम से बिज़नेस की सुरक्षा: फैक्ट्री के कर्मचारी अक्सर भारी मशीनरी के साथ काम करते हैं. मैनेजमेंट टीम द्वारा सावधानी बरते जाने के बावजूद, प्लांट से संबंधित छोटी सी समस्या भी कर्मचारियों के स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकती है. कर्मचारी के लिए कमर्शियल जनरल लायबिलिटी इंश्योरेंस लेकर क्षतिपूर्ति से बिज़नेस की सुरक्षा की जा सकती है और ऐसी स्थितियों में कर्मचारियों को देय राशि प्रदान किया जा सकता है.
  साथ ही, अगर किसी बड़ी कंपनी के डायरेक्टर को आपराधिक गतिविधियों में संलिप्त पाया जाता है, तो सामान्य शेयरधारक फर्म से संभावित क्षति के कारण मुआवज़े की मांग कर सकते हैं. यहां, डायरेक्टर्स और ऑफिसर लायबिलिटी इंश्योरेंस कवर शेयरधारकों को मुआवज़ा देने में फर्म की मदद कर सकता है.  
  1. फायर एंड बर्गलरी इंश्योरेंस: ये दो सबसे सामान्य उदाहरण हैं, जिनकी वजह से किसी बिज़नेस में बहुत सारी पूंजी खर्च हो जाती है. सभी तरह के बिज़नेस को ऐसे जोखिम की संभावना रहती है. कमर्शियल इंश्योरेंस पॉलिसी लेकर ऐसे जोखिमों से उद्यमों को कवर किया जा सकता है.
 

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

  1. क्या कार्गो इंश्योरेंस और ट्रांजिट इंश्योरेंस समान हैं?
हां. यह दोनों लगभग एक समान हैं, जिनको कहते हैं कमर्शियल इंश्योरेंस के प्रकार.  
  1. मरीन इंश्योरेंस और फायर इंश्योरेंस में क्या अंतर है?
जैसा कि नाम से पता चलता है, फायर इंश्योरेंस दुर्घटना, अचानक प्राकृतिक आपदा या लापरवाही के कारण लगने वाली आग से होने वाले जो‍खिम से बिज़नेस के हितों की सुरक्षा करता है. मरीन इंश्योरेंस एक बेहतर कम्प्रीहेंसिव इंश्योरेंस प्रॉडक्ट है, जो मरीन रूट का उपयोग करने वाले ट्रांजिट में माल की चोरी, आग से होने वाली क्षति, प्राकृतिक आपदाओं और अन्य जोखिमों से कवर करता है.

क्या आपको इस आर्टिकल से मदद मिली? इसे रेटिंग दें

औसत रेटिंग 0 / 5 वोटों की संख्या: 0

अभी तक कोई वोट नहीं मिले! इस पोस्ट को सबसे पहली रेटिंग दें.

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया?? इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें!

अपने विचार शेयर करें. एक कमेंट लिखें!

कृपया अपना जवाब दें

आपकी ईमेल आईडी प्रकाशित नहीं की जाएगी. सभी फील्ड आवश्यक हैं